26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Makar Sankranti 2024: वाराणसी में बुलडोजर बाबा और पीएम मोदी के थीम वाली पतंगों की बढ़ी डिमांड, जानें कारण

मकर संक्रांति के त्योहार पर वाराणसी के बाजारों में इस बार बुलडोजर बाबा और पीएम मोदी के थीम वाली पतंगों की खासी डिमांड है. शहर के सबसे बड़े बाजार में ये पतंग छाए हुए हैं. बुलडोजर बाबा वाली इस पतंग पर सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर बनी है.

मकर संक्रांति हिंदू धर्म में नए साल का पहला त्योहार है. यह दिन धार्मिक महत्व के साथ पतंगबाजों के लिए भी खास होता है. पूर्वांचल समेत पूरे प्रदेश में इस दिन आसमानों में रंग-बिरंगे पतंग दिखते हैं. इस बार रंग-बिरंगे पतंगों के बीच एक खास पतंग भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सांसदीय क्षेत्र काशी के आसमानों में देखने को मिलेगा. वाराणसी के बाजारों में इस बार बुलडोजर बाबा और पीएम मोदी के थीम वाली पतंगों की खासी डिमांड है. वाराणसी के सबसे बड़े बाजार में ये पतंग छाए हुए हैं. बुलडोजर बाबा वाली इस पतंग पर सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर बनी है. इसके अलावा बुलडोजर को भी जगह मिली है. इतना ही नहीं इस पतंग पर भारतीय जनता पार्टी का चुनाव चिन्ह कमल भी छपा है. दुकानदार अरविंद ने बताया कि रंग बिरंगे पतंगों के बीच बुलडोजर बाबा और पीएम मोदी की तस्वीर वाला पतंग युवाओं को बहुत पंसद आ रहा है. बता दें कि सिर्फ वाराणसी ही नहीं बल्कि आस-पास के जिलों में भी इस पतंग की डिमांड है. यहां के दुकानदार इन पतंगो की सप्लाई वहां कर रहे है. इस पतंग की कीमत 5 से 15 रुपए तक है. पतंग के शौकीन आदित्य ने बताया कि इस बार मकर संक्रांति पर वो बुलडोजर बाबा और पीएम मोदी वाली ही पतंग उड़ाएंगे. उन्होंने बताया कि जिस तरह यूपी में योगी आदित्यनाथ ने बुलडोजर ऐक्शन से माफियाओं की कमर तोड़ी है और कानून का राज कायम किया है. उसी को समर्थन करने के लिए हम लोग ये पतंग उड़ाएंगे.

बाबा विश्वनाथ को चढ़ने वाले बेलपत्र, डायरी और कैलेंडर के दाम हुए तय

बाबा काशी विश्वनाथ धाम में इन दिनों गेट नंबर 4 के बाहर लगा हुआ एक बोर्ड चर्चा का विषय बना हुआ है. इस बोर्ड में 200 रुपए की विश्वनाथ धाम की डायरी, 30 रुपए में कैलेंडर और 5 रुपए में बाबा पर चढ़ा हुआ बेलपत्र बिकने की जानकारी दी गई है. इस बोर्ड के ऊपर विश्वनाथ धाम न्यास परिषद लिखा हुआ है, जिसमें यह बताया जा रहा है कि विश्वनाथ धाम न्यास परिषद के तरफ से अब बाबा के मंदिर में चढ़ा हुआ बेलपत्र भी 5 रुपए में प्राप्त किया जा सकता है, जिसके कारण यह बोर्ड चर्चा का विषय बना है. बता दें कि ऐसा पहली बार हो रहा है जब विश्वनाथ धाम या विश्वनाथ मंदिर के तरफ से चढ़ा हुआ बेलपत्र की बिक्री की जा रही है. वहीं अगर न्यास परिषद अध्यक्ष नागेंद्र की बात करें तो उनका कहना है कि यह फैसला उनका नहीं है बल्कि यह विश्वनाथ धाम प्रशासन की तरफ से फैसला किया गया है. मंदिर का आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए यह फैसला लिया गया है. बता दें कि इसके पहले मंदिर प्रशासन की तरफ से एक फैसला और चर्चा का विषय बना हुआ है जिसमें 300 रुपए लेकर बाबा विश्वनाथ का स्पर्श दर्शन कराया जा रहा है. वहीं प्रोटोकॉल को लेकर भी विश्वनाथ धाम प्रशासन का फैसला विवादित बताया जा रहा है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें