1. home Hindi News
  2. national
  3. corona vaccine covishield to be ready for vaccination from next week ceo of serum institute of india adar poonawala said this aml

Corona Vaccine: अगले हफ्ते से टीकाकरण के लिए तैयार होगा ‘कोविशील्ड', पूनावाला ने कही यह बात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Coronavirus Vaccine
Coronavirus Vaccine
Twitter

पुणे : सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) अदार पूनावाला (Adar Poonawala) ने कहा कि ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका का कोविड-19 टीका ‘कोविशील्ड' अगले सप्ताह से टीकाकरण के लिए तैयार है. भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने आज ही देश में दो कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दी है. इनमें सीरम इंस्टीट्यूट के टीके कोविशील्ड (Covishield) को भी मंजूरी दी गयी है. साथ ही भारत बायोटेक के वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) को भी मंजूरी मिल गयी है.

डीसीजीआई ने हालांकि यह नहीं बताया है कि भारत में टीकाकरण कब से शुरू होगा. लेकिन मंजूरी के ठीक बाद सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला का बयान सामने आया है कि उनकी वैक्सीन अगले सप्ताह से टीकाकरण के लिए तैयार होगा. पूनावाला ने ट्वीट किया, ‘सभी को नववर्ष की शुभकामनाएं. सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया ने टीके के भंडारण के लिए जो जोखिम उठाए, अंतत: उनका फल मिल रहा है. भारत का पहला कोविड-19 टीका ‘कोविशील्ड' आगामी सप्ताह में टीकाकरण के लिए स्वीकृत, सुरक्षित, प्रभावी और तैयार है.'

उन्होंने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन समेत उन सभी लोगों और संस्थाओं को धन्यवाद दिया, जिन्होंने टीका विकसित करने में सहयोग दिया. बताया जा रहा है कि कोविशील्ड कोरोनावायरस पर 70 फीसदी से ज्यादा प्रभावी है. 50 फीसदी से ज्यादा प्रभावी वाले वैक्सीन को बेहतर माना जाता है. कोविशील्ड ने तीनों फेज के ट्रायल को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है.

वैक्सीन को मंजूरी दिये जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह प्रत्येक भारतीय के लिए गर्व की बात है कि देश में जिन दो टीकों के आपात इस्तेमाल की स्वीकृति दी गई है, वे भारत निर्मित हैं. उन्होंने देश को, वैज्ञानिकों और नवोन्मेषकों को बधाई देते हुए कहा कि यह आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा करने के लिए हमारे वैज्ञानिक समुदाय की इच्छाशक्ति को दर्शाता है. वह आत्मनिर्भर भारत, जिसका आधार है- सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामया.

पीएम मोदी ने कहा कि विपरीत परिस्थितियों में असाधारण सेवा भाव के लिए डॉक्टरों, चिकित्साकर्मियों, वैज्ञानिकों, पुलिसकर्मियों, सफाईकर्मियों और सभी कोरोना योद्धाओं के प्रति एक बार फिर कृतज्ञता व्यक्त करते हुए कहता हूं कि देशवासियों का जीवन बचाने के लिए हम सदा उनके आभारी रहेंगे. मोदी ने कहा कि वैश्विक महामारी के खिलाफ भारत की जंग में एक निर्णायक क्षण! सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक के टीकों को डीसीजीआई की मंजूरी मिलने से स्वस्थ और कोविड मुक्त भारत की मुहिम को बल मिलेगा.

भाषा इनपुट के साथ

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें