1. home Hindi News
  2. health
  3. economic package for health sector covid19 testing labs opened in every district every block coronavirus treatment healthcare finance minister nirmala sitharaman aarthik package

आर्थिक पैकेज: हर जिले, हर ब्लॉक में संक्रमण रोग के इलाज और टेस्टिंग लैब खोले जाएंगे

By SumitKumar Verma
Updated Date
testing labs for covid19 treatment
testing labs for covid19 treatment
Prabhat Khabar

Finance Minister Nirmala Sitharaman, aarthik package : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रविवार को 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक राहत पैकेज का पांचवां और आखिरी किस्त जारी कर दिया. इस दौरान उन्होंने हेल्थ सेक्टर, मनरेगा, शिक्षा समेत अन्य सेक्टरों को आर्थिक राहत देकर बूस्ट करने की कोशिश की है. उन्होंने हर जिले, हर ब्लॉक में संक्रमण रोग के इलाज और टेस्टिंग के लिए लैब खोलने की बात भी कही है.

जैसा कि ज्ञात हो, पीएम मोदी ने अपने एक भाषण के दौरान कोरोना को अवसर बनाने की बात कही थी. ऐसे में इस आर्थिक पैकेज के द्वारा देश को आत्मनिर्भर बनाने की कोशिश की गयी है.

आपको बता दें कि आर्थिक पैकेज के पांचवें किस्त में वित्त मंत्री ने हेल्थ सेक्टर पर 550 करोड़ खर्च किए हैं. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के लिए 15 हजार करोड़ दिया है. टेस्टिंग और लैब किट के लिए 550 करोड़. स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 50 लाख के बीमा किया गया है.

कैबिनेट मिनिस्टर अनुराग ठाकुर ने विस्तार से समझाते हुए बताया कि टेस्टींग लैब के किट के लिए 550 करोड‍़ दी गयी है. कोरोना वारियर्स को 50 लाख के बीमा की व्यवस्था की गयी है. इसके अलावा उन्होंने बताया आरोग्य सेतु एप्प से देशवासियों को हो रहे लाभ के बारे में बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा जारी किया गया यह एप्प, यूपीआई की तरह ही काफी सफल रहा है. इसके जरिये कोरोना की ट्रेसिंग भी की जा रही है. वहीं, आम लोग भी इसके जरिये अपनी सुरक्षा का ख्याल रख रहे हैं.

उन्होंने आगे कहा सरकार ने इसके अलावा हेल्थ वर्कर पर हो रहे हमले को भी रोकने के लिए एपीडर्मिक एक्ट में संशोधन किए हैं. इसके अलावा हमने संकट में भी अवसर निकाले हैं. आपको इसी बात से अंदाजा हो जाएगा कि जहां देश में एक भी पीपीई किट यूनिट नहीं थी. ऐसे में अभी देश में 300 से ज्यादा यूनिट में किट तैयार किए जा रहे हैं. इसके जरिये प्रतिदिन 3 लाख से ज्यादा किट बनाई जा रही हैं. इसके अलावा एन95 मास्क भी भारत में प्रतिदिन लाखों की संख्या में बनाए जा रहे हैं. इसके अलावा एचसीक्यू टेबलेट का भी भारी मात्रा में उत्पादन किया जा रहा है.

हेल्थ सर्विस में बदलाव पर निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार स्वास्थ्य व्यय बढ़ाएगी. जिला स्तर के हॉस्पिटल में इंफेक्शन से होनेवाली बीमारी से लड़ने की तैयारियां की जाएंगी. इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में हर ब्लॉक में पब्लिक हेल्थ लैब भी बनाए जाएंगे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें