33.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Home Remedies: वाशिंग मशीन में कपड़े धोते समय इन बातों का रखें ध्यान, कपड़े और मशीन दोनों रहेंगे सुरक्षित

Home Remedies: अगर आप पिलो और ब्लैंकेट वाशिंग मशीन में धोते हैं तो दो बार धोएं, क्योंकि तकिया में फोम रह जाता है तो दो बार धोने से वह निकल जाएगा. यहां पढ़ें रोजाना काम आने वाले ऐसे ही आसान घरेलू उपाय.

Home Remedies: यदि आप कपड़े धोने के लिए वाशिंग मशीन (washing machine) का इस्तेमाल करते हैं तो जान लें कि आपको अपनी वाशिंग मशीन का ख्याल करना होगा. ज्यादातर मशीनों में वाशिंग पाउडर का कम्पार्टमेंट घूमता है. उसमें डिटर्जेंट (Detergent) का जरा भी अवशेष छूटना नहीं चाहिए. इस पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है. कपड़े धोने के बाद मशीन को अच्छी तरह धोकर और सुखाकर ही छोड़ना चाहिए. अगर उसमें पाउडर जरा भी रह गया तो सूखने के बाद इससे मशीन का वाशर जाम हो सकता है. साल में एक बार मशीन के वाशर को गरम पानी और सिरके से धोना चाहिए. इससे वाशिंग मशीन सालों साल बढ़िया काम करेगी. वाशिंग मशीन में कपड़े धाते समय किन बताें का खास ध्यान रखना चाहिए जान लें.

स्विमिंग सूट को वाशिंग मशीन में न धोएं

स्विमिंग सूट, रेसिंग ब्रीफ आदि को वाशिंग मशीन में नहीं धोना चाहिए क्योंकि इनमें स्पेंडेक्स या इलास्टेन लगा होता है जो मशीन में धोने से खराब हो जाता है. इन्हें ठंडे पानी में हाथ से धोना सही रहता है.

वाशिंग मशीन को रेस्ट देना है जरूरी

कुछ लोग मानते हैं कि वाशिंग मशीन के लगातार इस्तेमाल से वह खराब हो जाएगी, हालांकि ऐसा नहीं है. वाशिंग मशीन में लगातार कपड़े धोने से बिजली कम खर्च होती है क्योंकि वाशर एक बार गरम होने के बाद बिजली कम खाता है.

तकिया और कंबल के लिए एक साइकिल का इस्तेमाल

अगर आप पिलो और ब्लैंकेट वाशिंग मशीन में धोते हैं तो दो बार धोएं, क्योंकि तकिया में फोम रह जाता है तो दो बार धोने से वह निकल जाएगा.

कपड़े साथ न डालने से परेशानी

कई बार कपड़े एकसाथ डालने के बाद उनकी जोड़ी ढूंढने में काफी समय व्यर्थ हो जाता है, ऐसे में जरूरी है कि क्यों न जोड़ी वाले कपड़ों मसलन मोजे को पहले धो लें? उम्मीद है इससे आपका काम आसान होगा.

तौलिए में कपड़े वाले डिटर्जेंट न इस्तेमाल करें

तौलिए में कपड़े वाले डिटर्जेंट का इस्तेमाल सही नहीं है क्योंकि इसमें मौजूद रासायनिक तत्व कपड़े की सोखने की शक्ति को घटाता है.

मशीन में एकसाथ कपड़े न भरें

वाशिंग मशीन में एकसाथ कपड़े डालना उसे खराब कर सकता है. इसलिए जितनी क्षमता हो उससे ज्यादा कपड़े नहीं डालने चाहिए.

वाटरप्रूफ जैकेट को धोते समय ध्यान दें

वाटरप्रूफ जैकेट धोते समय ध्यान रखें कि उसकी बनावट खराब न हो. बेहतर होगा कि तीन टेनिस बॉल वाशर में डाल दें जिससे फोम निकलने में आसानी होगी.

Also Read: कपड़े प्रेस करने का टाइम नहीं है? चुटिकयों में दूर करें सिलवट, जानें ऐसे ही बड़े काम के आसान घरेलू उपाय
महंगे वाशिंग पाउडर या लिक्विड का इस्तेमाल

हम घरों में जिन डिटर्जेंट का इस्तेमाल करते हैं वे साधारण गुणवत्ता के होते हैं. उनमें इस्तेमाल रासायनिक तत्व कपड़े को उजला तो दिखाते हैं लेकिन वह कपड़े को नुकसान पहुंचाते हैं. साबुन से दाग धोए जा सकते हैं लेकिन नींबू का रस इस्तेमाल कर हम अपने कपड़ों को मुलायम और खुशबूदार बना सकते हैं.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें