1. home Home
  2. business
  3. investment in equity mutual funds reached a five month low during may

मई के दौरान पांच महीने के निचले स्तर पर पहुंचा इक्विटी म्यूचुअल फंड्स में निवेश

शेयरों में निवेश करने वाले म्यूचुअल फंड्स में निवेश मई में पांच महीने के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया. यह मात्र 5,256 करोड़ रुपये रहा. इसकी बड़ी वजह कोविड-19 महामारी के चलते आर्थिक हालातों का अनिश्चित होना है. म्यूचुअल फंड कंपनियों के संगठन एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) ने इस संबंध में शुक्रवार को आंकड़े जारी किये.

By Agency
Updated Date

नयी दिल्ली : शेयरों में निवेश करने वाले म्यूचुअल फंड्स में निवेश मई में पांच महीने के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया. यह मात्र 5,256 करोड़ रुपये रहा. इसकी बड़ी वजह कोविड-19 महामारी के चलते आर्थिक हालातों का अनिश्चित होना है. म्यूचुअल फंड कंपनियों के संगठन एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) ने इस संबंध में शुक्रवार को आंकड़े जारी किये. मई में सभी श्रेणी के म्यूचुअल फंड में कुल 70,813 करोड़ रुपये का निवेश प्राप्त हुआ. यह अप्रैल से अधिक है, तब म्यूचुअल फंड में कुल निवेश 45,999 करोड़ रुपये रहा था.

आंकड़ों के हिसाब से शेयर या शेयरों से जुड़े म्यूचुअल फंड में निवेश 5,256 करोड़ रुपये रहा, जबकि इस दौरान 211 करोड़ रुपये की निकासी हुई. अप्रैल में इस तरह की म्यूचुअल फंड योजनाओें में 6,213 करोड़ रुपये का निवेश हुआ था, जबकि इससे पहले मार्च में यह आंकड़ा 11,723 करोड़ रुपये, फरवरी में 10,796 करोड़ रुपये, जनवरी में 7,877 करोड़ रुपये और दिसंबर में 4,499 करोड़ रुपये रहा था.

वित्तीय परामर्श कंपनी मॉर्निंगस्टार इंडिया में प्रबंध शोध निदेशक कौस्तुभ बेलापुरकर ने कहा कि प्रक्रियाबद्ध निवेश योजना (एसआईपी) के चलते इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेश सकारात्मक बना हुआ है. भले यह पिछले महीनों की तुलना में गिरा है. कोविड-19 संकट और अनिश्चित आर्थिक हालातों के चलते निवेशक बड़ी पूंजी वाली कंपनियों (लार्ज कैप) या विविध कंपनियों में निवेश (मल्टी कैप) करने वाले म्यूचुअल फंड में निवेश को तरजीह दे रहे हैं.

पिछले महीने सभी श्रेणियों के इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेश देखा गया है. लार्ज कैप, मल्टी कैप, शेयर से जुड़ी बचत योजनाएं (ईएलएसएस), लार्ज एंड मिड कैप में क्रमश: 1,556 करोड़ रुपये, 758 करोड़ रुपये, 737 करोड़ रुपये और 712 करोड़ रुपये का निवेश आया. एएमएफआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) एनएस वेंकटेश ने कहा कि बाजार में उथल-पुथल और अनिश्चित आर्थिक हालातों के बावजूद निवेशकों का रुख काफी सकारात्मक रहा है.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें