18.1 C
Ranchi
Friday, March 1, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Share Market: भारतीय शेयर बाजार में थमा तेजी का दौर, सेंसेक्स 238 अंक टूटा, ऑटो-बैंकिंग के स्टॉक धड़ाम

Share Market Update: सुबह 9.30 बजे तक बीएसई सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 18 में गिरावट और 12 में तेजी देखने को मिल रही है. बता दें कि इससे पहले कल बाजार ने ऑल टाइम हाई बनाया था.

Share Market Update: ग्लोबल मार्केट से मिल रहे कमजोर संकेतों के बीच भारतीय शेयर बाजार में पिछले सात दिनों से जारी तेजी का दौर आज थम गया. सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 211.21 अंक गिरकर 69,442.52 पर पहुंच गया. जबकि, निफ्टी 58.95 अंक फिसलकर 20,878.75 पर आ गया. सुबह 9.30 बजे तक बीएसई सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 18 में गिरावट और 12 में तेजी देखने को मिल रही है. बता दें कि इससे पहले कल बाजार ने ऑल टाइम हाई बनाया था. आज बैकिंग और ऑटो सेक्टर के शेयरों में गिरावट देखने को मिली है. जबकि, पेटीएम के शेयर करीब 20 प्रतिशत तक टूट गए हैं. विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली के दबाव और एशियाई बाजारों से मिल रहे संकेतों के बीच बाजारों में गिरावट आई. विश्लेषकों का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजारों में कच्चे तेल की गिरती कीमतें बाजारों को बल देने में विफल रहीं क्योंकि निवेशक भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति के फैसले से पहले अपने शेयर बेचते नजर आए. सेंसेक्स की कंपनियों में हिंदुस्तान यूनिलीवर, भारती एयरटेल, आईसीआईसीआई बैंक और बजाज फाइनेंस के शेयर नुकसान में रहें. वहीं पावरग्रिड के शेयर में 1.25 प्रतिशत, अल्ट्राटेक सीमेंट में 1.07 प्रतिशत, एशियन पेंट्स में 0.96 प्रतिशत और एनटीपीसी में 0.76 प्रतिशत की तेजी आई. मारुति, कोटक महिंद्रा बैंक और एचसीएल टेक के शेयर भी लाभ में रहे. अन्य एशियाई बाजारों में जापान का निक्की नुकसान में रहा. अमेरिकी बाजार बुधवार को मिले जुले रुख के साथ बंद हुए. वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.47 प्रतिशत की बढ़त के साथ 74.65 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बुधवार को 79.88 करोड़ रुपये के शेयर बेचे.

रुपया चार पैसे की गिरावट के साथ 83.36 प्रति डॉलर पर

रुपया बृहस्पतिवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले चार पैसे की गिरावट के साथ 83.36 पर पहुंच गया. वैश्विक बाजारों में अमेरिकी मुद्रा की मजबूती और घरेलू बाजारों के नरम रुख का असर भारतीय मुद्रा पर पड़ा. विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि रुपया एक सीमित दायरे में कारोबार कर रहा है. आयातकों की मजबूत डॉलर मांग से कच्चे तेल की कीमतों में नरमी का समर्थन खत्म हो गया है. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 83.36 पर खुला, जो पिछले बंद भाव से चार पैसे की गिरावट है. रुपया बुधवार को अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले 83.32 पर बंद हुआ था. इस बीच दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.03 प्रतिशत की बढ़त के साथ 104.17 पर रहा. वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.50 प्रतिशत की बढ़त के साथ 74.67 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बुधवार को 79.88 करोड़ रुपये के शेयर बेचे.

Also Read: Share Market: Adani, Delta Corp, Paytm, Bharti Airtel, BEL समेत इन शेयरों में दिखेगा एक्शन, अभी बना लें लिस्ट

कल ऑल टाइम हाई पर बंद हुआ था बाजार

कल बीएसई सेंसेक्स 358 अंक की बढ़त के साथ नये रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ. एनएसई निफ्टी भी अपने अबतक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया. कारोबारियों के अनुसार, सूचकांक में मजबूत हिस्सेदारी रखने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी और एलएंडटी में लिवाली के साथ विदेशी संस्थागत निवेशकों के पूंजी प्रवाह से बाजार में तेजी रही. इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में नरमी से भी धारणा मजबूत हुई. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 357.59 अंक यानी 0.52 प्रतिशत की बढ़त के साथ नये रिकॉर्ड स्तर 69,653.73 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 69,744.62 अंक तक चला गया था. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 82.60 अंक यानी 0.40 प्रतिशत मजबूत होकर अपने अबतक के उच्चतम स्तर 20,937.70 अंक पर बंद हुआ.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें