1. home Hindi News
  2. health
  3. coconut vinegar what is coconut vinegar know about its amazing health benefits tvi

Coconut Vinegar: कोकोनट विनेगर क्या है? इसके हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में जानें

कोकोनट विनेगर नारियल पानी के फर्मेंटेशन प्रोसेस से बनाया जाता है. फर्मेंटेशन प्रोसेस प्रोबायोटिक्स को बढ़ाती है जो आपके पेट के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छे होते हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Coconut Vinegar
Coconut Vinegar
Prabhat Khabar Graphics

Coconut Vinegar: नारियल का सिरका या कोकोनट विनेगर नारियल पानी के फर्मेंटेशन प्रोसेस से बनाया जाता है. फर्मेंटेशन प्रोसेस प्रोबायोटिक्स को बढ़ाती है जो आपके पेट के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छे होते हैं और कहा जाता है कि इस मिश्रण में अधिक विटामिन, मिनरल्स और अन्य आवश्यक तत्व होते हैं जो इसे सेब साइडर सिरका की तुलना में बेहतर विकल्प बनाते हैं. नारियल के सिरके के अनगिनत फायदे हैं. आगे पढ़ें.

लीवर को स्वस्थ रखता है

बीएमसी कॉम्प्लिमेंटरी और अल्टरनेटिव मेडिसिन में प्रकाशित शोध के अनुसार, 2017 में, नारियल के पानी को लीवर के फंग्शन में सुधार करने के लिए बेहतर माना जाता है. रिसर्च में 14 चूहों को नारियल के सिरके का इंजेक्शन लगाया गया था और परिणाम आशाजनक थे. लीवर में एंटीऑक्सीडेंट का स्तर बढ़ गया, सूजन कम हो गई, और लीवर हिस्टोलॉजी में सुधार हुआ.

कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ में सुधार करने में मदद करता है

नारियल के सिरके से सेब के सिरके के समान लाभ होते हैं. मौजूदा शोध से पता चलता है कि नारियल का सिरका हार्ट हेल्थ को भी बढ़ावा देता है क्योंकि यह कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करता है. हालांकि, इसका पता लगाने के लिए और अधिक रिसर्च की आवश्यकता है.

स्किन हेल्थ में सुधार करने में मदद करता है

नारियल का सिरका मुंहासों से लड़ने में मदद करता है और त्वचा की उम्र को कम करने में मदद करता है. त्वचा की समस्याएं जैसे कि काले घेरे, मुंहासों के निशान, काले धब्बे और झुर्रियां बहुत से लोगों में आम होती हैं. ऐसे लोगों को अपने स्किन के हेल्थ में सुधार और त्वचा की इन समस्याओं को रोकने के लिए नियमित सिरके को नारियल के सिरके से बदलना चाहिए.

कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) है

नारियल के सिरके का जीआई इंडेक्स (35) बहुत कम होता है. ग्लाइसेमिक इंडेक्स किसी विशेष भोजन में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को इंगित करता है. लेकिन इतने कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स का मतलब है कि नारियल का सिरका मधुमेह के रोगियों के लिए एकदम सही है क्योंकि यह रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद कर सकता है और मधुमेह के रोगियों को लाभ पहुंचा सकता है.

प्रोबायोटिक्स, पॉलीफेनोल्स और पोषक तत्वों से भरपूर

नारियल सिरका न केवल पोटेशियम, विटामिन सी, जिंक, बोरॉन, कॉपर, मैग्नीशियम, मैंगनीज, कोलाइन, बी विटामिन, फास्फोरस और आयरन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है, बल्कि विभिन्न प्रकार के पॉलीफेनोल्स भी हैं जो हार्ट के लिए अच्छे हैं और मधुमेह को रोकते हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें