1. home Hindi News
  2. business
  3. 75 crore bpl families will now be able to raise six months of food grains from the shops simultaneously

कोरोना का खौफ: PDS से अब छह महीने का अनाज एक साथ उठा सकेंगे 75 करोड़ परिवार

By KumarVishwat Sen
Updated Date
प्रतीकात्मक तस्वीर.
प्रतीकात्मक तस्वीर.

नयी दिल्ली : जनवितरण प्रणाली की दुकानों से राशन का अनाज उठाने वाले देश के करीब 75 करोड़ बीपीएल परिवारों के लिए एक खुशखबरी है और वह यह कि अब वे एक साथ छह महीने के राशन का अनाज उठा सकेंगे. केंद्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने बुधवार को कहा कि राशन की दुकानों से सस्ता अनाज पाने के हकदार 75 करोड़ लोगों को छह महीने का राशन एक साथ उठाने की छूट दी जाएगी.

उन्होंने कहा कि अभी उन्हें ज्यादा से ज्यादा दो महीने का अनाज समय से पहले उठाने की छूट है. केवल पंजाब सरकार है, जिसने लागों को छह महीने का कोटा एक साथ उठाने की अनुमति दे रखी है. पासवान ने कहा कि हमारे गोदामों में अनाज का पर्याप्त भंडार है. हमने सभी राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा है कि वे गरीब लोगों को छह महीने के अनाज का कोटा एक साथ उठाने की छूट दें.

कोरोना वायरस संक्रमण के बीच यह निर्णय इसलिए लिया गया है, ताकि आगे किसी प्रकार की पाबंदी के लागू होने पर गरीब लोगों को अनाज पाने में दिक्कत न हो. मंत्री ने यह भी कहा कि सरकारी दुकानों से अनाज का उठाव बढ़ने पर सरकारी गोदामों में जगह का दबाव कम होगा. जगह की कमी के कारण सरकारी खरीद का कुछ गेहूं खुले भंडार केंद्रों पर जमा किया गया है.

उन्होंने कहा कि इस समय सरकारी गोदामों में 4.35 करोड़ टन अधिक अनाज पड़ा हुआ है, जो सुरक्षित बफर स्टॉक की जरूरत से अधिक है. इसमें से 272.19 लाख टन चावल और 162.79 लाख अन गेहूं है. पीडीएस के लिए अप्रैल में बफर में 135 लाख टन चावल और 74.2 लाख टन गेहूं का भंडार सुरक्षित माना जाता है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें