1. home Home
  2. national
  3. defense minister rajnath singh warns pakistan from pithoragarh rts

पिथौरागढ़ से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दी पाकिस्तान को चेतावनी, बीजेपी की शहीद सम्मान यात्रा का आगाज

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पिथौरागढ़ से शहीद सम्मान यात्रा का आगाज किया. इसके साथ ही अपने संबोधन में उन्होंने पाकिस्तान और उसके नापाक हरकतों को लेकर चेताया और कहा कि भारत पलटवार करने को तैयार है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पिथौरागढ़ से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
पिथौरागढ़ से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
ANI

भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को पिथौरागढ़ दौरे पर उत्तराखंड पहुंचे. यहां से उन्होंने बीजेपी के शहीद सम्मान समारोह का भी आगाज किया. इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान को चेताया और पलटवार की धमकी भी दी. बता दें उत्तराखंड में बहुत जल्द विधानसभा चुनाव होने वाले हैं जिसे देखते हुए सियासी हलचल तेज हो गई है.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पिथौरागढ़ पहुंच कर सबसे पहले शहीद कुंडल सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की. साथ ही शहीद के माता पिता से भी मिले. वहीं अपने संबोधन में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि ‘पाकिस्तान भारत में शांति को अस्थिर करने के लिए हर संभव प्रयास करता है लेकिन हमने उन्हें स्पष्ट संदेश दिया है कि हम पलटवार करेंगे. यह एक नया और शक्तिशाली भारत है’. उन्होंने कहा कि18 नवंबर को मैं रेजांग एलए गया जहां मुझे बताया गया कि कुमाऊं बटालियन के 124 जवानों द्वारा किए गए चमत्कार के बारे में... इसे कभी भुलाया नहीं जा सकता. मुझे बताया गया कि 114 जवान शहीद हुए, लेकिन उन्होंने 1200 से अधिक चीनी सैनिकों को मार डाला.

शहीद सम्मान समारोह में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट, सांसद अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ अजय टम्टा, कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी और पेयजल मंत्री बिशन सिंह चुफाल मौजूद रहे.

बता दें कि शहीद सम्मान समारोह का आगाज करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि उत्तराखंड में चार धाम है अगर सैन्य धाम बना तो ये पांचवां धाम होगा. इस धाम में शहीदों के घरों की मिट्टी होगी. सैन्य धाम में शहीदों और उनके गांवों के नाम भी लिखे जाएंगे. बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट उत्तराखंड में पांचवें धाम के रूप में सैन्य धाम बनाने के लिए जिला प्रशासन ने पुरुकुल में भूमि हस्तांतरित कर दी है. सैन्य धाम में एक भव्य स्मारक के साथ म्यूजियम, बहादुरी पदक गैलरी, महत्वपूर्ण लड़ाइयों का विवरण और सेना से जुड़े दूसरे कई साजो सामान की भी प्रदर्शित किया जाएगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें