1. home Home
  2. national
  3. 1171897

Viral Pics: ट्रैफिक और ऑफिस से हताश इंजीनियर घोड़े पर सवार होकर पहुंचा इस्तीफा देने...!

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

हमारा देश भारत अजूबों का देश है. और बात करें सोशल मीडिया की, तो यहां एक से बढ़कर अजूबे सामने आते ही रहते हैं. कुछ ऐसी ही अजीबोगरीब घटना बेंगलुरू में घटी है, जहां ट्रैफिक और ऑफिस ड्यूटी से हताश एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर अपने ऑफिस के आखिरी दिन घोड़े पर पहुंचा.

हर दिन चक्रव्यूहनुमा ट्रैफिक से गुजरना और ऑफिस पहुंचकर वहां के सख्त नियमों और क्यूबिकल्स में काम करना हम में से कई लोगों को नापसंद होता है. बेंगलुरु के सॉफ्टवेयर इंजीनियर रूपेश कुमार वर्मा की रूटीन लाइफ कुछ ऐसी ही चल रही थी. लेकिन रूपेश बड़े जिगरवाले निकले.

उन्होंने फैसला किया कि वह अपनी ऊबाऊ नौकरी छोड़ देंगे. और यह काम कुछ ऐसे ढंग से करेंगे, जिसे लोग याद रखें. हुआ भी कुछ ऐसा ही. रूपेश ऑफिस के आखिरी दिन घोड़े पर सवार होकर पहुंचे.

Viral Pics: ट्रैफिक और ऑफिस से हताश इंजीनियर घोड़े पर सवार होकर पहुंचा इस्तीफा देने...!

फॉर्मल कपड़े और कंधे पर ऑफिस का बैग लिऐ रूपेश जिस घोड़े पर सवार हुए, उसपर एक तख्ती भी लगी हुई थी. लिखा था- लास्ट वर्किंग डे एेज सॉफ्टवेयर इंजीनियर. हिंदी में कहें तो- बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर काम करने का यह मेरा आखिरी दिन है.

फिर क्या था!घोड़े पर सवार सॉफ्टवेयर इंजीनियर को जिस किसी ने भी देखा, हैरत में पड़ गया. देखते ही देखते रूपेश का यह कारनामा सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.रूपेश एकदम अचानक सबके लिए सेंटर ऑफ अट्रैक्शन बन गये.

Viral Pics: ट्रैफिक और ऑफिस से हताश इंजीनियर घोड़े पर सवार होकर पहुंचा इस्तीफा देने...!

अपने इस अनूठे 'कदम' से इतना चर्चित होने की उम्मीद खुद रूपेश को भी नहीं थी. मीडिया से बात करते हुए वह कहते हैं, मैं एक मिडिल क्लास फैमिली से ताल्लुक रखता हूं. सोशल मीडिया पर इस तरह के अटेंशन की मुझे कभी उम्मीद नहीं थी. इस तरह की प्रतिक्रिया को पचाना थोड़ा मुश्किल है. मैंने इसकी उम्मीद नहीं की थी.

रूपेश आगे कहते हैं, मैं पिछले आठ सालों से बेंगलुरु में रह रहा हूं औरयहांके वायु प्रदूषण से तंग आ गया हूं. बेंगलुरु बड़ा संवेदनशील शहर है और सड़क पर बहुत सारी गाड़ियों की वजह से हर दिन ट्रैफिक जाम होता है. इस सिरदर्द से बचने के लिए मैंने घुड़सवारी सीखी. मकसद लोगों को यह मैसेज देना था कि हमारे पास यातायात के और भी विकल्प हैं.

Viral Pics: ट्रैफिक और ऑफिस से हताश इंजीनियर घोड़े पर सवार होकर पहुंचा इस्तीफा देने...!

बात करें जॉब छोड़ने की, तो रूपेश बताते हैं कि इस प्रोफेशन में काफी तनाव और निराशा है. साथ ही, बहुराष्ट्रीय कंपनियां कर्मचारियों की परवाह नहीं करती हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बेंगलुरू के गोल्फ लिंक परिसर के इंटरमीडिएट रिंग रोड स्थित ऑफिस में जब रूपेश घोड़े पर सवार होकर पहुंचे, तो वहांमौजूद गार्ड्स ने उन्हें बाहर ही रोक लिया. थोड़ी हुज्जत करने के बाद उन्हें किसी तरह अंदर आने की इजाजत मिली.

Viral Pics: ट्रैफिक और ऑफिस से हताश इंजीनियर घोड़े पर सवार होकर पहुंचा इस्तीफा देने...!

रूपेश का कहना है कि मैं नहीं चाहता था कि यह (कारनामा) वायरल हो, लेकिन मैं यह जरूर चाहता हूं कि लोग सबक लें. मैंने अपने विरोध करने का यही तरीका अपनाया.

बहरहाल, रूपेश आगे चलकर खुद की एक सॉफ्टवेयर कंपनी शुरू करना चाहते हैं.वहकहते हैं, मैं कुछ सालों से कई तरह के स्टार्टअप पर रिसर्च कर रहा हूं और मैं अपनी फर्म शुरू करने के लिए संसाधन इकट्ठा कर रहा हूं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें