1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus outbreak complete 1 year of corona virus whole world was destroyed due to chinas disease covid 19 ka ek sal pura avd

Coronavirus Outbreak : कोरोना वायरस का 1 साल पूरा, चीन की बीमारी से ऐसे तबाह हो गयी पूरी दुनिया

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
covid-19 1 year complete
covid-19 1 year complete
twitter

covid-19 1 year complete : कोरोना वायरस (Coronavirus) का एक साल पूरा हो गया. आज ही के दिन चीन के बुहान शहर में कोरोना का पहला मामला सामने आया था. हालांकि चीन ने इससे पूरी दुनिया को अछूता रखा और 21 दिनों के बाद चीन ने पहली बार इसके बारे में बताया. 27 दिसंबर को हुबेई के एक अस्पताल के डॉक्टर जैंग जिक्सियन ने बताया था कि कोरोना नाम के वायरस की वजह से लोग संक्रमित हो रहे हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन ( who) के अनुसार चीन में पहला पॉजिटिव केस 8 दिसंबर को रिपोर्ट किया गया था.

बहरहाल पिछले एक साल से पूरी दुनिया इस महामारी से लड़ रही है. करोड़ों लोग इस बीमारी से अब तक संक्रमित हो चुके हैं, तो लाखों की संख्या में लोगों ने अपनी जान गंवायी. कोरोना की वजह से 3-4 महीने तक लॉकडाउन रहा और लोग अपने घर के अंदर कैद होने के लिए मजबूर हो गये.

चीन बना विलेन, विश्व स्वास्थ्य संगठन भी आया निशाने पर

कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर चीन पूरी दुनिया के निशाने पर आया. अमेरिका ने तो खुलकर कोरोना के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराया और विश्व स्वास्थ्य संगठन पर भी निशाना साधा. अमेरिका ने डब्ल्यूएचओ से इसलिए नाता तोड़ लिया, क्योंकि उसपर चीन का साथ देने का आरोप लगा. अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने डब्ल्यूएचओ की फंडिंग भी रोक दी.

कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक तबाह

कोरोना से सबसे अधिक अमेरिका तबाह हुआ. अमेरिका में कोरोना से करीब 1 करोड़ लोग अबतक संक्रमित हो चुके हैं और करीब ढाई लाख लोगों की मौत हो गयी. अमेरिका में अब भी संक्रमण कम नहीं हुआ है. रोजाना वहां सवा लाख लोग अब भी संक्रमित हो रहे हैं.

भारत दूसरा सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देश

दुनिया में सबसे अधिक कोरोना से प्रभावित देशों की सूची में भारत दूसरे नंबर पर है. अमेरिका के बाद कोरोना ने भारत को ही सबसे अधिक तबाह किया है. अब तक भारत में करीब 88 लाख लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं और करीब सवा लाख लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि अन्य देशों की तुलना में भारत में कोरोना से बहुत कम लोगों की मौत हुई है और अब देश धीरे-धीरे जंग जीत भी रहा है.

कोरोना ने बदल दिया जीने का ढंग

कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को जीने का ढंग ही बदल दिया. पिछले एक साल में कोरोना के कारण लोगों के जिंदगी जीने का तरीका ही बदल गया है. मास्क, सेनेटाइजर और सामाजिक दूरी लोगों का सहारा बन गया. बाहर के बने सामान का लोग अब सुरक्षित तरीके से इस्तेमाल कर रहे हैं. लोग अब अपने स्वास्थ्य को लेकर अधिक जागरूक नजर आ रहे हैं. बाहर और खुले में बने खाने से लोग परहेज कर रहे हैं.

स्कूल से दूर हुए बच्चे, इंटरनेट बना सहारा

कोरोना संक्रमण से सबसे अधिक प्रभाव शिक्षा पर पड़ा है. पिछले 8-9 महीने से स्कूलें बंद हैं. बच्चे घर पर ही ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए मजबूर हैं. जिस मोबाइल और इंटरनेट से बच्चों को दूर रहने की सलाह दी जाती थी, आज के समय में वही शिक्षा का सहारा बन गया है.

कोरोना ने कई लोगों को किया बेघर, तो हजारों की चली गयी नौकरी

कोरोना संकट में कई लोगों का घर तबाह हो गया. कितने गरीब का घर उजड़ गया, तो कितने लोगों की इस दौरान नौकरी चली गयी. हालांकि इस दौरान कई लोग मसीहा बनकर सामने आये और लोगों की मदद भी की. लंबे समय तक बाजार बंद रहने से लोगों के व्यापार पर भी असर पड़ा.

Posted By - Arbind Kumar Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें