1. home Hindi News
  2. world
  3. ayodhya ram mandir bhum pujan lord ram images not display at times square in newyork america muslim groups petition ad company

Ayodhya Ram Mandir: अमेरिका के टाइम्स स्क्वायर पर नहीं दिखेगी भगवान राम की भव्य तस्वीर, जानें कारण

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित टाइम्स स्क्वायर
अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित टाइम्स स्क्वायर
File

Ayodhya Ram Mandir, ayodhya ram mandir bhumi pujan: अयोध्या में आज राम मंदिर के भूमि पूजन के अवसर पर अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित टाइम्स स्क्वायर में विशाल बिलबोर्ड पर भगवान राम और भव्य राम मंदिर 3डी चित्र और अन्य संबंधित चीजें प्रदर्शित नहीं किए जाएंगे. इन्हें दुनिया की सबसे बड़ी डिस्प्ले स्क्रीन में शुमार किया जाता है. मुस्लिम संगठनों की आपत्ति पर निजी कंपनी ब्रांडेड सिटीज ने इसे रोक दिया है.

इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक, टाइम्स स्क्वायर में ज्यादातर स्थानों के बिलबोर्ड का संचालन निजी कंपनी ब्रांडेड सिटीज के पास है. इसने हिंदू संगठनों के साथ पांच अगस्त को रामजन्मभूमि से जुड़े कन्टेंट के प्रसारण का सौदा किया था. इसके मुताबिक टाइम्स स्क्वायर पर नैस्डेक बिल्डिंग के बाहर बड़े डिस्प्ले बोर्ड पर और इसके अलावा करीब 17,000 वर्ग फुट के डिजिटल एलईडी स्क्रीन्स में ऐसी सामग्री प्रसारित की जाती. अपनी भावनाओं के इजहार के लिए हिंदू संगठनों ने ये विशाल स्क्रीन लीज पर लिए थे.

अमेरिकी मीडिया में आई खबरों के मुताबिक इमामनेट सहित कई मुस्लिम संगठनों के एक समूह की शिकायत पर कंपनी ने अयोध्या राम मंदिर से जुड़े विज्ञापन प्रसारण करने से मना कर दिया है. क्लेरिन इंडिया की खबर के अनुसार मुस्लिम संगठनों ने इसके लिए न्यूयॉर्क के मेयर, गवर्नर, सीनेटर और अमेरिकी सांसदों तक से सिफारिश की. इमामनेट के अध्यक्ष डॉ शैक उबैद ने इसकी पुिष्ट करते हुए कहा कि विज्ञापन कंपनियों ने अयोध्या से जुड़े कंटेंट के प्रसारण करने से इनकार कर दिया है.

जारी रहेंगे कार्यक्रम

पांच अगस्त को न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वॉयर में राम टेंपल ग्राउंडब्रेकिंग सेलिब्रेशंस होने जा रहा है. ये समारोह बुधवार शाम 7.30 बजे यहां शुरू होगा. राम जन्मभूमि शिलान्यास सेलिब्रेशन कमेटी (अमेरिका) के प्रमुख जगदीश सेवहानी के मुताबिक, पांच अगस्त की शाम को यहां दीप प्रज्जवलन कार्यक्रम है और भजन संध्या का आयोजन किया जा रहा है. इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में भारतीय-अमेरिकी शामिल होंगे. इन सबके लिए खर्च अमेरिकी हिंदू समुदाय से चंदा लेकर किया जा रहा है.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें