1. home Hindi News
  2. business
  3. sensex of bombay stock exchange dips by 1024 points gold silver surge mtj

शेयर बाजार के सेंसेक्स ने लगाया 1024 अंक का गोता, सोना-चांदी की चमक बढ़ी

BSE का सेंसेक्स 1,024 अंक का गोता लगाकर 58,000 अंक के नीचे बंद हुआ. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में तेजी के चलते सोने-चांदी की कीमतों में तेजी आयी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
शेयर मार्केट में आयी गिरावट, तो सोना-चांदी की कीमतों में आयी तेजी
शेयर मार्केट में आयी गिरावट, तो सोना-चांदी की कीमतों में आयी तेजी
Prabhat Khabar Graphics

नयी दिल्ली/मुंबई: शेयर बाजारों (Share Market News) ने सोमवार को गोता लगाया, तो सोना-चांदी (Gold-Silver Price) की चमक बढ़ गयी. बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का सेंसेक्स (Sensex) 1,024 अंक का गोता लगाकर 58,000 अंक के नीचे बंद हुआ. वहीं, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में तेजी के चलते सोने की कीमतों (Gold Price) में 146 रुपये, तो चांदी की कीमतों (Silver Price) में 635 रुपये की तेजी आयी.

146 रुपये चढ़ा सोना, चांदी के दाम 635 रुपये बढ़े

राष्ट्रीय राजधानी में सोने का भाव (Gold Price Today) सोमवार को 146 रुपये की तेजी के साथ 47,997 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया. पिछले कारोबारी दिन में सोना 47,851 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था. इसी तरह चांदी (Silver Price Today) भी 635 रुपये बढ़कर 61,391 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गयी. पिछले कारोबारी दिन में चांदी 60,756 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर बंद हुई थी.

कमजोर डॉलर के चलते सोना में तेजी

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना 1,812 डॉलर प्रति औंस और चांदी 22.75 डॉलर प्रति औंस पर थी. एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा, ‘सोमवार को कॉमेक्स में हाजिर सोने की कीमत 1,812 डॉलर प्रति औंस थी. अमेरिकी बांड प्रतिफल में बढ़ोतरी के बावजूद कमजोर डॉलर के चलते सोने की कीमतों में तेजी आयी.’

शेयर बाजारों में गिरावट जारी

शेयर बाजार में लगातार तीसरे कारोबारी सत्र में गिरावट जारी रही. बीएसई सेंसेक्स 1,024 अंक का गोता लगाकर 58,000 अंक के नीचे बंद हुआ. मुद्रास्फीति में वृद्धि के बीच विभिन्न देशों के केंद्रीय बैंकों द्वारा नीतिगत रुख कड़ा किये जाने से निवेशक चिंतित हैं, जिसका असर बाजार पर दिखा.

विदेशी निवेशकों की वजह से दबाव में बाजार

कारोबारियों ने बताया कि विदेशी निवेशकों की बाजार से पूंजी निकासी जारी रहने को लेकर चिंता से भी बाजार की धारणा पर असर पड़ा. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 1.75 प्रतिशत (1,023.63 अंक) की गिरावट के साथ 57,621.19 अंक पर बंद हुआ.

302 अंक गिरा निफ्टी

इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 302.70 अंक यानी 1.73 प्रतिशत लुढ़ककर 17,213.60 अंक पर बंद हुआ. पिछले तीन कारोबारी सत्रों में सेंसेक्स में 1,937.14 अंक की गिरावट आ चुकी है. इससे बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 5.82 लाख करोड़ रुपये घटा है.

एचडीएफसी के शेयर में सबसे ज्यादा नुकसान में

सेंसेक्स के शेयरों में एचडीएफसी बैंक 3.65 प्रतिशत की गिरावट के साथ सबसे ज्यादा नुकसान में रहा. बजाज फाइनेंस, एलएंडटी, एचडीएफसी, बजाज फिनसर्व, एचडीएफसी लिमिटेड, कोटक बैंक और विप्रो में भी बड़ी गिरावट दर्ज की गयी.

ये शेयर रहे लाभ में

पावरग्रिड, एनटीपीसी, टाटा स्टील, एसबीआई और अल्ट्राटेक सीमेंट जैसी मात्र पांच कंपनियों के शेयर लाभ में रहे. इनमें 1.88 प्रतिशत तक की तेजी देखी गयी. सेंसेक्स के शेयरों में 25 नुकसान में रहे, जबकि 5 ही लाभ में रहे.

अमेरिकी शेयर बाजार भी दबाव में

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले घरेलू बाजारों में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है. एफआईआई की बिकवाली और कमजोर वैश्विक रुख के बीच यह गिरावट आयी. अमेरिकी शेयर बाजारों में भी दबाव रहा, क्योंकि वहां बेहतर रोजगार के आंकड़ों से फेडरल बैंक के उम्मीद के मुकाबले तेजी से ब्याज दर बढ़ाये जाने की आशंका है.’

ब्याज दरों के डर से सहमे हैं बाजार

विनोद नायर ने कहा कि घरेलू बाजार में आशंका है कि रिजर्व बैंक मुद्रास्फीति में तेजी और दुनिया के अन्य केंद्रीय बैंकों द्वारा ब्याज दरों में वृद्धि को देखते हुए नीतिगत दर बढ़ा सकता है. इससे बाजार में उतार-चढ़ाव बना रह सकता है.’ महाराष्ट्र में महान गायिका लता मंगेशकर के निधन के शोक में सात फरवरी को राजकीय अवकाश के कारण मौद्रिक नीति समिति की 7-9 फरवरी को होने वाली बैठक अब 8-10 फरवरी को होगी.

मौद्रिक नीति की घोषणा 10 फरवरी को

मौद्रिक नीति बैठक के नतीजों की घोषणा 10 फरवरी को की जायेगी. एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी नुकसान में जबकि हांगकांग का हैंगसेंग और चीन का शंघाई कंपोजिट लाभ में रहे. यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में तेजी रही.

विदेशी निवेशक बने रहे बिकवाल

अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.05 प्रतिशत की गिरावट के साथ 92.29 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया. मुद्रा बाजार सोमवार को बंद रहा. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक शुद्ध बिकवाल बने हुए हैं और उन्होंने शुक्रवार को 2,267.86 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे.

Posted By: Mithilesh Jha

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें