25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Rashi Peripherals IPO: पैसा कमाने का बेहतरीन मौका, आ रहा है 600 करोड़ का आईपीओ, जानें प्राइस बैंड और GMP

Rashi Peripherals IPO: सात फरवरी को राशि पेरिफेरल्स का आईपीओ आने वाला है. सूचना और संचार प्रौद्योगिकी उत्पाद वितरक इस कंपनी के आईपीओ का साइज 600 करोड़ रुपये का होगा. इसके लिए आवेदन नौ फरवरी तक कर सकते हैं.

Rashi Peripherals IPO: अगर आप बाजार में किसी बेहतरीन आईपीओ में पैसा लगाने का मन बना रहे हैं तो आपके लिए एक बेहतरीन मौका है. बाजार में सात फरवरी को राशि पेरिफेरल्स का आईपीओ आने वाला है. सूचना और संचार प्रौद्योगिकी उत्पाद वितरक इस कंपनी के आईपीओ का साइज 600 करोड़ रुपये का होगा. इसके लिए आवेदन नौ फरवरी तक कर सकते हैं. जबकि, छह फरवरी को आईपीओ के लिए एंकर निवेशक बोलियां लाएंगे. कंपनी ने अपने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 295-311 रुपये तय किया है. आईपीओ में मुंबई स्थित कंपनी के आईपीओ में केवल ताजा इश्यू शामिल है. इसमें ऑफर फॉर सेल नहीं है. वास्तविक इश्यू का आकार 750 करोड़ रुपये था, जिसे प्री-आईपीओ प्लेसमेंट में धन जुटाने के बाद घटाकर 600 करोड़ रुपये कर दिया गया था. राशि पेरिफेरल्स ने अपने आईपीओ के लिए आवेदन में बताया कि कंपनी ने मर्चेंट बैंकरों के परामर्श से कुल मिलाकर ₹150 करोड़ के इक्विटी शेयरों का प्री-आईपीओ प्लेसमेंट किया है. प्री-आईपीओ प्लेसमेंट के तहत ताजा इश्यू का आकार ₹150 करोड़ कम कर दिया गया है.

Also Read: BLS e-Services IPO: बीएलएस ई-सर्विसेज आईपीओ के लिए लग गयी निवेशकों की लाइन, खुलते ही हो गया फुल सब्सक्राइब

कितना करना होगा निवेश

इसमें खुदरा निवेशकों को कम से कम 48 शेयरों के लिए और उसके बाद 48 के मल्टीपल में बोली लगानी होगी. इसका अर्थ है कि निवेशक को कम से कम 14,160 (295X48) और ऊपरी बोली पर 14,928 (311X48) का निवेश करना होगा. निर्गम आकार का 50 प्रतिशत तक योग्य संस्थागत खरीदारों (QIB) के लिए आरक्षित किया गया है. बाकी में से 15 प्रतिशत उच्च निवल मूल्य वाले व्यक्तियों के लिए और 35 प्रतिशत खुदरा निवेशकों के लिए रखा गया है.

क्या करती है राशी पेरिफेरल्स

राशी पेरिफेरल्स सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (IT) उत्पादों के लिए भारत में वैश्विक प्रौद्योगिकी ब्रांडों के अग्रणी राष्ट्रीय वितरण भागीदारों में से एक है. कंपनी के परिचालन से इसका राजस्व वित्त वर्ष 2011-वित्त वर्ष 23 में 26.32 प्रतिशत की सीएजीआर के साथ मार्च वित्त वर्ष 2013 को समाप्त वर्ष में 9,454.3 करोड़ रुपये दर्ज किया गया, जबकि सितंबर वित्त वर्ष 2014 को समाप्त छह महीनों के लिए टॉपलाइन 5,468.5 करोड़ रुपये थी. प्री-आईपीओ प्लेसमेंट में, वोलराडो वेंचर पार्टनर्स फंड-III-बीटा और प्रमुख निवेशक मधुसूदन केला की पत्नी माधुरी मधुसूदन केला ने 100 करोड़ रुपये और 50 करोड़ रुपये का निवेश किया. वोल्राडो और केला कंपनी के एकमात्र सार्वजनिक शेयरधारक हैं जिनके पास 10.35 प्रतिशत हिस्सेदारी है, जबकि शेष 89.65 प्रतिशत शेयर प्रमोटरों के पास हैं.

(Disclaimer: आईपीओ में निवेश बाजार जोखिम के अंतर्गत है. इसमें निवेश से पहले किसी वित्तीय सलाहकार से जानकारी ले लें)

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें