1. home Hindi News
  2. life and style
  3. global wind day 2022 history significance and importance of wind energy sry

Global Wind Day 2022: जानें क्यों मनाया जाता है ग्लोबल विंड डे और कैसे हुई थी इसकी शुरुआत

ग्लोबल विंड डे के माध्यम से हवा की शक्ति और इसकी संभावना पर प्रकाश डालने का प्रयास किया जाता है. आज यानी 15 जून को विश्वभर में वैश्विक पवन दिवस यानी ग्लोबल विंड डे मनाया जा रहा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Global Wind Day 2022
Global Wind Day 2022
Prabhat Khabar Graphics

Global Wind Day 2022: दुनिया भर में पवन ऊर्जा का उपयोग और उसकी शक्ति के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 15 जून को वैश्विक पवन दिवस या ग्लोबल विंड डे (Global Wind Day 2022) मनाया जाता है. इसका आयोजन यूरोपियन विंड एनर्जी एसोसिएशन(EWEA) और ग्लोबल विंड एनर्जी काउंसिल(GWEC) करता है. इस दुनिया में मौजूद ऊर्जा के सबसे बड़े और freely available ऊर्जा स्रोतों में से एक हवा या पवन है.

ग्लोबल विंड डे के माध्यम से हवा की शक्ति और इसकी संभावना पर प्रकाश डालने का प्रयास किया जाता है. भविष्य में हम हवा का प्रयोग किन क्षेत्रों में कर सकते हैं इस दिशा में लोगों का ध्यान आकर्षित करना बहुत आवश्यक है. इसी लिए ग्लोबल विंड डे के दिन आयोजित कई कार्यक्रमों के माध्यम से यह बात लोगों तक पहुंचाई जाती है.

जानें क्या है वैश्विक पवन दिवस का इतिहास

लगभग 15 साल पहले, यूरोपीय पवन ऊर्जा संघ (EWEA) और ग्लोबल विंड एनर्जी काउंसिल (GWEC)ने इस दिन को एक साथ मनाने का फैसला किया, और इस दिन को पहली बार 2007 में यूरोप में मनाया गया था. इसके बाद 2009 में इसे विश्व स्तर पर मनाने का निर्णय लिया गया.

विश्व पवन दिवस का महत्व

मंगल ग्रह पर दिखते हैं 'Dust Devil of Mars', बिना हवा के कैसे आते हैं बवंडर ? हम ऐसे वक्त में जी रहे हैं, जहां ग्लोबल वार्मिंग का खतरा दुनिया भर में मंडरा रहा है. ऐसे में पवन ऊर्जा जैसे ऊर्जा रूपों का कुशल तरीके से उपयोग करना महत्वपूर्ण हो जाता है.

Globalwindday.org के अनुसार, पवन ऊर्जा वर्तमान में एक परिपक्व और मुख्यधारा की तकनीक है. यह 2015 में 100 अरब डॉलर से अधिक के निवेश के साथ दुनिया के सबसे तेजी से बढ़ते औद्योगिक क्षेत्रों में से एक है.

अकेले यूरोपीय संघ में, पवन उद्योग ने पिछले वर्ष में संयुक्त रूप से गैस और कोयले की तुलना में अधिक स्थापित किया गया है. यह क्षेत्र की 15% बिजली खपत को पूरा करने के लिए पर्याप्त संचयी स्थापित क्षमता के साथ किया जाता है, जो 87 मिलियन घरों को बिजली देने के बराबर है. इसलिए इस दिन का महत्व बहुत बड़ा है, अधिक से अधिक लोगों को पवन ऊर्जा के बारे में पता होना चाहिए.

अब तक 80 देश हो चुके हैं शामिल

विश्व पवन दिवस के बाद से अब तक लगभग 80 देश पवन ऊर्जा के क्षेत्र में कार्य करने के लिए साथ आये हैं और आए हैं, जिन्होंने पवन खेतों(wind farms) को बनाया है और यह साबित किया है कि पवन ऊर्जा वास्तव में काम कर सकती है. ऊर्जा संरक्षण और प्रदूषण-मुक्त दुनिया के निर्माण में यह एक महत्वपूर्ण पहल साबित हो सकती है प्रत्येक वर्ष पवन दिवस उत्सव पर क्या किया जा सकता है और प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग करने के लिए अन्य देशों को कैसे साथ लाया जाए, इसके लिए रणनीतियों पर ग्लोबल विंड एनर्जी काउंसिल काम करता है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें