27.5 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

भाजपा में कौन होंगे अगले राष्ट्रीय अध्यक्ष? 30 जून को समाप्त होगा जेपी नड्डा का कार्यकाल

BJP National President: भाजपा के वर्तमान अध्यक्ष जेपी नड्डा पार्टी के नए अध्यक्ष के चयन तक अपने पद पर बने रहेंगे. हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्ट में इस बात की भी चर्चा की जा रही है कि भाजपा के अध्यक्ष पद का चुनाव सितंबर तक पूरा किया जा सकता है, लेकिन कुछ रिपोर्ट में यह भी कहा जा रहा है कि 30 जून से पहले पार्टी को नए अध्यक्ष का चयन करना है.

BJP National President: केंद्र में सत्तारूढ़ दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अगले राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव को लेकर कवायद शुरू हो गई है. वर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का कार्यकाल 30 जून 2024 को पूरा होने वाला है. पार्टी को इससे पहले अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष का चयन कर लेना है. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर जेपी नड्डा का कार्यकाल जनवरी 2024 में ही पूरा हो चुका था, लेकिन लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उनके कार्यकाल को 30 जून तक बढ़ा दिया गया. फिलहाल, मोदी 3.0 सरकार में जेपी नड्डा को स्वास्थ्य मंत्रालय का जिम्मा दिया गया है. अब भाजपा में उनके उत्तराधिकारी को लेकर चर्चा और प्रक्रिया शुरू हो गई है.

नए अध्यक्ष के चयन तक पद पर बने रहेंगे जेपी नड्डा

मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, भाजपा के वर्तमान अध्यक्ष जेपी नड्डा पार्टी के नए अध्यक्ष के चयन तक अपने पद पर बने रहेंगे. हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्ट में इस बात की भी चर्चा की जा रही है कि भाजपा के अध्यक्ष पद का चुनाव सितंबर तक पूरा किया जा सकता है, लेकिन कुछ रिपोर्ट में यह भी कहा जा रहा है कि 30 जून से पहले पार्टी को नए अध्यक्ष का चयन करना है. इसका कारण यह है कि लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद उन्हें स्वास्थ्य मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है. साल 2019 में भाजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने से पहले मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में भी नड्डा के पास यही मंत्रालय था. जेपी नड्डा का अध्यक्ष के रूप में कार्यकाल जनवरी में ही समाप्त हो गया था, लेकिन वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उन्हें छह महीने का सेवा विस्तार दिया गया था. अब उनका कार्यकाल जून में समाप्त होगा.

अध्यक्ष पद की दौड़ में तीन नेता शामिल

सूत्रों के हवाले से मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार, भाजपा के अगले अध्यक्ष पद की दौड़ में जो लोग शामिल हैं, उनमें महाराष्ट्र के पार्टी नेता और राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े का नाम सबसे ऊपर है. विनोद तावड़े भाजपा की बिहार इकाई के प्रभारी भी रह चुके हैं और बताया जा रहा है कि अभी हाल के महीनों में बिहार की सियासत में हुए बदलाव में इनकी भूमिका अहम है. इसके बाद राधामोहन सिंह के नाम की भी चर्चा की जा रही है. इसके अलावा, तीसरा नाम आदिवासी चेहरा फगन सिंह कुलस्ते का है. इस दौड़ में चौथा नाम अनुराग ठाकुर का भी शामिल है. इन चार नामों के अलावा, एक और चर्चा चल रही है कि इस भाजपा का फोकस दक्षिण भारत के राज्यों में अपनी पकड़ बनाने पर टिका है. इसलिए, दक्षिण भारत का कोई दिग्गज नेता भाजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकता है. हालांकि, अभी उनके नाम का खुलासा नहीं हुआ है.

और पढ़ें: ICICI Bank के क्रेडिट कार्ड धारक कृपया ध्यान दें! 1 जुलाई से बढ़ने जा रहे ये चार्ज

दक्षिण भारत और महाराष्ट्र पर भाजपा का फोकस

पार्टी के सूत्रों का कहना है कि भाजपा महाराष्ट्र या फिर दक्षिण भारत के किसी दिग्गज चेहरे को राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंप सकती है. इसका कारण यह है कि दक्षिण भारत में भाजपा को अपनी पैठ बनानी है और महाराष्ट्र में उसे अपना खोया हुआ जनाधार वापस लाना है. महाराष्ट्र में इस समय वह एकनाथ शिंदे वाली सरकार का समर्थन कर रही है.

और पढ़ें: सेबी ने डीमैट और म्यूचुअल फंड नियमों दी ढील, नामांकन का ऑप्शन न देने पर खाते नहीं होंगे फ्रीज

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें