17.1 C
Ranchi
Friday, February 23, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeदेशकोरोना के नये वैरिएंट JN.1 से इन लोगों को सबसे ज्यादा खतरा, WHO भी चिंतित, नये साल के जश्न...

कोरोना के नये वैरिएंट JN.1 से इन लोगों को सबसे ज्यादा खतरा, WHO भी चिंतित, नये साल के जश्न पर भी पहरा

कोविड-19 के नये वैरिएंट जेएन.1 के 22 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें से 21 मामले गोवा जबकि एक केरल से सामने आया. सूत्रों ने बताया कि गोवा में किसी जगह जेएन.1 स्वरूप तेजी से नहीं फैला है और इससे संक्रमित व्यक्ति ठीक हो चुके हैं और उन्हें संक्रमण संबंधी कोई जटिलता नहीं है.

कोरोना के नये वैरिएंट JN.1 से लगातार खतरा बढ़ता जा रहा है. देश में अबतक नये वैरिएंट के 22 मामले सामने आ चुके हैं. जिसमें सबसे ज्यादा गोवा में पाए गए हैं. जबकि उसके बाद केरल में भी इसका खतरा बना हुआ है. नये वैरिएंट को लेकर WHO ने भी चिंता जताई है. WHO ने के अनुसार पिछले चार सप्ताह में दुनिया भर में कोरोना के 52 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है.

कोरोना के नये वैरिएंट से WHO भी चिंतित

कोरोना के नये वैरिएंट को लेकर WHO ने भी गहरी चिंता जताई है. डब्ल्यूएचओ के अनुसार पिछले चार हफ्तों के दौरान नये कोरोना ​​​​मामलों की संख्या में 52 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. इस दौरान 850,000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं. डब्ल्यूएचओ ने लोगों को संक्रमण से बचने की सलाह दी है. भीड़-भाड़ वाले, बंद इलाकों में मास्क पहनना, दूसरों से सुरक्षित दूरी बनाए रखना, नियमित रूप से हाथ साफ करना और यदि किसी में कोई लक्षण हो या हो तो परीक्षण कराना शामिल है.

देश में कोरोना के नये वैरिएंट के 22 नये मामले

कोविड-19 के नये वैरिएंट जेएन.1 के 22 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें से 21 मामले गोवा जबकि एक केरल से सामने आया. सूत्रों ने बताया कि गोवा में किसी जगह जेएन.1 स्वरूप तेजी से नहीं फैला है और इससे संक्रमित व्यक्ति ठीक हो चुके हैं और उन्हें संक्रमण संबंधी कोई जटिलता नहीं है.

Also Read: क्या इम्यूनिटी पर हावी पड़ रहा है कोरोना का JN1 वेरिएंट, इसके लक्षणों के बारे में जानना जरूरी

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 4 लोगों की मौत

भारत में बीते 24 घंटे में कोविड-19 के 752 नये मामले दर्ज किए गए. जिससे मरीजों की संख्या बढ़कर 3,420 हो गई है. देश में 21 मई 2023 के बाद से एक दिन में सामने आए कोरोना वायरस संक्रमण के ये सबसे अधिक मामले हैं. देश में बीते 24 घंटे में संक्रमण से चार लोगों की मौत हो गई. मरने वालों में केरल में दो, राजस्थान और कर्नाटक में कोविड-19 से एक-एक मरीज की मौत हुई है.

क्या है कोरोना के नये वैरिएंट के लक्ष्ण

कोरोना वायरस के नये वैरिएंट से जो लोग इसकी चपेट में आए, उनके ऊपरी श्वसन तंत्र में हल्का संक्रमण हुआ और हल्की सूखी खांसी, गला खराब होना जैसे लक्षण दिखे तथा बुखार नहीं आया.

कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर क्रिसमस, नए साल पर एहतियात बरतने की सलाह

कोरोना वायरस के मामले जिस तरह से देशभर में बढ़ रहे हैं, नये साल के जश्न और क्रिसमस को लेकर एहतियात बरतने की सलाह दी गई है. गाजियाबाद और नोएडा में संक्रमण का एक-एक मामला सामने आने के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग ने परामर्श जारी कर लोगों को कोविड-19 से बचाव संबंधी प्रोटोकॉल का पालन करने की सलाह दी है. लोगों को भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचना की सलाह दी गई है. सार्वजनिक जगहों पर सामाजिक दूरी का पालन, मास्क का उपयोग जैसे कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देशों का का पालन करने का सुझाव दिया है.

इन बीमारी से ग्रसित लोगों को सतर्क रहने की जरूरत

स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ अमित कुमार ने कहा कि क्रिसमस और नए साल के जश्न के दौरान कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देशों का ध्यान रखना जरूरी है, इससे संक्रमण बढ़ने से रोकने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि मधुमेह, टीबी, कैंसर, अस्थमा या किसी अन्य बीमारी से ग्रसित लोगों को सतर्क रहने की आवश्यकता है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें