25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

PM मोदी बोले, बजट में मिले अवसरों का लाभ उठाने के लिए सरकार की तर्ज पर कॉरपोरेट जगत भी बढ़ाए निवेश

Budget 2023 पर दसवें वेबिनार को संबोधित करते हुए PM मोदी ने कहा कि बजट में दिए गए अवसरों का लाभ उठाने के लिए भारत के कॉरपोरेट जगत को निवेश बढ़ाना चाहिए.

Budget Webinar 2023: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि बजट 2023-24 में दिए गए अवसरों का लाभ उठाने के लिए भारत के कॉरपोरेट जगत को निवेश बढ़ाना चाहिए. बजट पर दसवें वेबिनार को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सरकार ने पूंजीगत व्यय के लिए प्रावधान को बढ़ाकर 10 लाख करोड़ रुपये कर दिया है, जो अब तक का सर्वाधिक है.

सरकार के समान कॉरपोरेट जगत भी बढ़ाए निवेश

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं देश के निजी क्षेत्र से आह्वान करता हूं कि सरकार के समान वह भी अपनी ओर से निवेश बढ़ाए, जिससे देश को इसका अधिक से अधिक लाभ मिल सके. उन्होंने कहा कि देश में माल एवं सेवा कर (GST), आयकर और कॉरपोरेट कर में कमी की वजह से कर का भार उल्लेखनीय रूप से कम हुआ है. प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे कर संग्रह में भी सुधार आया है. 2013-14 में सकल कर राजस्व करीब 11 लाख करोड़ रुपये था जो 2023-24 में 200 प्रतिशत बढ़कर 33 लाख करोड़ रुपये हो गया. वहीं, व्यक्तिगत कर रिटर्न की संख्या भी 2013-14 के 3.5 करोड़ से बढ़कर 2020-21 में 6.5 करोड़ हो गई.

कर का भुगतान करना सीधे राष्ट्र निर्माण से जुड़ा है: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि कर का भुगतान करना एक ऐसा कर्तव्य है, जो सीधे राष्ट्र निर्माण से जुड़ा है. कर के आधार में वृद्धि इस बात का सबूत है कि लोगों का सरकार में भरोसा है और वे मानते हैं कि उनके द्वारा दिए गए कर को जनकल्याण के लिए खर्च किया जाता है. उन्होंने कहा कि रूपे और यूपीआई किफायती और अत्यधिक सुरक्षित प्रौद्योगिकी होने के साथ ही विश्व में हमारी पहचान भी हैं. नवाचार के लिए संभावनाओं को अपार बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यूपीआई को पूरी दुनिया के लिए वित्तीय समावेशन एवं सशक्तीकरण का साधन बनना चाहिए. उन्होंने कहा कि हमें इस दिशा में काम करना होगा.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें