1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. bollywood
  4. sushant singh rajput speech on iit bombay 2016 video is going viral kriti sanon karan johar kangana ranaut aaliya bhatt

Sushant Singh Rajput ने 2016 में आईआईटी बॉम्बे में सुनाया था जिंदगी का फलसफा, वायरल हो रहा है वीडियो

By Shaurya Punj
Updated Date
twitter

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद लोग काफी दुखी हैं. खासकर सुशांत की मौत उनके फैंस के लिए असहनीय हो गया है. सोशल मीडिया पर सुशांत के फैंस उन्हें याद कर रहे हैं. अब सुशांत का एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है, यह वीडियो 2016 की है. सुशांत इस वीडियो में मेहता स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, आईआईटी बॉम्बे में बोल रहे हैं, इस वीडियो में सुशांत अपने जीवन से जुड़े कई पहलुओं को साझा करते नजर आ रहे हैं.

अभिनेता ने यह कहकर अपना भाषण शुरू किया कि वह एक अत्यंत अंतर्मुखी व्यक्ति है, और ऐसा इसलिए था क्योंकि उन्हें बचपन में काफी लाड़- दुलार मिला था। उन्होंने कहा, "अगर मैं लड़खड़ाता हूं तो मुझे माफ करना, अगर मुझे पैनिक अटैक आ जाए तो मुझे माफ करना." पैसा और शोहरत खुशी के बराबर है सफलता के बराबर है. अभिनेता ने कहा, "मैं एक मध्यम वर्गीय परिवार से आता हूं, और जब मैं बड़ा हो रहा था, तब मेरे जीवन में पैसा एक बड़ा अंतर था."

अभिनेता आगे कहते हैं कि उन्हें उनके परिवार वालों ने कहा कि उन्हें एक इंजीनियर बनना है. एक बार इंजीनियर बनने के बाद वो आगे चलकर सिविल सेवा परीक्षा की कोशिश कर सकते हैं, और यह सभी प्रकार की खुशी के लिए दरवाजे खोल देगा. अभिनेता ने बताया कि आखिरकार उन्होंने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में दाखिला लिया.

अभिनेता ने कहा कि वह पूरी तरह से महसूस नहीं कर रहे थे, और अपनी डिग्री प्राप्त करने से पहले सिर्फ दो सेमेस्टर तक कॉलेज की पढ़ाई की, फिर वह एक फिल्म स्टार बनने के सपने के साथ कॉलेज से बाहर हो गए. उन्होंने सभी बड़े सितारों के लिए एक बैकग्राउंड डांसर के रूप में शुरुआत की, और खुद को बताएंगे कि वे वास्तव में तीन कदम दूर हैं जहां वे थे. दो साल बाद, उन्हें एक प्राइमटाइम टेलीविजन शो में अभिनय करने के लिए चुना गया.

उन्होंने कहा कि शो के सफल होने के बाद, उन्होंने खुद का एक घर, और एक कार खरीदी. उन्होंने कहा कि उन्हें हर चीज की आदत हो गई और उन्हें ठगा महसूस हुआ. वे अपने जीवन के 10 और 15 साल तक इन सभी सपनों के साथ रहा. किन ये सभी चीजें सिर्फ कुछ दिनों के लिए उनके साथ रहीं.

उन्होंने कहा, "मुझे सफलता का यह संस्करण पसंद नहीं आया, और भविष्य मुझे फिर से वर्तमान में जी रहा था. लेकिन यह मैंने तय किया ... अन्यथा. मैं कुछ और होता. मैं कुछ और करूंगा. ”

आगे क्या होगा, ये सोचकर वे परेशान भी रहते थे. उन्होंने बताया कि वो अतीत से भविष्य तक लगातार झूल रहे थे, वास्तविक अर्थों में नहीं. और पहली बार, एक लंबे समय में, उन्होंने सफलता के सही अर्थ को समझा, जो कि पैसे की पहचान नहीं थी, लेकिन अब 'प्लस एक्साइटमेंट' है.

अभिनेता ने अंत में निष्कर्ष निकाला कि यहां वो अभी लाइन से पांच साल से इस क्षेत्र में हैं पर पैसा और प्रसिद्धि, यह सब अभी भी उनके जीवन में प्रतिष्ठा नहीं मिल पाई. उन्होंने ये भी कहा कि उन्होंने जितनी योजना बनाई थी, उससे कहीं अधिक उनके पास है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें