1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus outbreak in india latest news update modi government is thinking for end country lockdown work progress on new plan amid covid 19 pandemic

कोरोना: लॉकडाउन खत्म करने पर विचार कर रही है मोदी सरकार, बन रहा नया प्लान!

By Utpal Kant
Updated Date
कोरोनावायरस के कारण भारत 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है.
कोरोनावायरस के कारण भारत 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है.
PTI

कोरोनावायरस के कारण भारत 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है. लॉकडाउन की मियाद जैसे जैसे आगे बढ़ रही है वैसे वैसे सभी के जेहन में ये सवाल उठ रहा है कि क्या लॉकडाउन समाप्त हो जाएगा या फिर इटली और अन्य देशों की तरह बढ़ा दिया जाएगा. सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय मंत्रियों का समूह लॉकडाउन हटाने के विकल्पों पर विचार विमर्श कर रहा है. इस समूह की अध्यक्षता रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कर रहे हैं. उन्होंने शुक्रवार को ही कई मंत्रियों के साथ बैठक की थी. इसी दिन प्रधानमं6ी नरेंद्र मोदी ने बी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से भी बात की थी. तब बी इस मसले पर उन्होंने राय मांगी थी. केंद्रीय मंत्रियों का समूह यह मान रहा है कि देश में लॉकडाउन की स्थिति को लंबे समय तक नहीं रखा जा सकता है.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, 14 अप्रैल के बाद भारत में रेल सेवा बहाल होगी या नहीं, उस पर फैसला नहीं हो पाया है. हालंकि बुकिंग शुरू कर दी गई है. एयर इंडिया ने 30 अप्रैल तक बुकिंग निरस्त कर रखा है. बता दें कि भारत में 700 से ज्यादा में 200 ज़िलों में कोरोना वायरस का संक्रमण पहुंच चुका है.कोरोना वायरस के बारे में पहले कहा जा रहा था कि इससे बुर्ज़ुगों को सबसे ज़्यादा खतरा है. लेकिन भारत में इसकी चपेट में युवा लोग ज्यादा आ रहे हैं. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक कहा गया है कि भारत में सबसे ज्यादा यानी 41 प्रतिशत मरीज 21 से 40 साल के बीच के हैं. केंद्रीय मंत्रियों का समूह इस बात पर विचार कर रहा कि क्या देश में लिमिटेड लॉकडाउन किया जा सकता है.

देश में नौ दिन लॉकडाउन होने के बाद मुख्यमंत्रियों से मुखातिब पीएम मोदी ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो लिमिटेड लॉकडाउन का भी सहारा लिया जा सकता है. लेकिन ये लिमिटेशन 14 अप्रैल के हालात पर निर्भर करेगा कि कोरोना संक्रमण का देश में क्या हाल है. किस राज्य के किस हिस्से में कितने लोग चपेट में हैं. इस बैठक में कई लोगों ने सुझाव दिया कि पूर्ण लॉकडाउन से बेहतर है उन क्षेत्रों की पहचान करना जहां कोरोना सबसे ज्यादा है. उन खास क्षेत्रों-इलाकों को ही ज्यादा सतर्कता के साथ लॉकडाउन किया जाना चाहिए. ताकि संक्रमण को पूरी तरह से रोका जा सके.

सरकारी सूत्रों ने कहा कि आने वाले दिनों में संक्रमित क्षेत्रों की पहचान हो गयी तो वहां रह रहे हजार-दो हजार लोगों को लॉकडाउन कर बाकी जगहों से पाबंदी हटा दी जाएगी. इसका एक फायदा ये होगा कि उस खास क्षेत्र में सरकार के सभी साधनों की उपलब्धता होगी. सरकारी मशीनरी फोकस हो कर वहां काम करेगी जिससे संकट जल्द ही खत्म होगा. बता दें कि लॉकडाउन के बीच कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़े हैं. आज और अभी के रिपोर्ट के मुताबिक, देश में कोरोना के कुल 3374 मामले हैं. इनमें से 77 लोगों की मौत हो चुकी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें