1. home Home
  2. world
  3. pakistan conspiracy to threat india on taliban failed anas haqqani said no right over kashmir aml

तालिबान के बहाने भारत को धमकाने की 'ना'पाक साजिश, हक्कानी ने कहा-कश्मीर से कोई मतलब नहीं

तालिबान के शीर्ष नेता अनस हक्कानी ने कहा कि हमारी नीति के मुताबिक हम दूसरे देशों के अंदरूनी मामलों में कोई हस्तक्षेप नहीं करते हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
तालीबान के शीर्ष नेता अनस हक्कानी
तालीबान के शीर्ष नेता अनस हक्कानी
Twitter

नयी दिल्ली : अल-कायदा ने मंगलवार को तालिबान को अफगानिस्तान में अपनी जीत के लिए बधाई संदेश में इस्लाम के दुश्मनों के चंगुल से कश्मीर और अन्य तथाकथित इस्लामी भूमि की मुक्ति का आह्वान किया. इसके ठीक बाद तालिबान का भारत को लेकर बयान आया है. जिससे पाकिस्तान को गहरा झटका लगा है. तालिबान ने कहा कि कश्मीर हमारे अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है.

अलकायदा के बधाई संदेश के बाद सीएनएन-न्यूज 18 ने तालिबान के शीर्ष नेता अनस हक्कानी से विस्तार से बातचीत की. इस बातचीत में हक्कानी नेटवर्क का पाकिस्तान कनेक्शन और कश्मीर मुद्दे पर उनके हस्तक्षेप के बारे में पूछा गया. इसके जवाब में हक्कानी ने कहा कि कश्मीर उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है और यह भारत-पाकिस्तान का अंदरूनी मामला है.

उन्होंने कहा कि हमारी नीति के मुताबिक हम दूसरे देशों के अंदरूनी मामलों में कोई हस्तक्षेप नहीं करते हैं. उन्होंने कहा कि भारत ने भले ही हमारे दुश्मन की 20 साल तक मदद की है, लेकिन हम सब कुछ भुला कर भारत के साथ बेहतर रिश्ते चाहते हैं. कश्मीर मुद्दे पर उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं दोनों देश इस मामले को आपस में सौहार्दपूर्ण वातावरण में बाचतीच से हल करें.

हक्कानी ने कहा कि कई मीडिया संस्थान हमारे बारे में गलत प्रचार कर रही हैं. हम चाहते हैं कि वे हमसे सीधे बात करें और दुनिया तक हमारी बात पहुंचाएं. उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में हर कोई सुरक्षित है, हम किसी की भी हत्या नहीं करेंगे. सभी को बेहतर जीवन देने का प्रयास करेंगे. मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि वे देश छोड़ने के बारे में न सोचें. गैर इस्लामियों को भी यहां नुकसान नहीं पहुंचाया जायेगा.

बता दें कि अलकायदा की ओर से कहा गया कि जिस प्रकार तालिबान की मदद से अफगानिस्तान पूर्ण स्वतंत्र हुआ है उसी प्रकार कश्मीर को भी आजादी दिलाने में तालिबान मदद करेगा. अफगानिस्तान में अल्लाह द्वारा दी गयी जीत पर इस्लामी उम्मा को बधाई शीर्षक वाले संदेश में कहा गया कि अल्लाह! लेवंत, सोमालिया, यमन, कश्मीर और बाकी इस्लामी भूमि को इस्लाम के दुश्मनों के चंगुल से मुक्त कराएं. या अल्लाह! दुनिया भर के मुस्लिम कैदियों को स्वतंत्रता प्रदान करें.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें