1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. bollywood
  4. akshay kumar says i would request the government to make prithviraj compulsory in school syllabus bud

सरकार से ये अपील करेंगे अक्षय कुमार, इस वजह से सभी स्कूलों में दिखायी जाये फिल्म 'पृथ्वीराज'

अक्षय कुमार की आगामी फिल्म 'पृथ्वीराज' का ट्रेलर रिलीज कर दिया गया है. ऐतिहासिक युद्ध की कहानी में महान योद्धा पृथ्वीराज चौहान की भूमिका निभाते नजर आ रहे हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Akshay Kumar
Akshay Kumar
instagram

सुपरस्टार अक्षय कुमार की आगामी फिल्म 'पृथ्वीराज' का ट्रेलर रिलीज कर दिया गया है. ऐतिहासिक युद्ध की कहानी में महान योद्धा पृथ्वीराज चौहान की भूमिका निभाते नजर आ रहे हैं. फिल्म में सोनू सूद और संजय दत्त मुख्य भूमिका में नजर आ रहे हैं. वहीं फिल्म से पूर्व मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर बॉलीवुड में डेब्यू करने जा रही हैं. वो फिल्म में राजकुमारी संयोगिता की भूमिका निभा रही हैं.

ये कहानी इतने लंबे समय से अज्ञात है

इस फिल्म के बारे में बात करते हुए अक्षय कुमार ने कहा कि, अपने 30 साल के लंबे अभिनय करियर में उन्हें इस तरह की विशाल ऐतिहासिक फिल्म का हिस्सा बनने का मौका कभी नहीं मिला. उन्होंने कि, “जब डॉ चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने मुझे फिल्म की कहानी सुनाई और मुझे यह किरदार निभाने के लिए कहा, तो यह बहुत गर्व का क्षण था. मुझे मेरा जीवन सफल हुआ महसूस हुआ. फिल्म में दिखाया गया सब कुछ प्रामाणिक और सही है. यह चौंकाने वाली बात है कि कहानी इतने लंबे समय से अज्ञात है."

कितना बड़े योद्धा थे पृथ्वीराज

अभिनेता को यह भी लगता है कि फिल्म हर बच्चे को देखनी चाहिए ताकि उन्हें एक गौरवान्वित योद्धा का ज्ञान हो. खिलाड़ी कुमार ने कहा, "मुझे मेरे निर्देशक द्वारा 'पृथ्वीराज रासो' पढ़ने के लिए एक किताब दी गई थी. मैंने धीरे-धीरे किताब पढ़ी और महसूस किया कि वह कितना बड़ा योद्धा था. लेकिन जब हमने इतिहास में उनके बारे में पढ़ा, तो वह सिर्फ एक पैराग्राफ में सिमट कर रह गए."

भारत ही नहीं बल्कि दुनिया में हर बच्चा फिल्म देखे

उन्होंने आगे कहा, "आज, मैं चाहता हूं कि न केवल भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया का हर बच्चा फिल्म देखे. यह एक एजुकेशनल फिल्म है. आप अपने बच्चों को दिखाना चाहेंगे कि सम्राट पृथ्वीराज चौहान की कहानी क्या थी. मुझे फिल्म में काम करने पर बेहद गर्व है. मैं सरकार से यह भी अनुरोध करूंगा कि वे इसे स्कूल में अनिवार्य रूप से देखें, ताकि बच्चे हमारे इतिहास के बारे में जान सकें कि सब कुछ क्या और कैसे हुआ.

इस वजह से फिल्म की रिलीज में हुई देरी

अपनी माँ को याद करते हुए कुमार की आँखों में आंसू आ गए. उन्होंने कहा, “काश मेरी मां ने फिल्म देखी होती. अगर वह यहां होतीं, तो उन्हें बहुत गर्व होता." फिल्म के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, “मैंने 42 दिनों में फिल्म पूरी की. महामारी के कारण फिल्म में देरी हुई वरना हम इसे बहुत पहले रिलीज कर देते. मैं सेट पर आता था, अपने डायरेक्टर के साथ बैठता था, समझने की कोशिश करता कि वह मुझसे क्या चाहते हैं, इसलिए मेरी रिहर्सल और फिर परफॉर्म करती हूं. अगर मैं कहूं कि फिल्म के लिए मैंने काफी मेहनत की है तो मैं झूठ बोलूंगा. मैंने फिल्म में जो कुछ भी किया है वह निर्देशक के इनपुट के साथ है.”

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें