26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

आ गया एसबीआई म्यूचुअल फंड का पहला ऑटो फंड, 31 मई तक निवेश करने का मौका

SBI Mutual Fund: एसबीआई ऑटोमोटिव अपॉर्च्यूनिटीज फंड ऑटोमोटिव सेक्टर की कंपनियों में कुल निवेश का करीब 80 फीसदी रकम निवेश करती है. इसके अलावा, इसके जरिए एयरलाइंस और शिपिंग सेक्टर्स में भी निवेश किया जाता है.

SBI Mutual Fund: देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई म्यूचुअल फंड ने अपना पहला ऑटोमोटिव अपॉर्च्यूनिटी फंड को बाजार में पेश कर दिया है. उसने इस एनएफओ को 17 मई 2024 को बाजार में उतारा है. जो लोग एसबीआई म्यूचुअल फंड में निवेश करने का प्लान बना रहे हैं, उनके लिए फिलहाल बेहतरीन मौका है. वे 31 मई 2024 तक इसमें निवेश कर सकते हैं.

ऑटो सेक्टर की कंपनियों में निवेश

मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, यह भारत का पहला ऐसा एक्टिव म्यूचुअल फंड स्कीम है, जो ऑटोमोटिव और उससे जुड़ी कंपनियों के शेयरों में निवेश करेगी. एसबीआई म्यूचुअल फंड भारत की सबसे बड़ी एसेट मैनेजमेंट कंपनी (एएमसी) है. पहले से मार्केट में मिराए म्यूचुअल फंड का ऐसा एक फंड है, जिसका नाम मिराए एसेट ग्लोबल इलेक्ट्रिक एंड ऑटोनोमस व्हीकल्स ईटीएफ एफओएफ है, लेकिन यह फंड ग्लोबल कंपनियों में इनवेस्ट करता है.

क्या है फंड का फंडा

रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि एसबीआई ऑटोमोटिव अपॉर्च्यूनिटीज फंड ऑटोमोटिव सेक्टर की कंपनियों में कुल निवेश का करीब 80 फीसदी रकम निवेश करती है. इसके अलावा, इसके जरिए एयरलाइंस और शिपिंग सेक्टर्स में भी निवेश किया जाता है. रिपोर्ट में कहा गया है कि निवेश की 20 फीसदी रकम डेट इंस्ट्रूमेंट्स और मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश की जाएगी, जबकि इसका 10 फीसदी हिस्सा रियल एस्टेट इनवेस्टमेंट ट्रस्ट्स और इंफ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट ट्रस्ट्स की कंपनियों में निवेश किया जाता है.

भारत का दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने का मतलब सिर्फ एक आंकड़ा नहीं : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

35 फीसदी ग्लोबल कंपनियों के शेयरों में निवेश

मनी कंट्रोल हिंदी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि एसबीआई का ऑटोमोटिव अपॉर्च्यूनिटीज फंड 35 फीसदी निवेश ग्लोबल कंपनियों के शेयरों में भी में कर सकता है. इसका बेंचमार्क सूचकांक निफ्टी ऑटो टोटल रिटर्न इंडेक्स होगा. इसके पोर्टफोलियो में ऑटो कंपोनेंट्स एंड इक्विपमेंट, कास्टिंग एंड फोर्जिंग्स, टायर एंड रबर प्रोडक्ट्स, पैसेंजर कार्स एंड यूटिलिटी व्हीकल्स और टू व थ्री व्हीलर्स और कमर्शियल व्हीकल्स कंपनियों के शेयरों को शामिल किया जा सकता है.

50 दिन में 100% मल्टीबैगर रिटर्न दे चुकी है Hundustan Zinc, शेयर में तेजी बने रहने की उम्मीद

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें