26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Stocks में लिवाली से सेंसेक्स 253 अंक मजबूत, निफ्टी में भी आई तेजी

Stock Market: मिलेजुले वैश्विक संकेतों और अमेरिकी फेड रिजर्व को लेकर अनिश्चितता होने के बावजूद भारतीय बाजार वापसी करने में सफल रहे. यह मुख्य रूप से व्यापक बाजार के बेहतर प्रदर्शन और सकारात्मक तिमाही नतीजों से प्रेरित था.

Stock Market: मिलजुले वैश्विक संकेतों के बीच स्थानीय स्तर पर महिंद्रा एंड महिंद्रा, रिलायंस इंडस्ट्रीज और आईटीसी जैसी दिग्गज कंपनियों में खरीदारी आने से शुक्रवार को बाजार बढ़त के साथ बंद हुए. सेंसेक्स 253 अंक चढ़ा जबकि निफ्टी में 62 अंक की तेजी रही. बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्स अंतिम दौर की खरीदारी आने से शुरुआती निचले स्तर से उबरने में सफल रहा. सेंसेक्स 253.31 अंक यानी 0.34 प्रतिशत चढ़कर 73,917.03 पर बंद हुआ. बीएसई सेंसेक्स बृहस्पतिवार 676.69 अंक चढ़कर 73,663.72 और एनएसई निफ्टी 203.30 अंक बढ़कर 22,403.85 अंक पर बंद हुआ था. वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का सूचकांक निफ्टी भी 62.25 अंक यानी 0.28 प्रतिशत बढ़कर 22,466.10 अंक पर पहुंच गया.

महिंद्रा एंड महिंद्रा टॉप गेनर

सेंसेक्स के समूह में शामिल महिंद्रा एंड महिंद्रा (एमएंडएम) में सर्वाधिक 5.97 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई. इसके बाद जेएसडब्ल्यू स्टील, अल्ट्रा सीमेंट, कोटक बैंक, आईटीसी और एनटीपीसी का स्थान रहा. रिलायंस इंडस्ट्रीज भी 0.73 फीसदी बढ़ गया. इसके उलट टीसीएस, एचसीएल टेक, एचयूएल, नेस्ले इंडस्ट्रीज, बजाज फिनसर्व, विप्रो और इन्फोसिस के शेयर नुकसान के साथ बंद हुए.

दूसरे बाजारों का क्या है हाल

एशिया के अन्य बाजारों में चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग बढ़त के साथ बंद हुए, जबकि दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की गिरावट में रहे. यूरोप के बाजारों में गिरावट के साथ कारोबार चल रहा था. गुरुवार को अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद हुए थे. वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.25 प्रतिशत बढ़कर 83.48 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बृहस्पतिवार को 776.49 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की बिक्री की.

एक दिन में आप कितना गटक जाते हैं GST, पता है? नहीं तो पढ़िए

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि मिलेजुले वैश्विक संकेतों और अमेरिकी फेड रिजर्व को लेकर अनिश्चितता होने के बावजूद भारतीय बाजार वापसी करने में सफल रहे. यह मुख्य रूप से व्यापक बाजार के बेहतर प्रदर्शन और सकारात्मक तिमाही नतीजों से प्रेरित था.

Plane से जमकर Travel कर रहे भारतीय, टूटा 10 साल का रिकॉर्ड

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें