1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. sunidhi chauhan on indian idol 12 controversy even i was told to praise the contestants in my times but i could not do this neha kakkar bud

Indian Idol 12 : सुनिधि चौहान का खुलासा - मुझे भी कंटेस्टेंट की तारीफ करने को कहा था, इसलिए किसी शो का हिस्सा नहीं हूं

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Sunidhi Chauhan on Indian Idol 12 controversy
Sunidhi Chauhan on Indian Idol 12 controversy
instagram

Sunidhi Chauhan on Indian Idol 12 controversy : रिएलिटी शो इंडियन आइडल 12 (Indian Idol 12) लगातार विवादों में हैं. हाल ही में किशोर कुमार के बेटे अमित कुमार शो में गेस्ट बनकर आये थे. लेकिन शो के बाद उन्होंने यह कहकर दर्शकों को हैरान कर दिया कि उन्हें सभी कंटेस्टेंट की तारीफ करने को कहा था. उनके इस बयान के बाद लोग लगातार इस शो पर निशाना साध रहे हैं. अब इस विवाद पर सिंगर सुनिधि चौहान (Sunidhi Chauhan) की प्रतिक्रिया सामने आई है. उन्होंने इस शो के पांचवें और छठे सीजन को होस्ट किया था.

सिंगर ने यह कहकर चौंका दिया कि, उन्हें भी कंटेस्टेंट की तारीफ करने के लिए कहा गया था. ईटाइम्स को दिये इंटरव्यू में सिंगर ने कहा, "सिर्फ ऐसा ही नहीं है, लेकिन हां, हम सभी को (प्रशंसा करने के लिए) कहा गया था. ये बेसिक चीज है, और इसलिए मैं आगे नहीं बढ़ सकी. मैं वह नहीं कर सकी जो वो चाहते थे और मुझे इससे अलग होना पड़ा. इसलिए आज मैं किसी रियलिटी शो को जज नहीं कर रही हूं.'

क्या इंडियन आइडल के निर्माता केवल शो को आगे बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं? इस बारे में सुनिधि चौहान ने तर्क दिया कि बहुत ज्यादा कंपीटीशन है. उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि ऐसा ध्यान खींचने के लिए किया जाता है. मुझे लगता है कि दर्शकों को बांधने का ये एक तरीका है. मान लीजिए यह काम करता है."

सुनिधि चौहान ने कहा कि इस तरह के प्लेटफॉर्म संगीत प्रेमियों के लिए एक बड़ा टिकट बन गए हैं. सुनिधि ने कहा, "लेकिन इसमें कलाकार का ही नुक्सान होता है. उन्हें अपनी कहानियों की वजह से लगभग रातोंरात तारीफ और पहचान मिलती है और उनके बेहतर करने की कोशिश कम हो जाती है. हां, उनमें से कुछ अभी भी कड़ी मेहनत करते हैं लेकिन तत्काल प्रसिद्धि उन्हें मनोवैज्ञानिक रूप से प्रभावित करती है. यह बहुत जल्द बहुत ज्यादा मिलने का एक साधारण मामला है. ये कंटेस्टेंट्स की गलती नहीं है, यह सिर्फ इसलिए है क्योंकि इस खेल का नाम टीआरपी है."

सिंगर ने आगे कहा, "मैंने 'दिल है हिंदुस्तानी', 'द वॉयस' और 'इंडियन आइडल' को जज किया है. मैं तब सच बोल सकती थी. आज भी मैं वही कहना चाहूंगी जो मैं वास्तव में महसूस करती हूं. यह उन पर निर्भर है कि वे मुझे रखना चाहते हैं या नहीं. " सुनिधि ने यह भी संकेत दिया कि जब कंटेस्टेंट सिर्फ अपने बारे में तारीफ सुनता है, तो यह उसके लिए भ्रमित होना लाजिमी है, लेकिन दर्शक समझते हैं."

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें