1. home Hindi News
  2. life and style
  3. pune cyclist preeti maske to attempt non stop cycling from leh to manali in 60 hours sry

पुणे की Preeti Maske बनाएंगी नया रिकार्ड,लेह से मनाली तक 480 किलोमीटर की दूरी साइकिल से करेंगी तय

पुणे की साइकिल चालक प्रीति मस्के अजेय 60 घंटे के भीतर लेह से मनाली (480 किमी) तक पेडलिंग करके एक और विश्व अल्ट्रा साइकिलिंग रिकॉर्ड बनाने का प्रयास कर रही हैं. वह स्वीकार करती है कि लेह-मनाली का सबसे चुनौतीपूर्ण हिस्सा है क्योंकि यह 60 घंटों के भीतर पूरी की जाने वाली निरंतर, नॉन-स्टॉप राइड है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Preeti Maske to attempt non-stop cycling from Leh to Manali
Preeti Maske to attempt non-stop cycling from Leh to Manali
Prabhat Khabar Graphics

पुणे की 44 वर्षीय प्रीति मस्के एक विश्व अल्ट्रा साइक्लिंग रिकॉर्ड बनाने का प्रयास करने वाली हैं. सोमवार को लेह के लिए रवाना हुईं हैं. आपको बता दें प्रीति लेह से मनाली के रास्ते में पैदल चलने की तैयारी में हैं. वो 60 घंटे के भीतर 480 किमी की दूरी को बिना रुके तय करने वाली हैं. उनकी सवारी 22 जून से शुरू होगी और समुद्र तल से 3,600 मीटर की ऊंचाई पर होगी. प्रीति ने बताया “मैं पाँच बड़े दर्रे पार करने जा रहा हूँ और रात में तापमान शून्य से पाँच डिग्री तक गिर जाएगा. लेकिन मैंने खुद को तैयार कर लिया है.”

3,400 मीटर की दूरी पर साइकिल चलाने का होगा प्रयास

वो कहती हैं, मैंने हाल ही में उत्तराखंड में मई में भारत-चीन-नेपाल सीमा पर 3,400 मीटर की दूरी पर साइकिल चलाने के एक अन्य उच्च ऊंचाई वाले साइकिलिंग कार्यक्रम में भाग लिया, जो एक महिला साइकिल अभियान टूर-डी-कैलाश है.

उम्र को सिर्फ एक संख्या मानती हैं प्रीति मस्के

प्रीति मस्के ने बताया किउन्हें उनकी उम्र के बारे में पता चलता है तो वह अक्सर लोगों को चौंका देती हैं. "मैंने 40 साल की उम्र के बाद शुरू किया. मेरा मानना ​​है कि उम्र सिर्फ एक संख्या है. आपको खुद पर विश्वास करने की जरूरत है और फिर आपको कोई नहीं रोक सकता.मैंने 2018 में शुरुआत की थी, और तब से सैकड़ों महिलाओं ने मुझे फोन करके सुझाव मांगे हैं.मेरा मानना है कि मैंने कुछ लोगों को प्रेरित किया है."

कुछ ऐसी डाइट फॉलो करेंगी प्रीति

आपको बता दें इस अभियान में छह लोगों का दल शामिल है. प्रीति ने कहा, "मुझे राइड से कम से कम दस दिन पहले लेह पहुंचना होगा ताकि ऊंचाई वाले इलाकों में ढल जाऊं." इस दौरान डाइट की बात के बारे में प्रीति ने कहा कि वह त्वरित और निरंतर ऊर्जा पुनःपूर्ति के लिए ज्यादातर उच्च-प्रोटीन तरल आहार लेंगी. प्रीति के नाम कई रिकॉर्ड हैं, जिसमें पिछले साल पांच दिनों में श्रीनगर-लेह-खरदुंगला टॉप को कवर करना शामिल है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें