16.1 C
Ranchi
Sunday, February 25, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeएजेंसीईडी ने पोंजी घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में अभिनेता प्रकाश राज को भेजा समन

ईडी ने पोंजी घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में अभिनेता प्रकाश राज को भेजा समन

अभिनेता प्रकाश राज (58) इस कंपनी के ब्रांड एंबेसडर रह चुके हैं. उन्हें अगले सप्ताह चेन्नई में संघीय एजेंसी के सामने पेश होने के लिए कहा गया है.

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी, ED) ने अभिनेता प्रकाश राज को तिरुचिरापल्ली स्थित आभूषण समूह के खिलाफ 100 करोड़ रुपये के कथित पोंजी और धोखाधड़ी मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए तलब किया है. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. जांच तिरुचिरापल्ली स्थित एक साझेदारी फर्म प्रणव ज्वेलर्स के खिलाफ एक मामले से संबंधित है. एजेंसी ने उस पर 20 नवंबर को छापा मारा था और 23.70 लाख रुपये की “बेहिसाबी” नकदी और कुछ सोने के आभूषण जब्त करने का दावा किया था. राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त विजेता अभिनेता राज (58) इस कंपनी के ब्रांड एंबेसडर रह चुके हैं. उन्हें दिसंबर के पहले हफ्ते में चेन्नई में संघीय एजेंसी के सामने पेश होने के लिए कहा गया है. सूत्रों के मुताबिक, ईडी उनका बयान दर्ज करना चाहती है और कंपनी द्वारा बेंगलुरु स्थित अभिनेता-राजनेता को किए गए कुछ कथित भुगतान और कुछ अन्य वित्तीय लेनदेन को समझना चाहता है.

Also Read: Chandrayaan 3 मिशन पर विवादित टिप्पणी कर बुरे फंसे प्रकाश राज, एक्टर ने दी सफाई, बोले- नफरत केवल नफरत देखती है

हिंदी और दक्षिण भारतीय फिल्मों में विभिन्न भूमिकाएं निभाने वाले अभिनेता भाजपा के मुखर आलोचक रहे हैं. उन्होंने बेंगलुरु सेंट्रल सीट से 2019 में बतौर निर्दलीय उम्मीदवार लोकसभा चुनाव भी लड़ा था हालांकि उन्हें जीत नहीं मिली. ईडी का मामला तमिलनाडु पुलिस आर्थिक अपराध शाखा की एक प्राथमिकी से उपजा है. संघीय एजेंसी ने बुधवार को एक बयान में कहा, पुलिस शिकायत के अनुसार, प्रणव ज्वेलर्स और अन्य ने उच्च ‘रिटर्न’ के वादे के साथ सोने की निवेश योजना की आड़ में जनता से 100 करोड़ रुपये एकत्र किए.

ईडी का दावा है कि प्रणव ज्वेलर्स ऐसे निवेशकों को राशि लौटाने में विफल रहा और फर्म (प्रणव ज्वेलर्स) और अन्य जुड़े व्यक्तियों ने सराफा/सोने के आभूषणों की खरीद की आड़ में सार्वजनिक धन को मुखौटा कंपनियों को हस्तांतरित करके जनता को धोखा दिया. जांच एजेंसी ने कहा, तलाशी के दौरान, विभिन्न आपत्तिजनक दस्तावेज, 23.70 लाख रुपये की बिना हिसाब वाली नकदी, 11.60 किलोग्राम वजन की सोने-चांदी आदि के आभूषण जब्त किए गए.

Also Read: Tejas: प्रकाश राज ने तेजस के फ्लॉप होने पर तोड़ी चुप्पी, कहा- कंगना रनौत को को अभी हाल ही में…

पोंजी मामले में तिरुचिरापल्ली स्थित आभूषण कंपनी पर ईडी की छापेमारी

इधर, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने तिरुचिरापल्ली स्थित एक आभूषण समूह के खिलाफ तलाशी के बाद 23.70 लाख रुपये की “बिना हिसाब वाली” नकदी और सोने के आभूषण जब्त किए हैं. समूह ने कथित तौर पर सोने में निवेश के नाम पर निवेशकों से 100 करोड़ रुपये एकत्र करके उन्हें धोखा दिया था. जांच एजेंसी ने कथित पोंजी स्कीम चलाने वालों के खिलाफ धन शोधन जांच के तहत तिरुचिरापल्ली में स्थित एक साझेदारी फर्म प्रणव ज्वेलर्स के खिलाफ सोमवार को छापेमारी की. ईडी का मामला तमिलनाडु पुलिस आर्थिक अपराध शाखा की एक प्राथमिकी से उपजा है. संघीय एजेंसी ने बुधवार को एक बयान में कहा, पुलिस शिकायत के अनुसार, प्रणव ज्वेलर्स और अन्य ने उच्च ‘रिटर्न’ के वादे के साथ सोने की निवेश योजना की आड़ में जनता से 100 करोड़ रुपये एकत्र किए.

Also Read: पोंजी कंपनी के लिए गोवा में परफॉर्म करके बुरे फंसे बॉलीवुड एक्टर गोविंदा, ओडिशा पुलिस के रडार पर आए

इसमें कहा गया, प्रणव ज्वेलर्स ऐसे निवेशकों को राशि लौटाने में विफल रहा और फर्म (प्रणव ज्वेलर्स) और अन्य जुड़े व्यक्तियों ने सराफा/सोने के आभूषणों की खरीद की आड़ में सार्वजनिक धन को मुखौटा कंपनियों को हस्तांतरित करके जनता को धोखा दिया. जांच एजेंसी ने कहा, तलाशी के दौरान, विभिन्न आपत्तिजनक दस्तावेज, 23.70 लाख रुपये की बिना हिसाब वाली नकदी, 11.60 किलोग्राम वजन की सोने-चांदी आदि के आभूषण जब्त किए गए.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें