36.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

झारखंड: अपहरण के आठ दिनों बाद लौटीं खुशियां, मां की गोद में खेल रहा पपलू,अपहर्ताओं ने चार लाख में किया था सौदा

अपहृत पपलू की मां पुष्पा देवी गुप्ता ने बताया कि 18 दिसंबर को पपलू का अपहरण हुआ था. अपहरण के बाद वे रातभर बच्चे को खोजते रहे. मोहल्ले और शहर के सभी सीसीटीवी फुटेज को देखा. घर से कुछ दूरी पर एक सीसीटीवी फुटेज में दो महिलाएं दिखीं. इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई की और आज पपलू उनके पास है.

हजारीबाग, सलाउद्दीन: अपहरण के आठ दिनों के बाद श्रियांश उर्फ पपलू अपने माता-पिता की गोद में खेल रहा है. पपलू बार-बार अपनी मां पुष्पा देवी गुप्ता से कह रहा है कि अब हम किसी के पास नहीं जाएंगे. हमें अपने घर ले चलो. एक सप्ताह बाद घर वापस आने से परिवार में खुशी का माहौल है. श्रियांश के परिवार के सभी सदस्य भगवान और हजारीबाग पुलिस का शुक्रिया अदा कर रहे हैं. उसकी मां ने बताया कि पुलिस की मदद से ही उनका पपलू गोद में खेल रहा है. अभी वह काफी डरा और सहमा हुआ है. आपको बता दें कि लोहसिंघना थाना पुलिस ने गायब पपलू को आठ दिनों के बाद सोमवार को कोडरमा से बरामद किया है. पुलिस ने अपहरण में शामिल छह लोगों को गिरफ्तार किया है. अपहर्ताओं ने अपहरण के बाद कोडरमा में पपलू का चार लाख में सौदा कर दिया था. श्रियांश उर्फ पपलू की मां ने बताया कि जिस दिन पपलू का अपहरण हुआ था. उस दिन मैं बाजार कुछ सामान खरीदने गयी थी. पपलू घर के बाहर खेल रहा था. पपलू ने बताया कि दो आंटी उसे पैसा दीं और बोलीं कि चलो बिस्कुट खरीदते हैं. उसके बाद दोनों महिलाएं बिस्कुट देने के बाद काफी दूर पैदल ले गयीं. कुछ दूर जाने के बाद ब्लू साड़ी पहनी महिला गोद में उठाकर उसे ले गयी.

सीसीटीवी फुटेज से मिला अपहरणकर्ताओं का सुराग

अपहृत पपलू की मां पुष्पा देवी गुप्ता ने बताया कि 18 दिसंबर को पपलू का अपहरण हुआ था. अपहरण के बाद वे रातभर बच्चे को खोजते रहे. मोहल्ले और शहर के सभी सीसीटीवी फुटेज को देखा. घर से कुछ दूरी पर एक सीसीटीवी फुटेज में दो महिलाएं दिखीं. एक सफेद साड़ी में और दूसरी स्काई ब्लू साड़ी पहनी हुयी थी. सफेद साड़ी पहनी हुई महिला की गोद में दो माह का बच्चा भी था. दूसरे सीसीटीवी फुटेज में वही दोनों महिलाएं एक बच्चे को साथ में ले जाते हुए दिखीं, लेकिन फ्रंटियर रोड में लगे सीसीटीवी कैमरे में दोनों महिलाएं व पपूल का चेहरा साफ दिखा. इसी आधार पर पुलिस को अपहरण का सुराग उन्होंने उपलब्ध कराया. इसके बाद कार्रवाई हुई.

Also Read: झारखंड: बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल का औचक निरीक्षण, वार्डों व भोजन की गुणवत्ता की जांच, 200 कैदियों का बयान दर्ज

अपहरण मामले में छह लोग गिरफ्तार

लोहसिंघना थाना पुलिस ने गायब पपलू को आठ दिन बाद सोमवार को कोडरमा से बरामद किया है. पुलिस ने अपहरण में शामिल छह लोगों को हिरासत में लिया है. इसमें करीना देवी 19 वर्ष पति जितेंद्र वर्मा रामनगर रोड़ काली मंदिर हजारीबाग, ज्योति रानी 37 वर्ष पति कन्हैया कुमार पासवान, कन्हैया कुमार पासवान 38 वर्ष पिता सीताराम पासवान दोनों न्यू पुनदाग रांची, नूतर देवी 45 वर्ष पति बसंत वर्मा शिवपुरी अनवर एकराम गली लोहसिंघना हजारीबाग, गीता देवी 38 वर्ष और पति रोहित रविदास 42 वर्ष पिता कैलाश रविदास दोनों इंद्रपुरी मुहल्ला तिलैया कोडरमा का नाम शामिल है.

Also Read: झारखंड: धनबाद जेल में पांच घंटे चली छापेमारी, कैदी वार्डों की जांच, डीसी ने जेल मैनुअल के पालन का दिया निर्देश

अपहर्ताओं ने चार लाख में पपलू का किया था सौदा

अपहर्ताओं ने पपलू को चार लाख में कोडरमा इंद्रपुरी मुहल्ला में एक दंपती को बेचा था. इसके एवज में अग्रिम के रूप में पहली किस्त 2.95 लाख रुपए भुगतान भी ले चुका था. यह जानकारी पपलू की मां पुष्पा देवी गुप्ता ने प्रभात खबर को बताया है. उन्होंने कहा कि पपलू को अपहरण करने के बाद अपहर्ताओं ने पपलू का नकली मां-बाप बनकर बेचा था. दंपती को अनाथ आश्रम से बच्चा लाकर देने की बात कहकर पपलू को बेच दिया था. इन्होंने बताया कि पपलू को खरीदने वाले दंपती का पुत्र नहीं था. इसके कारण वह पपलू को लेकर अपने बच्चे की तरह अच्छे से खिला-पिलाकर रख रहे थे. पपलू ने बताया कि वहां जाने के बाद मुझे नयी आंटी ने नया कपड़ा पहनाकर कुरकुरे, लेज और दाल-भात खिलाया.

Also Read: झारखंड: दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने गया था रानीताल डैम, नहाने के दौरान डूबने से मौत, शव नहीं हो सका बरामद

कैसे पकड़े गए आरोपी

पुलिस के अनुसार लोहसिंघना थाना क्षेत्र के ओकनी साईं मंदिर से गायब पपलू की सूचना परिजनों ने लोहसिंघना थाने में दी थी. कांड संख्या 272-23 दर्ज किया गया था. इस पर पुलिस अनुसंधान में बच्चे की खोजबीन शुरू की गयी. घर के आसपास समेत शहर के कई स्थानों पर लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की गयी. संदेह के आधार पर करीना देवी को हिरासत में लिया गया. करीना देवी ने बच्चे के अपहरण करने की बात स्वीकार करते हुए बताया कि ज्योति रानी, कन्हैया पासवान और नूतन देवी ने मिलकर बच्चे को चुराकर कोडरमा में गीता देवी (पति रोहित रविदास) के पास 2.95 लाख रुपए में बेचा है, जो अभी छत्तीसगढ़ गए हैं और वे रांची रेलवे स्टेशन पर आने वाले हैं. सूचना मिलते ही रांची रेलवे स्टेशन के पास पुलिस ने छापेमारी की. छापेमारी के क्रम में मीरा होटल में ज्योति रानी और कन्हैया पासवान ठहरे हुए थे. पुलिस ने इन दोनों को गिरफ्तार कर अपहृत बच्चे के संबंध में पूछताछ शुरू की. दोनों पति-पत्नी ने बताया कि नूतन व करीना के सहयोग से 2.95 लाख रुपए में गीता देवी (पति रोहित रविदास) के पास बेच दिया है. ये कोडरमा के तिलैया थाना क्षेत्र के इंद्रपुरी मोहल्ला का रहने वाले हैं. इसके बाद पुलिस ने छापेमारी कर बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया.

ओकनी मोहल्ले में नए हैं पपलू के माता-पिता

पपलू के माता-पिता दो माह पहले ओकनी मोहल्ले में रहने आए थे. पपलू की मां पुष्पा देवी गुप्ता ने बताया कि दो माह पहले ओकनी मोहल्ला में रहने आये थे. मेरे पति अभिषेक कुमार गुप्ता टोटो चलाते हैं. इस मोहल्ले में ज्यादा लोगों से जान-पहचान नहीं है. लोगों ने बताया कि अपहर्ता पहले इसी मोहल्ले में रहते थे. अपहरण के दो दिन पहले भी उन दोनों महिलाओं को मोहल्ले में देखा गया था.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें