1. home Hindi News
  2. world
  3. did india have highest number of deaths due to corona who report will reveal rts

क्या भारत में हुई कोरोना की वजह से सबसे अधिक मौतें? WHO की रिपोर्ट से होगा बड़ा खुलासा

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की रिपोर्ट में भारत को सबसे अधिक कोविड मौतों वाले देश के रूप में चिन्हित किए जाने की संभावना जताई गई है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 क्या भारत में हुई कोरोना की वजह से सबसे अधिक मौतें? WHO की रिपोर्ट से होगा बड़ा खुलासा
क्या भारत में हुई कोरोना की वजह से सबसे अधिक मौतें? WHO की रिपोर्ट से होगा बड़ा खुलासा
PTI

भारत में कोरोना के मामलों में भारी गिरावट आई है. कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान इस महामारी की त्रासदी झेलने के बाद अब लोगों ने राहत की ली है. हालांकि कोरोना के विनाशकारी प्रभाव को भुलना आसान नहीं है जिसमें इसके प्रभाव से कई लोगों की मौत हुई थी. वहीं, अब विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की रिपोर्ट में भारत को सबसे अधिक कोविड मौतों वाले देश के रूप में चिन्हित किए जाने की संभावना जताई गई है. रिपोर्ट में भारत के लिए वर्तमान टोल जो 5.2 लाख है उससे करीब चार गुना आंकड़ों की घोषणा होने की संभावना है.

महामारी के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष दोनों प्रभावों की होगी गणना

टाइम्स ऑफ इंडिया के एक रिपोर्ट के अनुसार वैश्विक मौत का आंकड़ा अब गिने गए 61.4 लाख से दोगुने से अधिक होने की उम्मीद है. फिलहाल, भारत की तुलना में केवल अमेरिका (9.8 लाख) और ब्राजील (6.6 लाख) में कोविड से अधिक मौत के आंकड़ें हैं. रिपोर्ट के अनुसार WHO की तरफ से एक तकनीकी सलाहकार समूह (TAG) तैयार किया गया है. जिसे WHO ने अतिरिक्त कोविड मौतों की गणना करने के लिए स्थापित किया था. इसमें महामारी के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष दोनों प्रभावों की गणना होगी.

डब्ल्यूएचओ के प्रवक्ता ने क्या कहा?

डब्ल्यूएचओ के प्रवक्ता ने डेवेक्स (Devex) के हवाले से कहा है कि “कोविड -19 से जुड़े अतिरिक्त मृत्यु दर अनुमान महामारी को रोकथाम के लिए ज्यादा व्यापक समाधान प्रदान करते हैं. प्रत्यक्ष उपाय (कोविड के कारण होने वाली मौतें) केवल एक सीमित, और कई मामलों में समस्याग्रस्त उपाय ही प्रदान करती हैं, ” हालांकि भारत पहले से ही अनुमान से असहमत है. डब्ल्यूएचओ के प्रवक्ता ने कहा, "यह कहना गैर-जिम्मेदाराना होगा कि जब तक महामारी खत्म नहीं हो जाती, तब तक हम इंतजार करेंगे" "अगर अभी सबक सीखा जा सकता है, अगर अभी जान बचाई जा सकती है, तो हमारी जिम्मेदारी है कि हम उन सबक को सीखें और उन जिंदगियों को बचाएं"

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें