शराब की तरह समझकर पी गये सेनिटाइजर, दस की मौत

By Agency
Updated Date
सेनिटाइजर
सेनिटाइजर
फाइल फोटो

अमरावती : आंध्र प्रदेश के प्रकासम जिले के एक गांव में शराब के विकल्प के रूप में कथित तौर पर सेनिटाइजर पीने में तीन भिखारियों सहित कम से कम दस लोगों की मौत हो गई. प्रकासम जिले के पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ कौशल ने ‘पीटीआई-भाषा' को फोन पर बताया कि कुरीचेंदू गांव के ये लोग बीते कुछ दिन से सेनिटाइजर को पानी और शीतल पेय में मिलाकर पी रहे थे.

कौशल ने गांव का दौरा किया. वहां लॉकडाउन बढ़ने के कारण शराब की दुकानें बंद हैं. उन्होंने बताया कि दो लोगों की बृहस्पतिवार रात को मौत हो गई और शेष आठ लोगों की शुक्रवार को मौत हुई. उन्होंने कहा,‘‘ हम इस बात की भी जांच कर रहे हैं कि कहीं सेनिटाइजर में कोई जहरीला पदार्थ को नहीं था .

हमने सेनिटाइजर को रसायनिक जांच के लिए भेजा है.'' पुलिस ने बताया कि ये लोग शराब पीने के आदी थे और कुरीचेंदू में कोविड-19के कारण लॉकडाउन बढ़ने से शराब नहीं मिलने के कारण उन्होंने सेनिटाइजर को चुना जिसमें कुछ नशीली सामग्री होती हैं. मरने वालो में तीन भिखारी, रिक्शाचालक तथा अन्य लोग शामिल हैं. पुलिस ने बताया कि बृहस्पतिवार रात को मंदिर के पास दो भिखारियों की मौत हो गई.

उनमें से एक घटनास्थल पर मृत पाया गया वहीं दूसरे की दार्सी कस्बे में एक सरकारी अस्पताल में मौत हो गई. तीसरे व्यक्ति को बृहस्पतिवार रात दार्सी अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. उन्होंने बताया कि कुछ और लोग सेनिटाइजर पीने के बाद बीमार पड़ गए. उनका इलाज चल रहा है और उनकी हालत खतरे से बाहर है.

Posted By - Pankaj Kumar Pathak

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें