30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Tesla Layoff: बड़ी छंटनी करने वाला है टेस्ला, 15 हजार लोगों की जाएगी नौकरी, Elon Musk ने खुद बतायी वजह

Tesla Layoff: भारत में टेस्ल की जल्द एंट्री होने वाली है. हालांकि, अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी अपने ग्लोबल वर्क फोर्स में करीब 10 प्रतिशत की कटौती करने का मन बना रही है. कर्मचारियों की छंटनी से पहले एलन मस्क ने इसका कारण कर्मचारियों के साथ शेयर किया है. आइये जानते हैं डिटेल.

Tesla Layoff: साल 2024, प्राइवेट कंपनियों में नौकरी कंपने वालों के लिए बेहतर नहीं रहा है. बताया जा रहा है कि छंटनी की आग इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली दुनिया सबसे बड़ी कंपनी टेस्ल तक पहुंच गयी है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी अपने ग्लोबल वर्कफोर्स में करीब 10 प्रतिशत की कटौती करने का विचार कर रही है. अमेरिकी न्यूज वेबसाइट Electrek के अनुसार, इलेक्ट्रिक व्हीकल की डिमांड में कमी आयी है. इसके कारण टेस्ला ने छंटनी का फैसला लिया है. टेस्ला के दिसंबर 2023 में जारी एनुअल रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी के पास ग्लोबल लेवल पर 140,473 कर्मचारी थे. ऐसे में माना जा रहा है कि अब कंपनी 15 हजार कर्मतारियों को बाहर का रास्ता दिखा सकती है.

एलन मस्क ने खुद बताया छंचनी का कारण

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी के सीईओ एलन मस्क के द्वारा कर्मचारियों को एक ईमेल भेजा गया है. इसमें कहा गया है कि कुछ एरिया में रोल्स और जॉब फंक्शन के दोहराव के कारण कंपनी को ये फैसला लेना पड़ा है. उन्होंने कहा कि हम कंपनी को अगले फेज के ग्रोथ के लिए तैयार कर रहे हैं. ऐसे में हम लागत में कटौती करने और प्रोडक्शन को बढ़ाने पर गौर कर रहे हैं. इसी कड़ी में हमने ऑर्गेनाइजेशन की गहन समीक्षा की है. इसके बाद, विश्वस्तर पर कर्मचारियों की संख्या को 10 प्रतिशत तक कम करने का विचारि किया गया है. हालांकि, टेस्ला ने मामले में पूछे गए सवाल का कोई जवाब नहीं दिया है.

Also Read: घरेलू बाजार में फिर दिखी बिकवाली, ईरान-इजरायल टेंशन की भेंट चढ़ा बाजार, सेंसेक्स 427 अंक टूटा

व्हीकल डिलीवरी में आयी गिरावट

टेस्ला के द्वारा साल के पहले तिमाही में व्हीकल डिलीवरी में गिरावट दर्ज की है. हालांकि, टेस्ला के साथ पिछले चार सालों में पहली बार हुआ है जब, कंपनी के उत्पाद की बिक्री बाजार की उम्मीदों से कम हुई है. इस बीच, कंपनी आमलोगों के लिए सस्ती इलेक्ट्रीक कार बनाने की अपनी योजना को भी रद्द कर दिया है. पिछले एक साल में टेस्ला के स्टॉक में 31 प्रतिशत की गिरावट देखने को मिल है. एसएंडपी 500 इंडेक्स में इसे सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले स्टॉक में शामिल किया गया है. सप्ताह के पहले कारोबारी दिन भी टेस्ला के स्टॉक करीब 1.2 प्रतिशत गिर गए थे.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें