1. home Hindi News
  2. career
  3. sarkari naukri 2021 phd and net mandatory to become an assistant professor new rule to be applicable from this year 2021 22 amh

Sarkari Naukri 2021 : सहायक प्रोफेसर बनने के लिए अब जरूरी है ये, जानें नया नियम

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Assistant Professor Job/Sarkari Naukri 2021
Assistant Professor Job/Sarkari Naukri 2021
Social Media

Assistant Professor Job/Sarkari Naukri 2021 : यदि आपने पीएचडी, नेट-सेट क्वालिफाई की है और नौकरी की तलाश में हैं तो यह खबर आपके काम की है. जी हां...मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने देश भर के विश्वविद्यालयों में सहायक प्रोफेसर की भर्ती के लिए पीएचडी और यूजीसी नेट (Phd and NET mandatory) दोनों को अनिवार्य करने का काम किया है.

आगामी सत्र 2021-22 से यह नियम लागू कर दिया जाएगा. यहां चर्चा कर दें कि इससे पहले सहायक प्रोफेसर की नियुक्ति के लिए यूजीसी नेट पास होना या फिर पीएचडी की डिग्री होना अनिवार्य थी.

जानें कब बना था नियम : यदि आपको याद हो तो शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए शिक्षा मंत्रालय ने 2018 में ही इस नियम को बनाने का काम किया था. लेकिन इसके बाद से इसे लागू नहीं किया गया था. अब इस वर्ष इसको लागू करने की तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं. अब पीएचडी की डिग्री पूरी किए बिना नियुक्ति प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ेगी यानी ये जरूरी होगा.

अभी तक क्या था नियम : अभी तक के नियम की बात करें तो जो अभ्यर्थी पीएचडी कर लेता था, उसे नेट पास करना जरूरी नहीं होता था. वहीं दूसरी ओर, जो अभ्यर्थी नेट पास कर लेते थे वे बिना पीएचडी के भी सहायक प्रोफेसर की बनने में सक्षम होते थे. लेकिन अब पीएचडी और यूजीसी नेट दोनों को जरूरी कर दिया गया है.

चयन के दौरान क्या था फायदा: सहायक प्रोफेसर की नियुक्ति की बात करें तो इस दौरान नेट की परीक्षा पास करने वाले अभ्यर्थियों को 5 से 10 अंकों का वेटेज देने का काम किया जाता था. जबकि पीएचडी अभ्यर्थियों को 30 अंकों का लाभ होता था. ऐसे में नेट अभ्यर्थी मेरिट में पिछड़ जाते थे. इसी को देखते हुए पीएचडी और नेट दोनों को जरूरी करने का काम किया गया है.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें