18.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

बेंगलुरु के स्टार्टअप कंपनी की CEO पर अपने चार साल के बेटे की हत्या का आरोप, ऐसे हुआ मामले का खुलासा

सूचना मिली जिसके बाद एक पुलिस टीम होटल पहुंची और सीसीटीवी फुटेज को स्कैन किया. सीसीटीवी में कथित तौर पर आरोपी को अपने बेटे के बिना सर्विस अपार्टमेंट से निकलते हुए देखा गया. जानें आरोपी ने घटना को कैसे दिया अंजाम

कर्नाटक के बेंगलुरु से एक ऐसी खबर सामने आ रही है जो लोगों के बीच चर्चा कर विषय बन चुकी है. दरअसल, यहां एक 39 वर्षीय महिला जो स्टार्टअप की संस्थापक और सीईओ थी, उसपर उत्तरी गोवा के कैंडोलिम में एक सर्विस अपार्टमेंट में अपने चार वर्षीय बेटे की हत्या करने का आरोप लगा है. इतना ही नहीं उसपर बच्चे के शव को बैग में रखकर गोवा से कर्नाटक वापस जाने के लिए टैक्सी किराए पर लेने का आरोप भी लगाया गया है. इस संबंध में अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया ने खबर प्रकाशित की है. खबरों की मानें तो इस खबर ने सबको चौंका दिया है. हालांकि जांचकर्ताओं को अभी तक ऐसा क्यो किया गया ? इस सवाल का जवाब नहीं मिला है. इस हत्या का खुलासा तब हुआ जब हाउसकीपिंग स्टाफ के एक सदस्य को उस अपार्टमेंट की सफाई करते समय खून का धब्बा मिला, जहां से आरोपी ने सोमवार सुबह चेक-आउट किया था.

हिरासत में लिया गया आरोपी को

खबरों की मानें तो गोवा पुलिस की सूचना के बाद आरोपी को कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले के ऐमंगला पुलिस स्टेशन में हिरासत में लिया गया. इसके बाद कलंगुट से एक पुलिस टीम आरोपी को हिरासत में लेने और उसे ट्रांजिट रिमांड पर गोवा लाने के लिए सोमवार देर रात कर्नाटक पहुंची. कैलंगुट पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर परेश नाइक ने जानकारी दी कि शनिवार को कैंडोलिम के होटल सोल बनयान ग्रांडे के कमरा नंबर 404 में चेक इन करते समय आरोपी ने बेंगलुरु का पता दिया था. होटल के कर्मचारियों ने पुलिस को बताया कि जब आरोपी ने बेंगलुरु लौटने के लिए टैक्सी लेने की इच्छा जताई, तो उसे सलाह दी गई कि फ्लाइट लेना उसके लिए आसान रहेगा. जब उसने सड़क मार्ग से यात्रा करने पर जोर दिया, तो होटल ने एक स्थानीय टैक्सी की व्यवस्था कर दी.

Also Read: गोवा में बंधक बने ओडिशा के 10 में से नौ युवकों को महाराष्ट्र पुलिस ने मुक्त कराया, सात को भेजा मुंबई

बेटे को लेकर आरोपी ने क्या कहा

उत्तरी गोवा के एसपी निधिन वलसन ने मामले को लेकर जानकारी दी कि सुबह 11 बजे के आसपास खून के धब्बे की सूचना मिली जिसके बाद एक पुलिस टीम होटल पहुंची और सीसीटीवी फुटेज को स्कैन किया. सीसीटीवी में कथित तौर पर आरोपी को अपने बेटे के बिना सर्विस अपार्टमेंट से निकलते हुए देखा गया. इसके बाद टैक्सी ड्राइवर को फोन किया गया और उसे आरोपी को फोन देने के लिए कहा गया. अपने बेटे के बारे में पूछे जाने पर, आरोपी ने दावा किया कि उसने उसे फतोर्दा में एक दोस्त के घर पर छोड़ दिया था. मित्र का पता बताने के लिए कहा गया तो उसने जो पता बताया वो फर्जी निकला.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार वह बच्चे को पिता से नहीं मिलने देना चाहती थी. इस वजह से यह खौफनाक कदम उठाया.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें