1. home Hindi News
  2. business
  3. epfo interest news on pf epfo bank acoount details update how to check balance by sms apply online to withdraw paf par byaj amh

EPFO Latest Updates : पीएफ खाते को लेकर आई ये अहम खबर, यदि आपसे भी हो गई है ये गलती तो...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
EPFO Latest Updates
EPFO Latest Updates
Twitter
  • यूनिवर्सल अकाउंट नंबर

  • यूएएन खाताधारक को अपने हर PF अकाउंट की डिटेल्स आसानी से मिल जाती है

  • यूएएन में बैंक अकाउंट डिटेल्स अपडेट करने में सक्षम

EPFO Bank Acoount Details Update : यदि आप प्रोविडेंट फंड (PF) खाताधारक हैं जो आपको एक यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) दिया गया होगा. UAN खाताधारक को अपने हर PF अकाउंट की डिटेल्स आसानी से मिल जाती है. वो भी एक ही जगह. जी हां...UAN EPF खाते के साथ तो लिंक होता ही है, साथ में इसमें कर्मचारी के बैंक खाते की डिटेल भी ऐड करने का काम किया जाता है. इसी खाते में PF अमाउंट निकालने के लिए पैसा आता है.

आइआपका आपको UAN और बैंक खाते को लेकर कुछ खास बाते बताते हैं. दरअसल आपने कभी सोचा है कि यदि UAN के साथ गलत बैंक खाता डिटेल जुड़ जाए तो क्या होगा? इस संबंध में EPFO का कहना है कि यदि UAN के साथ गलत बैंक खाता संख्या या IFSC लिंक कर दिया जाता है तो भविष्य में EPF राशि का विदड्रॉल फेल होने के चांस रहते हैं.

लेकिन आपके UAN के साथ गलत बैंक खाता डिटेल्स लिंक हो गई हैं, तो परेशान ना हों...आप घर बैठे-बैठे ऑनलाइन UAN में बैंक अकाउंट डिटेल्स अपडेट करने में सक्षम हैं. आइए आपको बताते हैं आखिर कैसे...

बैंक अकाउंट डिटेल को अपडेट करने का ये है आसान तरीका...

-सबसे पहले EPFO के यूनिफाइड मेंबर पोर्टल https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ को अपने कंप्यूटर पर ओपन कर लें.

-यहां UAN व पासवर्ड डालें और लॉग इन कर लें.

-अब ‘मैनेज’ टैब पर क्लिक कर दें

-आपको सामने एक ड्रॉप डाउन मेन्यू नजर आएगा.

-इस मेन्यू में KYC पर सिलेक्ट कर दें.

-अब बैंक सिलेक्ट करें और बैंक खाता संख्या, नाम व IFSC भर दें.

-उपरोक्त जानकारी भरने के बाद सेव पर क्लिक कर दें.

अंत में, इस जानकारी के एंप्लॉयर द्वारा अप्रूव होने के बाद आपकी अपडेटेड बैंक डिटेल्स अप्रूव्ड KYC सेक्शन में नजर आयेगी.

एंप्लॉयर के प्रतिक्रिया नहीं दे तो करें ये काम : यदि आपको नियोक्ता बैंक ​डिटेल्स अपडेशन रिक्वेस्ट पर प्रतिक्रिया नहीं मिल रही है, तो सबसे पहले अपने एचआर डिपार्टमेंट या एडमिनिस्ट्रेशन के समक्ष अपनी बात रखें. यदि इसके बाद भी डिटेल्स अप्रूव होने में ज्यादा समय लग रहा है, तो उच्च अधिकारियों से अपनी समस्या पर चर्चा करें. यदि इतना करने के बाद भी कंपनी की ओर से कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है तो फिर EPF Grievance पर शिकायत करने का काम करें. प्रोविडेंट फंड तथा Latest News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें