1. home Hindi News
  2. business
  3. sbi card will be gave another chance for loan repayment who do not repay the loan after the completion of loan moratorium vwt

Loan Moratorium खत्म होने के बाद भी कर्ज भुगतान नहीं करने वालों को मिलेगा एक और मौका, पढ़िए पूरी खबर...

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
एसबीआई कार्ड ला रहा नया प्लान.
एसबीआई कार्ड ला रहा नया प्लान.
फाइल फोटो.

SBI Card News : आरबीआई (RBI) की ऋण अधिस्थगन योजना (Loan Moratorium Scheme) की अवधि समाप्त होने के बाद भी अगर आपने अपने कर्ज का दोबारा भुगतान (Loan Repayment) नहीं किया है, तो आपको इसके लिए एक और मौका मिलेगा. एसबीआई कार्ड अपने उन ग्राहकों के लिए आरबीआई की ऋण पुनर्गठन योजना (Debt restructuring plan) या खुद की पुनर्भुगतान योजना (Loan Repayment plan) से जोड़ने की तैयारी कर रहा है, जिन्होंने लोन मोराटोरियम (Loan Moratorium) की अवधि समाप्त होने के बाद भी अपने कर्ज का भुगतान नहीं किया है. एसबीआई कार्ड के इस पहल का मकसद ग्राहकों को भुगतान के लिए उक और मौका देना है.

पहले तीन महीने के कर्ज का भुगतान नहीं कर रहे ग्राहक

एसबीआई कार्ड के प्रंबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अश्विनी कुमार तिवारी ने कहा कि कर्ज लौटाने को लेकर दी गयी मोहलत को लेकर कई ग्राहक पहले तीन महीने का भुगतान नहीं कर रहे हैं और कंपनी पूरे उद्योग की तरह उन्हें ‘स्टैन्डर्ड' खाता मान रही हैं. हालांकि, मोहलत समाप्त होने के बाद से एसबीआई कार्ड ने दूसरी मोहलत योजना में ग्राहकों के रजिस्ट्रेशन को लेकर पहल की है.

बड़ी संख्या में आरबीआई की छूट योजना से बाहर आ गए हैं ग्राहक

एक महीने पहले पदभार संभालने वाले तिवारी ने कहा कि हमारे बड़ी संख्या में ग्राहक कर्ज लौटाने को लेकर मिली छूट योजना से बाहर आ गये हैं. उनमें से कई ने भुगतान कर दिया है, लेकिन कई ने भुगतान नहीं किया है. उन्होंने कहा कि हम भुगतान नहीं करने वाले ग्राहकों को आरबीआई की पुनर्गठन योजना या फिर स्वयं की पुनर्भुगतान योजना से जोड़ने के लिए काम कर रहे हैं, ताकि उन्हें बकाया भुगतान के लिए बेहतर ब्याज दर के साथ और समय मिल सके.

पुनर्गठन योजना का चयन करने वालों को मिलेगा फायदा

कंपनी के अनुसार, मई में उसके 7,083 करोड़ रुपये मोहलत में फंसे थे. यह आंकड़ा कम होकर अब 1,500 करोड़ रुपये पर आ गया है. जो ग्राहक आरबीआई की बजाय कंपनी की पुनर्गठन योजना का चयन करेंगे, उन्हें लाभ होगा, क्योंकि ऐसे मामलों की जानकारी सिबिल को नहीं दी जाएगी. रिजर्व बैंक ने मार्च में तीन महीने 31 मई, 2020 तक के लिए कर्ज लौटाने को लेकर मोहलत दी थी. बाद में इस अवधि को बढ़ाकर अगस्त 2020 कर दिया गया.

बड़ी संख्या में एनपीए हो सकते हैं खाते

तिवारी ने कहा कि पुनर्गठन प्रक्रिया जारी है. बड़ी संख्या में खातों का रजिस्ट्रेशन होना है और कंपनी को आरबीआई दिशानिर्देशों के अनुसार इसके लिए 10 फीसदी का प्रावधान करना होगा. उन्होंने कहा कि इसके अलावा, कुछ ऐसे खाते भी हैं, जो महामारी के कारण निश्चित रूप से एनपीए (गैर-निष्पादित परिसंपत्ति) के दायरे में आएंगे. ऐसे खातों के लिए अतिरिक्त प्रावधान करने की जरूरत होगी.

कोविड-19 वैक्सीन आने का है इंतजार

एसबीआई कार्ड प्रमुख ने कहा कि भविष्य को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है. हमें ऐसे खातों को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है. तिवारी ने कहा कि दूसरी और तीसरी तिमाही की स्थिति को बेहतर तरीके से प्रबंधित करने में सक्षम होंगे. उन्होंने कहा कि अगर कोविड-19 का टीका आ जाता है और कोविड-19 की स्थिति काबू में आती है, तो तीसरी और चौथी तिमाही बेहतर होगी. एसबीआई प्रवर्तक कार्ड कंपनी का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में 14 फीसदी बढ़कर 393 करोड़ रुपये रहा.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें