1. home Hindi News
  2. world
  3. strange accusation of pakistan india gave 80 billion rupees to destroy china pakistan economic corridor 400 terrorists prepared shah mahmood qureshi aml

पाक का नया राग, CPEC को तबाह करने के लिए भारत ने दिये 80 अरब रुपये, खड़ी की आतंकियों की फौज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Shah Mahmood Qureshi
Shah Mahmood Qureshi
File Photo

इस्‍लामाबाद : बॉर्डर पर भारत के जवाबी कार्रवाई से बौखलाए पाकिस्तान (Pakistan) ने अब भारत पर एक अजीब आरोप लगाया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) ने भारत पर बलुचिस्तान में आतंकवाद फैलाने का झूठा आरोप लगाया है. इसके साथ ही कुरैशी ने एक डोजियर पेश किया है जिसमें कहा गया है कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर (CPEC) को तबाह करने के लिए भारत ने 80 अरब रुपये दिये हैं. कुरैशी ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के निर्देश पर रॉ (RAW) ने एक योजना तैयार की है और करीब 700 आतंकवादियों को तैयार किया गया है.

आतंकवादियों का पनाहगार पाकिस्तान भारत पर आरोप लगा रहा है कि भारत ने बलुचिस्तान गिलगिट चुनाव के समय स्थानीय लोगों को भड़काने का काम किया है. यह काम भारत की ओर से तैयार किये गये आतंकवादियों ने किया है. भारत में लगातार आतंकवाद फैलाने वाले पाकिस्तान के मंत्री ने डोजियर में कहा है कि भारत के आतंकवादी सीपीईसी को नुकसान पहुंचाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं.

डोजियर में यह भी कहा गया है कि गिलगित-बाल्टिस्‍तान में चुनाव से पहले भारत ने वहां पर राष्‍ट्रवाद को हवा देने का प्रयास किया. चुनाव के बाद भी भारत का इरादा नेक नहीं है. कुरैशी ने कहा कि भारत पाकिस्तान में आतंकवाद फैलाने का काम कर रहा है. यही नहीं, पाकिस्तान में आतंकवाद फैलाने के लिए अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल हो रहा है. कुरैशी ने कहा कि आने वाले दिनों में पाकिस्तान में आतंकी हमले बढ़ सकते हैं.

पाकिस्तानी मंत्री के साथ-साथ पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने भी भारत पर आतंकवाद फैलाने का आरोप लगाया है. प्रवक्ता ने कहा कि भारत ने अफगानिस्तान में एक पाकिस्तानी शाखा का निर्माण कराया है. यह आईएसआईएस से जुड़ा है. इस शाखा का नाम दायश पाकिस्तान रखा गया है. अफगानिस्तान में भारतीय दूतावास आतंकवाद फैलाने के केंद्र के तौर पर काम कर रहा है.

सेना के प्रवक्ता ने कहा कि भारत बीएलए, बीआरए और तहरीक-ए-तालिबान (TTP) को मदद पहुंचा रहा है. अफगानिस्तान के रास्ते टीटीपी को मदद दी जा रही है. पाकिस्तान के कराची, लाहौर जैसे कई बड़े शहर इन आतंकवादियों के निशाने पर हैं. जो भारत की मदद कर रहे हैं. आने वाले समय में इस आतंकवादी संगठनों का इस्तेमाल सीपीईसी को नुकसान पहुंचाने के लिए भी किया जायेगा.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें