18.1 C
Ranchi
Sunday, February 25, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबड़ी खबरHealth Tips: काम के चक्कर में घंटों पड़ता है बैठना, तुरंत कर लें ये उपाय, वरना बड़ी परेशानी में...

Health Tips: काम के चक्कर में घंटों पड़ता है बैठना, तुरंत कर लें ये उपाय, वरना बड़ी परेशानी में फंस जाएंगे आप

लंबे समय तक बैठे रहना हमारे स्वास्थ्य पर कई तरह से नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है. यह वजन संबंधी समस्याओं, हृदय संबंधी समस्याओं और मांसपेशियों में अकड़न के उच्च जोखिम से जुड़ा है.

लंबे समय तक बैठे रहना हमारे स्वास्थ्य पर कई तरह से नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है. यह वजन संबंधी समस्याओं, हृदय संबंधी समस्याओं और मांसपेशियों में अकड़न के उच्च जोखिम से जुड़ा है. हमारे शरीर को चलने के लिए डिज़ाइन किया गया है और जब हम बहुत अधिक बैठते हैं, तो हमारा चयापचय अच्छे से काम नहीं कर पाता है. इससे हमारा वजन बढ़ सकता है और संभावित रूप से संबंधित स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं. लगातार बैठे रहने से हमारी मुद्रा भी ख़राब हो सकती है, जिससे पीठ और गर्दन में दर्द हो सकता है.

वजन बढ़ना

लंबे समय तक बैठे रहने से शरीर का वजन बढ़ सकता है क्योंकि इससे चयापचय दर कम हो जाती है. नियमित शारीरिक गतिविधियां जैसे तेज़ सैर या सरल व्यायाम जो आप अपने डेस्क पर कर सकते हैं, करके इसका मुकाबला करें.

Also Read: रात की इन आदतों से बढ़ सकता है डायबिटीज, चेक करें अपनी लाइफस्टाइल

हृदय संबंधी समस्याएं

लंबे समय तक बैठे रहने से हाई ब्ल्ड प्रेशर और से हाई कोलेस्ट्रॉल जैसी हृदय संबंधी समस्याएं होने की संभावना बढ़ जाती है. इससे निपटने के लिए, खड़े होने और खिंचाव करने के लिए कुछ समय निकालें और जॉगिंग या बाइकिंग जैसे व्यायामों को अपनी दिनचर्या में शामिल करें. साप्ताहिक रूप से मध्यम गति से कम से कम 150 मिनट व्यायाम करने का लक्ष्य रखें.

मांसपेशियों की समस्या

लंबे समय तक बैठे रहने से आपकी मांसपेशियां, खासकर गर्दन, कंधे और पीठ के आसपास की मांसपेशियां अकड़ सकती हैं. नियमित स्ट्रेचिंग से इन समस्याओं को कम करने में मदद मिल सकती है. योग या पिलेट्स जैसी गतिविधियां फायदेमंद हो सकती हैं और अपने बैठने की स्थिति को बार-बार बदलना और यह जांचना बुद्धिमानी है कि आपके काम का माहौल आपके आसन के अनुकूल है या नहीं.

टाइप 2 डाइबिटीज का खतरा

गतिहीन जीवनशैली इंसुलिन संवेदनशीलता को कम कर सकती है, जिससे टाइप 2 डाइबिटीज विकसित होने का खतरा बढ़ जाता है. थोड़ी देर टहलने के साथ बैठे रहने की अपनी अवधि को बाधित करें और ऐसा डाइट बनाए रखें जो आपके ब्ल्ड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करता हो.

Also Read: Health Tips: अपने दिन की शुरुआत इन 5 नाश्तों से भूलकर भी ना करें, वर्ना पूरा दिन हो सकता है बर्बाद

मानसिक स्वास्थ्य संबंधी चिंता

लंबे समय तक निष्क्रियता, अवसाद और चिंता जैसे मानसिक स्वास्थ्य मुद्दों का अनुभव करने की बढ़ती संभावना से जुड़ी है. अपने मानसिक स्वास्थ्य का समर्थन करने के लिए, आराम करने या टहलने के लिए दिन भर में ब्रेक लें और उन गतिविधियों और सामाजिक व्यस्तताओं के लिए समय निकालें जो आपको खुशी देती हैं.

ऊर्जा स्तर में कमी

बहुत देर तक बैठे रहने से आपको अधिक थकान महसूस हो सकती है. इससे निपटने के लिए, शरीर और दिमाग दोनों को तरोताजा करने के लिए अपने दिन में शॉर्ट ब्रेक को शामिल करें. कुछ मिनटों की स्ट्रेचिंग या तेज़ सैर आपकी ऊर्जा को काफी हद तक बढ़ा सकती है.

Also Read: बादाम असली है या नकली, इन टिप्स को फॉलो कर ऐसे करें पहचान

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें