1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. pankaj tripathi talks about his upcoming film kaagaz shooting experience based on true story releases on zee5 on7 january 2021 bud

खुद को जिंदा साबित कर रहे पंकज त्रिपाठी, जानिए क्यों रचा गया उनके मौत का झूठा ढोंग?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
pankaj tripathi
pankaj tripathi

एक्‍टर पंकज त्र‍िपाठी की आनेवाली फिल्‍म 'कागज़' का ट्रेलर जारी कर दिया गया है. जी5 (Zee5) पर रिलीज होनवाली इस फिल्‍म का निर्देशन सतीश कौशिक ने किया है, जो एक सच्ची कहानी से प्रेरित है. फिल्म में एक ऐसे शख्स का सफर दिखाया गया है, जिसकी मौत का झूठा ढोंग रचा जाता है और उसकी संपत्ति हड़पने के लिए उसके रिश्तेदारों द्वारा झूठे दस्तावेज बनवाए जाते है.

कहानी में यह बताया गया है कि कैसे पंकज उर्फ लाल सिंह सरकार और अधिकारियों को यह साबित करने की कोशिश करता है कि वह हकीकत में जीवित है. फिल्म की शूटिंग और सेट पर होने की बात करते हुए पंकज ने कहा, “यह एक अच्छा अनुभव था. हम सीतापुर, बिस्वा कंदूनी के पास शूटिंग कर रहे थे. हम रोजाना 60 से 70 किलोमीटर का सफ़र करते थे.”

उन्‍होंने आगे बताया, “रास्ते में, मुझे बहुत बेहद खुशी का अनुभव हुआ करता था क्योंकि मुझे ऐसा लगता था कि जैसे मैं अपने गांव जा रहा हूं. मैंने कुछ फॉर्म-फ्रेश सब्जियां भी खरीदीं और अपने लिए खाना भी तैयार किया. यही नहीं, खेत में ट्रैक्टरों को देखने के बाद, बीते दिनों की यादें ताज़ा हो गई." पंकज त्र‍िपाठी ने ये भी बताया कि इस फ़िल्म में उनके किरदार की जर्नी को 18 साल तक के समय को दिखाया गया है, जिसके लिए उनके लुक में भी कहानी के अनुरूप बदलाव किया गया है.

एक लीड एक्‍टर के तौर पर पंकज त्रिपाठी की पहली फिल्म है. सलमान खान प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित और सतीश कौशिक द्वारा निर्देशित है, जो फिल्म में अभिनय भी कर रहे हैं. हाल ही में सतीश कौशिक और पकंज त्र‍िपाठी शो के प्रमोशन के लिए सलमान खान के शो बिग बॉस 14 में पहुंचे थे. जहां सतीश कौशिक ने खुलासा किया था कि एक जिंदा व्‍यक्ति को खुद को कागज में जिंदा सागित करने के लिए 18 साल तक जूझना पड़ा. फिल्‍म में इसी घटना को दिखाया गया है.

फिल्म की कहानी

फिल्म में पंकज त्रिपाठी ने एक ऐसे शख्स की भूमिका निभाई है जो कागजी तौर पर मर चुका है और अब दर-दर जाकर कोशिश कर रहा है कि किसी तरह अपने जिंदा होने का प्रमाण जुटा सके. यह फिल्म सच्ची घटना पर आधारित है. आजमगढ़ के भारत लाल उर्फ लाल बिहारी की जिंदगी पर आधारित ये फिल्म उनके 18 साल के संघर्ष को दिखाती है.

फिल्म 7 जनवरी को वीडियो स्ट्रीमिंग पोर्टल जी5 पर रिलीज होगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें