1. home Hindi News
  2. life and style
  3. karwa chauth 2020 surir town womens do not fasting karwa chauth in mathura due to curse here read details here bud

Karwa Chauth 2020 : यहां करवा चौथ का व्रत रखनेवाली सुहागिन के साथ हो जाती है अनहोनी, इस दिन ना श्रृंगार और...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Karwa Chauth 2020
Karwa Chauth 2020
twitter

Karwa Chauth 2020 : इस बार करवा चौथ का व्रत 4 नवंबर को पड़ रहा है. हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष में चतुर्थी तिथि के दिन करवा चौथ मनाया जाता हैं. इस दिन सुहागन स्त्रियां अपनी पति लंबी आयु के लिए पूरे दिन निर्जला व्रत रखती हैं. इस दिन प्राचीन विधि-विधान के साथ निर्जला उपवास कर अपने पति की लंबी उम्र के लिए कामना करती है. लेकिन मथुरा जिले के कस्बा सुरीर के बघा मोहल्ले में नजारा एकदम अलग होता है. यहां की महिलाएं इस दिन व्रत रखना तो दूर पूजा भी नहीं करतीं, और न ही पूरा श्रृंगार करती हैं.

मथुरा से करीब 60 किलोमीटर की दूरी पर यह कस्‍बा स्थित है. यहां 200 वर्ष पूर्व से ही करवा चौथ का व्रत नहीं रखा जाता है. यहां की महिलाओं का कहना है कि करीब 200 वर्ष पहले पास ही के एक गांव राम नगला से एक व्‍यक्ति ससुराल से अपनी पत्नी को विदा कराकर बघा मोहल्ले से होते हुए भैंसा गाड़ी से गांव लौट रहा था. तभी इस मुहल्‍ले के लोगों ने उन्‍हें रोक लिया और भैंसा को अपना बताने लगे.

लेकिन उस युवक ने कहा कि यह भैंसा उन्‍हें ससुराल से विदाई में मिला है. लेकिन गांव वालों ने उसकी एक न सुनी. इस झगड़े में मोहल्‍ले के लोगों ने उस युवक की हत्‍या कर दी. अपनी पति को मृत पड़ा देख पत्‍नी ने श्राप दिया कि जिस तरह वह अपने पति के लिए बिलख रही हैं, वह भी ऐसे ही बिलखेंगी. श्राप देने के बाद महिला भी पति के साथ सती हो गई. कहा जाता है कि इस श्राप के बाद से ही मोहल्‍ले में अनहोनी शुरू हो गई. ऐसे में वहां के बुजुर्गो ने इसे सती का श्राप माना और उनसे क्षमा मांगी.

इसी श्राप की वजह से यहां की महिलाएं करवा चौथ का व्रत नहीं रखती हैं. कस्‍बे के बधा मोहल्‍ले में सती का एक मंदिर है जहां यहां की महिलाएं पूजा करती हैं. साथ ही उनसे विनती करती हैं कि उनके पति पर कोई आंच न आए. ऐसे में जो भी विवाहिताएं यहां ब्‍याह कर लाई जाती है वह इस श्राप के डर के कारण करवा चौथ का व्रत रखने के बारे में सोच कर ही सहम जाती हैं.

जानें कब है करवा चौथ

कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को पड़ने वाला संकष्टी चतुर्थी व्रत को ही करवा चौथ का व्रत कहा जाता है, इस साल करवा चौथ 4 नवम्बर दिन बुधवार को मनाया जाएगा. पति की दीर्घायु, यश-कीर्ति और सौभाग्य में वृद्धि के लिए इस व्रत को विशेष फलदायी माना गया है.

करवा चौथ शुभ मुहूर्त Karwa Chauth Shubh Muhurat

इस बार 4 नवंबर, बुधवार – शाम 05 बजकर 34 मिनट से शाम 06 बजकर 52 मिनट तक करवा चौथ की संध्या पूजा का शुभ मुहूर्त है, जबकि बताया जा रहा है कि इस व्रत के दिन चंद्रोदय शाम 7 बजकर 57 मिनट तक होगा.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें