1. home Hindi News
  2. life and style
  3. april fool day 2022 online jokes and funny pranks ideas on april fool day for friends and family sry

April Fool Pranks Ideas: राष्ट्रीय फेंकू दिवस पर इन बेहतरीन आइडियाज से दोस्तों को बनाएं फूल

हर साल 1 अप्रैल को दुनिया भर में अप्रैल फूल मनाया जाता है.मजाक को और फनी बनाने के लिए आप उसमें कुछ अलग ट्राई कर सकते हैं. यहां देखें फनी प्रैंक आइडियाज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
April Fool Pranks Ideas
April Fool Pranks Ideas
Prabhat Khabar Graphics

April Fool Pranks Ideas 2022: एक अप्रैल यानी अप्रैल फूल डे जिसे हम मूर्ख दिवस के रुप में भी मनाते हैं. राष्ट्रीय फेंकू दिवस के मौके पर दोस्तों और परिवार वालों को मूर्ख बनाने का मौका शायद ही कोई गंवाता है लेकिन प्रैंक के कुछ आइडियाज काफी पुराने हो चुके हैं जिनसे उल्लू बनाना थोड़ा मुश्किल है तो कुछ नया ट्राय करें

ओरियो कुकिज से बनाएं अप्रैल फूल

अगर आपका दोस्त ओरियो कुकीज़ खाना पसंद करता है तो आप चॉकलेट क्रीम की जगह उसमें टूथपेस्ट भर सकते हैं

इंसेक्ट से बनाएं फूल

भाई-बहन या दोस्तों को डराने के लिए यह तरीका आजमाया जा सकता है. एक पेपर पर कॉकरोच या अन्य किसी कीड़े का कटआउट लें और उन्हें अपने लैंप शेड के नीचे चिपका दें. बनाई गई छाया ऐसी लगेगी जैसे कि वास्तव में आपके लैंप के नीचे कोई कीड़ा बैठा है.

फोटो रिप्लेसेमेंट

अपने घर की गैलरी में सेलेब्स के साथ कुछ पारिवारिक तस्वीरें बदलें. इसमें थोड़ा और मजा जोड़ने के लिए, आप कोशिश कर सकते हैं और अपने मम्मी और डैड के साथ एक सेलेब की तस्वीर को मॉर्फ कर सकते हैं.

फेक पिज्जा से बनाएं अप्रैल फूल

कार्डबोर्ड के एक टुकड़े को काट लें और इसके ऊपर कुछ सॉस डालें ताकि यह पिज्जा की तरह दिखे और फिर लोगों को इसका स्वाद लेने के लिए प्रयास करें. सुनिश्चित करें कि लोग इसे निगले नहीं.

1 अप्रैल प्रपोज करने का सबसे खास दिन है, क्योंकि हां बोल दे तो आपकी किस्‍मत

और ना बोल दे तो ये कह कर बच सकते हो अप्रैल फूल बनाया.

अप्रैल फूल का इतिहास

मीडिल यूरोप में 25 मार्च को नए साल का उत्सव मनाया जाता है. हालांकि 1852 में पोप ग्रेगरी अष्ठ ने ग्रेगेरियन कैलेंडर की घोषणा की थी. जिसके बाद जनवरी से नए वर्ष की शुरुआत होनी लगी. फ्रांस ने सबसे पहले इस कैलेंडर को स्वीकार किया. लेकिन यूरोप के कई देशों ने इस कैलेंडर को स्वीकार नहीं किया. जिसके कारण नए कैलेंडर के आधार पर न्यू ईयर मनाने वाले लोग पुराने तरीके से अप्रैल में नववर्ष मनाने वाले लोगों को मूर्ख समझने लगे और तब से अप्रैल फूल मनाया जाने लगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें