1. home Hindi News
  2. national
  3. corona virus ministry of health infection recovery rate government of india

Coronavirus Outbreak : 24 घंटे में 9 हजार से अधिक लोग हुए स्वस्थ, रिकवरी रेट 54 फीसद से ज्यादा

By Agency
Updated Date
pti photo

नयी दिल्ली : भारत में शनिवार को कोविड-19 के एक दिन में सर्वाधिक 14,516 नए मामलों के सामने आने के साथ देश में संक्रमितों की कुल संख्या 3,95,048 पर पहुंच गई है. जून माह में ही दो लाख से अधिक संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं.

वहीं, संक्रमण से मौत के 375 नए मामलों के साथ मृतकों का आंकड़ा 12,948 हो गया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय आंकड़ों के अनुसार बीते 24 घंटे 9,120 लोगों के ठीक होने के बाद संक्रमण से उबर चुके लोगों की कुल संख्या 2,13,830 हो गई है. जबकि 1,68,269 मरीजों का अब भी इलाज चल रहा है. एक रोगी देश छोड़कर जा चुका है. एक अधिकारी ने कहा, ‘‘इस तरह अब तक करीब 54.12 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.''

.

संक्रमण के कुल मामलों में विदेशी भी शामिल हैं. देश में लगातार नौवें दिन संक्रमण के 10 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं. गत एक जून से 20 जून के बीच देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के दो लाख से अधिक मामले सामने आए हैं. महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात और उत्तर प्रदेश देश के शीर्ष पांच राज्यों में शामिल हैं जहां कोविड-19 के मामलों में सबसे अधिक इजाफा देखा गया है.

इस बीच, दवा कंपनी ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स ने कोविड-19 से मामूली रूप से पीड़ित मरीजों के इलाज के लिए एंटीवायरल दवा फेविपिराविर को फैबिफ्लू ब्रांड नाम से पेश किया है. इसकी कीमत प्रति टैबलेट 103 रुपये होगी. ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स ने शनिवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि यह दवा 200 एमजी में उपलब्ध होगी. इसके 34 टैबलेट के पत्ते की कीमत 3,500 रुपये होगी.

कंपनी ने कहा कि फैबिफ्लू कोविड-19 के इलाज के लिए फेविपिराविर दवा है, जिसे मंजूरी मिली है. यह दवा चिकित्सक की सलाह पर 103 रुपये प्रति टैबलेट के दाम पर मिलेगी. पहले दिन इसकी 1800 एमजी की दो खुराक लेनी होगी. उसके बाद 14 दिन तक 800 एमजी की दो खुराक लेनी होगी. कंपनी इन टैबलेट का उत्पादन अपने हिमाचल प्रदेश के बद्दी संयंत्र में कर रही है. यह दवा अस्पतालों के अलावा खुदरा चैनलों के जरिये भी उपलब्ध होगी.

वहीं, कोविड-19 के कारण शुक्रवार सुबह तक 375 लोगों की मौत हुई है, इनमें से 142 की मौत महाराष्ट्र में, 66 की दिल्ली में, 41 की तमिलनाडु में, 27 की गुजरात में, 23 की उत्तर प्रदेश में, 11 की पश्चिम बंगाल में, 10-10 की राजस्थान, कर्नाटक और हरियाणा में, नौ-नौ लोगों की मध्य प्रदेश और पंजाब में, छह की बिहार में, चार-चार की आंध्र प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में तथा तीन लोगों की मौत तेलंगाना में हुई.

अमेरिका, ब्राजील और रूस के बाद भारत वैश्विक महामारी कोविड-19 से सर्वाधिक प्रभावित चौथा देश है. अमेरिका के जॉन हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के मुताबिक कोरोना वायरस संक्रमण से मौत के मामले में बुरी तरह प्रभावित देशों में भारत आठवें स्थान पर है.

कोविड-19 के कारण देश में अब तक 12,948 लोगों की मौत हुई है जिनमें सर्वाधिक 5,893 लोगों की मौत महाराष्ट्र में, 2,035 लोगों की मौत दिल्ली में, 1,618 की मौत गुजरात में, 666 की मौत तमिलनाडु में, 529 की पश्चिम बंगाल में, 495 संक्रमितों की मौत मध्य प्रदेश में, 488 मरीजों की मौत उत्तर प्रदेश में, 333 की मौत राजस्थान में तथा 198 संक्रमितों की मौत तेलंगाना में हुई. कोविड-19 के कारण हरियाणा में 144 लोगों की मौत हुई, कर्नाटक में 124 लोगों की मौत हुई, आंध्र प्रदेश में 96 की मौत, पंजाब में 92 की मौत,

जम्मू-कश्मीर में 75 की मौत, बिहार में 50 की मौत, उत्तराखंड में 26 की मौत, केरल में 21 की तथा ओडिशा में 11 लोगों की मौत हुई. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक झारखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण 11 , छत्तीसगढ़ 10,असम में 9, हिमाचल प्रदेश में 8,पुडुचेरी में 7, चंडीगढ़ में 6 तथा मेघालय, त्रिपुरा और लद्दाख में एक-एक मरीज की मौत हुई है.

मंत्रालय ने कहा कि संक्रमण के कारण मौत के 70 फीसदी से अधिक मामलों में मरीज अन्य बीमारियों से भी ग्रस्त थे. मंत्रालय ने कहा कि सरकारी प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़कर 715 हो गई है जबकि निजी प्रयोगशालाओं की संख्या 259 की गई है. अबतक कुल 66,16,496 लोगों के नमूनों की जांच की जा चुकी है. बीते 24 घंटे में 1,89,869 नमूनों की जांच की गई हैं

Posted By- Pankaj Kumar Pathak

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें