1. home Hindi News
  2. national
  3. amit shah in assam says the census has an important role in policymaking smb

Amit Shah in Assam: अमित शाह बोले, ई-जनगणना के आधार पर तैयार होगा अगले 25 वर्षों के विकास का खाका

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अपने दो दिवसीय असम यात्रा पर है. सोमवार को गृह मंत्री अमित शाह ने गृह सचिव अजय कुमार भल्ला और असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा के साथ अमिनगांव में जनगणना भवन का निरीक्षण और उद्घाटन किया और SSB की नवनिर्मित इमारतों को ई-समर्पित किया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Amit Shah in Assam:
Amit Shah in Assam:
Twitter

Amit Shah in Assam: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अपने दो दिवसीय असम यात्रा पर है. सोमवार को गृह मंत्री अमित शाह ने गृह सचिव अजय कुमार भल्ला और असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा के साथ अमिनगांव में जनगणना भवन का निरीक्षण और उद्घाटन किया और SSB की नवनिर्मित इमारतों को ई-समर्पित किया.

इस बार होगी ई-जनगणना

गुवाहाटी के अमिनगांव में जनगणना कार्यालय और एसएसबी भवन के उद्घाटन पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि अनुभवी सिद्ध डेटा हो, इसलिए हमने तय किया है कि आने वाली जनगणना, जो कोविड के कारण रुकी हुई है, वह ई-जनगणना यानी इलेक्ट्रॉनिक जनगणना होगी. अमित शाह ने कहा कि इसके आधार पर अगले 25 साल के विकास का खाका तैयार होगा. केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि ई-जनगणना शत प्रतिशत गणना सुनिश्चित करेगी, अगले 25 वर्षों के लिए देश की विकास योजनाओं को आधार प्रदान करेगी.

2024 से पहले पूरी होगी जनगणना: अमित शाह

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कोरोना संकट के खत्म होने के साथ ही देशभर में डिजिटल जनसंख्या गणना की प्रकिया शुरू होगी. उन्होंने कहा कि साल 2024 से पहले डिजिटल जनगणना की प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार इसके लिए प्रतिबद्ध है. दिल्ली में राष्ट्रय जनसंख्या भवन का निर्माण इसी साल अगस्त तक पूरा हो जाएगा. अमित शाह ने कहा कि गृह मंत्रालय ने एक खास सॉफ्टवेयर तैयार करवाया है. उन्होंने कहा कि हाई टेक, त्रुटिरहित, मल्टीपरपस सेंसस ऐप से जन्म, मृत्यु, परिवार की आर्थिक स्थिति जैसे तमाम व्यक्तिगत जानकारी को अपडेट किया जा सकेगा. ऐसा होने से आम लोगों को सरकारी कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे

जन्म और मृत्यु रजिस्टर को जनगणना से जोड़ा जाएगा

अमित शाह ने कहा कि जन्म के बाद डिटेल्स जनगणना के रजिस्टर में जोड़ी जाएंगी. इसके अलावा 18 साल की उम्र के बाद नाम मतदाता सूची में शामिल किया जाएगा. वहीं, मौत के बाद नाम को हटा दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि नाम या पता बदलने में भी आसानी होगी. अमित शाह ने कहा कि जन्म और मृत्यु रजिस्टर को जनगणना से जोड़ा जाएगा. उन्होंने कहा कि 2024 तक हर जन्म और मृत्यु का रजिस्ट्रेशन होगा यानी हमारी जनगणना अपने आप अपडेट हो जाएगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें