25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

International Nurses Day 2024 : नर्सिंग करियर में हैं बेहतरीन संभावनाएं

मई की 12 तारीख को दुनिया भर में अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाया जाता है. नर्सिंग सेवा भाव से जुड़ा एक ऐसा पेशा है, जिसे बेहद सम्मान से देखा जाता है. जानें इस करियर में कैसे बढ़ सकते हैं आगे...

International Nurses Day 2024 : नर्सिंग पेशेवरों को आभार व्यक्त करने के लिए हर साल 12 मई को फ्लोरेंस नाइटिंगेल के जन्म दिवस के रूप में दुनिया भर में अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाया जाता है. नर्सिंग प्रोफेशनल्स भारत समेत दुनिया भर में स्वास्थ्य देखभाल की रीढ़ की तरह होते है. यही वजह है कि सरकारी से लेकर प्राइवेट तक एक प्रशिक्षित नर्स के लिए बेहतरीन मौके उपलब्ध हैं. नर्सिंग करियर उन लोगों का अपार संभावनाएं प्रदान करता है, जो रोगियों की देखभाल के प्रति जुनूनी हैं. जानें, नर्सिंग में कैसे बना सकते हैं करियर…

बारहवीं के बाद आगे बढ़ें आगे

फिजिक्स, केमिस्ट्री एवं बायोलॉजी से 12वीं पास करने के बाद नर्सिंग के स्नातक कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं. स्नातक कोर्स की अवधि आमतौर पर तीन से चार वर्ष होती है. नर्सिंग में स्नातक की डिग्री मास्टर कोर्स में प्रवेश का रास्ता बनाती है, जिसकी अवधि दो वर्ष होती है. इसके बाद पीएचडी करने का भी विकल्प होता है. नर्सिंग में डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं, जिसके लिए फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी में बारहवीं पास होना चाहिए. आर्म्ड फोर्सेज मेडिकल सर्विसेज के नर्सिंग कॉलेजों में चार वर्षीय बीएससी (नर्सिंग) कोर्स में प्रवेश के लिए नीट यूजी का स्कोर आवश्यक है.

कोर्स, जिनसे बनेगा करियर

स्नातक कोर्स : बीएससी नर्सिंग. बीएससी (ऑनर्स) नर्सिंग, पोस्ट बेसिक बीएससी नर्सिंग.
डिप्लोमा कोर्स : ऑग्जिल्यरी नर्स मिडवाइफ (एएनएम). जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफ (जीएनएम).
पीजी डिग्री कोर्स : एमएससी नर्सिंग.
डॉक्टोरल कोर्स : नर्सिंग में एमफिल एवं पीएचडी.
स्पेशलाइजेशन कोर्स : ऑर्थोपेडिक एवं रिहैबिलिटेशन नर्सिंग. न्यूरो नर्सिंग. नर्सिंग एजुकेशन एंड एडमिनिस्ट्रेशन. साइकेट्रिक नर्सिंग. नीओनेटल नर्सिंग. साइकेट्रिक नर्सिंग. ऑन्कोलॉजी नर्सिंग. क्रिटिकल केयर नर्सिंग. प्रैक्टिशनर इन मिडवाइफरी. इमरजेंसी एंड डिजास्टर नर्सिंग. कार्डियो थोरेसिक नर्सिंग. ऑपरेशन रूम नर्सिंग.

जॉब की संभावनाएं हैं यहां

सरकारी अस्पतालों, सेना के अस्पतालों से लेकर प्राइवेट हॉस्पिटल एवं क्लीनिक में नर्स के लिए जॉब के अवसर होते हैं. नर्सिंग कोर्स के बाद सरकारी एवं प्राइवेट अस्पतालों, सशस्त्र बल, ओल्ड एज होम, अनाथालयों, क्लीनिक आदि में जॉब शुरू करने का विकल्प मिलता है. इसके अलावा भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी, स्टेट नर्सिंग काउंसिल, इंडियन नर्सिंग काउंसिल और कई अन्य क्षेत्रों में नर्स के लिए संभावनाएं मौजूद हैं. नर्सिंग में उच्च शिक्षा हासिल करने के बाद नर्सिंग कॉलेज में अध्यापन का भी विकल्प है. एक पेशेवर नर्स के तौर पर स्टाफ नर्स, नर्सिंग सुपरिंटेंडेंट, असिस्टेंट नर्सिंग सुपरिंटेंडेंट, डिपार्टमेंट सुपरवाइजर, वार्ड सिस्टर, कम्युनिटी हेल्थ नर्स, मिलिट्री नर्स, नर्सिंग टीचर, नर्सिंग सर्विस एडमिनिस्ट्रेटर आदि के तौर पर काम कर सकते हैं.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें