24.8 C
Ranchi
Friday, February 23, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

HomeऑटोकारHyBrid Cars: क्या होती है हाईब्रिड कार? खरीदने से पहले जान लें ये खास बातें

HyBrid Cars: क्या होती है हाईब्रिड कार? खरीदने से पहले जान लें ये खास बातें

हाईब्रिड कारें पर्यावरण के लिए भी बेहतर हैं क्योंकि वे कम प्रदूषण का कारण बनती हैं. वे ईंधन की खपत को कम करके और कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन को कम करके पर्यावरण को बचाने में मदद करती हैं.

HyBrid Cars: हाईब्रिड कार एक ऐसी कार है जिसमें एक गैसोलीन इंजन और एक इलेक्ट्रिक मोटर दोनों होते हैं. ये कारें दोनों इंजनों का उपयोग करके चलती हैं, जिससे उन्हें अधिक ईंधन कुशल बनाया जाता है.

हाईब्रिड कारों के तीन मुख्य प्रकार हैं:

माइल्ड हाइब्रिड: इन कारों में एक छोटी इलेक्ट्रिक मोटर होती है जो गैसोलीन इंजन को सहायता करती है. यह मोटर आमतौर पर ब्रेकिंग के दौरान उत्पन्न ऊर्जा को पुनर्जनरेटिव ब्रेकिंग के माध्यम से चार्ज होती है.

स्ट्रांग हाइब्रिड: इन कारों में एक बड़ी इलेक्ट्रिक मोटर होती है जो गैसोलीन इंजन के साथ मिलकर काम करती है. यह मोटर कार को केवल इलेक्ट्रिक पावर पर भी चला सकती है.

प्लग-इन हाइब्रिड: इन कारों में एक बड़ी इलेक्ट्रिक मोटर और एक बड़ा बैटरी पैक होता है. बैटरी को बाहरी बिजली स्रोत से चार्ज किया जा सकता है, जिससे कार को केवल इलेक्ट्रिक पावर पर लंबी दूरी तक चलाया जा सकता है.

Also Read: Electric Car खरीदने का कर रहें हैं प्लान, तो मेंटनेंस से जुड़ी इन टिप्स का रखें ध्यान, फिट रहेगी आपकी कार

हाईब्रिड कारों के कई लाभ हैं, जिनमें शामिल हैं:

बेहतर ईंधन दक्षता: हाईब्रिड कारें पारंपरिक गैसोलीन कारों की तुलना में अधिक ईंधन कुशल होती हैं. यह उन्हें कम ईंधन की खपत और कम प्रदूषण का कारण बनता है.

कम लागत: हाईब्रिड कारें पारंपरिक गैसोलीन कारों की तुलना में अधिक महंगी होती हैं, लेकिन वे लंबे समय में अधिक किफायती हो सकती हैं. यह कम ईंधन की खपत और कम रखरखाव लागत के कारण है.

बेहतर प्रदर्शन: हाईब्रिड कारें अक्सर पारंपरिक गैसोलीन कारों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन करती हैं. यह इलेक्ट्रिक मोटर की अतिरिक्त शक्ति के कारण है.

हाईब्रिड कारें पर्यावरण के लिए भी बेहतर

हाईब्रिड कारें पर्यावरण के लिए भी बेहतर हैं क्योंकि वे कम प्रदूषण का कारण बनती हैं. वे ईंधन की खपत को कम करके और कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन को कम करके पर्यावरण को बचाने में मदद करती हैं.

भारत में बिकने वाली हाईब्रिड कारों की लिस्ट और प्राइस:

माइल्ड हाइब्रिड

  • टोयोटा अर्बन क्रूजर हाइराइडर (10.86 लाख से 19.99 लाख रुपये)

  • टोयोटा कैमरी (46.17 लाख रुपये)

  • टोयोटा वेलफायर (1.20 – 1.30 करोड़ रुपये)

  • मारुति सुजुकी इनविक्टो (24.82 – 28.42 लाख रुपये)

स्ट्रांग हाइब्रिड

  • टोयोटा इनोवा हाईक्रॉस (18.55 – 29.99 लाख रुपये)

  • मारुति सुजुकी ग्रैंड विटारा (27.97 – 35.07 लाख रुपये)

  • होंडा सिटी (11.71 – 20.39 लाख रुपये)

प्लग-इन हाइब्रिड

  • टोयोटा प्रियस प्लग-इन (49.50 लाख रुपये)

इनमें से, टोयोटा अर्बन क्रूजर हाइराइडर, मारुति सुजुकी इनविक्टो और टोयोटा इनोवा हाईक्रॉस और होंडा सिटी भारत में सबसे लोकप्रिय हाईब्रिड कारें हैं.

माइल्ड हाइब्रिड कारों में, गैसोलीन इंजन को इलेक्ट्रिक मोटर द्वारा सहायता की जाती है. यह कार को बेहतर ईंधन दक्षता प्रदान करता है.

स्ट्रांग हाइब्रिड कारों में, गैसोलीन इंजन और इलेक्ट्रिक मोटर मिलकर काम करते हैं. यह कार को केवल इलेक्ट्रिक पावर पर भी चला सकता है.

प्लग-इन हाइब्रिड कारों में, बैटरी को बाहरी बिजली स्रोत से चार्ज किया जा सकता है. यह कार को केवल इलेक्ट्रिक पावर पर लंबी दूरी तक चलाया जा सकता है.

Also Read: 46 लाख की इस इलेक्ट्रिक कार को अब मिलने लगे हैं खरीदार! हाइटेक फीचर्स ने सबको अपनी तरफ खींचा

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें