1. home Hindi News
  2. business
  3. prices of mustard oil pulses fruits and vegetables have already started increasing during festivals know what is the real reason vwt

महामारी में महंगाई : त्योहारों के पहले से ही सरसो तेल, दाल, फल और सब्जियों के बढ़ने लगे हैं दाम, जानिए क्या है असली कारण

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
त्योहारों में महंगाई की मार.
त्योहारों में महंगाई की मार.
प्रतीकात्मक फोटो.

Epidemic inflation : कोरोना महामारी के इस दौर में शुरू होने जा रहे त्योहारों से पहले आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी होने लगी है. इससे न केवल त्योहारों का मजा किरकिरा हो सकता है, बल्कि हमारी-आपकी आर्थिक स्थिति पर भी गहरा प्रभाव पड़ सकता है. आप गौर करेंगे, तो देखेंगे कि हाल के दिनों में सब्जी, फल, चावल, आटा, दाल, सरसो तेल, रिफाइन और चीनी समेत अन्य खाद्य पदार्थों की कीमतें अचानक बढ़ गईं.

कारोबारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में दुर्गापूजा को लेकर फलों की कीमत में भी बड़ा उछाल आने की आशंका है. कारोबारियों के अनुसार, अभी सब्जियों, खाद्य तेल और दालों की कीमतें कम होने की फिलहाल कोई उम्मीद नहीं है. इसकी वजह अनलॉक-5 लागू होने के बाद अचानक मांग और आपूर्ति के बीच बड़ा अंतर आना है. त्योहारी सीजन में मांग और बढ़ने से कीमत में और तेजी आने की पूरी आशंका है.

प्रमुख वस्तुओं की कीमत में वृद्धि

सरकार के उपभोक्ता विभाग के आंकड़ों के अनुसार, मार्च के पहले हफ्ते में अरहर दाल 93 रुपये किलो, सरसों का तेल 124 रुपये लीटर, सोया तेल 117 रुपये लीटर, सनफ्लावर 123 रुपये लीटर, पॉम ऑयल 102 रुपये लीटर, आलू 20 रुपये किलो, प्याज 25-30 रुपये किलो, टमाटर 15-20 रुपये किलो बिक रहे थे. अनलॉक-5 की शुरुआत होते ही इनकी कीमतों में अचानक उछाल आ गया है.

फिलहाल, बाजार में अरहर दाल 115 रुपये प्रति किलो, सरसों का तेल 142 रुपये प्रति लीटर, सोया तेल 122 रुपये लीटर, सनफ्लावर 141 रुपये लीटर, पॉम ऑयल 106 रुपये लीटर, आलू लाल 45-50 रुपये किलो, आलू सफेद 40-45 रुपये किलो, प्याज 45-50 रुपये किलो, टमाटर 45-50 रुपये किलो बिक रहा है.

बिगड़ गया है रसोई का बजट

हरी सब्जियों, आलू, प्याज, टमाटर, सरसों तेल के साथ दाल लगातार बढ़ रही कीमतों ने रसोई का बजट बिगाड़ दिया है. थोक बाजार में अरहल दाल की कीमत 115 रुपये किलो के पार पहुंच चुकी है. दिल्ली समेत कई बड़े शहरों में दालों की कीमतों में 15 से 20 रुपये तक बढ़ोतरी हुई है. पिछले महीने से अरहर की दाल में 20 फीसदी का उछाल आया है. अरहर के अलावा मूंग और उड़द दाल भी 10 फीसदी तक महंगी हो चुकी है.

त्योहारों में दाम बढ़ने की आशंका

दिल्ली स्थित एशिया की सबसे बड़ी आजादपुर सब्जी मंडी में पोटेटो-अनियन मर्चेंट एसोसिएशन (पोमा) के महासचिव राजेंद्र शर्मा के अनुसार, अभी मंडी में प्याज 25 रुपये से 40 रुपये, आलू 28 रुपये से 40 रुपये और टमाटर 35 रुपये से 40 रुपये के बीच उपलब्ध है. उन्होंने बताया कि हाल के दिनों में आलू, प्याज और टमाटर कीमत तेजी से बढ़ी और यह तेजी त्योहारी सीजन तक जारी रह सकती है. हालाकि, यहां से बहुत बड़ा उछाल आने की उम्मीद नहीं है, क्योंकि अनलॉक-5 के साथ मंडियों में आपूर्ति बढ़ रही है. इससे कीमत पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी.

थोक और खुदरा दामों में दोगुने से अधिक का अंतर

थोक मंडी से खुदरा बाजार में आते-आते इनके दाम में दोगुना से अधिक का अंतर देखने को मिल रहा है. खुदरा में आलू अभी 40 से 50 रुपये प्रति किलो चल रहा है. वहीं, खास क्वालिटी के आलू का खुदरा भाव 60 रुपये तक भी है. प्याज की कीमत इस समय खुदरा में 60 रुपये किलो है. वहीं, टमाटर की बात की जाए, तो यह 80 रुपये तक मिलने वाला टमाटर इस वक्त 50 से 60 रुपये मे मिल रहा है.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें