27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के बीच बीजेपी ने एक साथ कई नेताओं को पार्टी से निकाला

छत्तीसगढ़ बीजेपी से निष्कासित किए गए सबसे ज्यादा नेता बालोद जिले के हैं. इनमें खेदूराम साहू, भगवती साहू, मिथिलेश साहू और मुरली साहू शामिल हैं. इनके अलावा एक रायपुर शहर की नेता हैं और दूसरी सूरजपुर जिले की.

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव 2023 के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अपने कई नेताओं को पार्टी से निष्कासित कर दिया है. प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव ने इन्हें पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने की वजह से छह साल के लिए बीजेपी से निष्कासित किया है. प्रदेश महामंत्री एवं मुख्यालय प्रभारी केदार कश्यप ने यह आदेश जारी किया है. कश्यप ने कहा है कि यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू है. गुरुवार (9 नवंबर) को जिन छह नेताओं को बीजेपी ने निष्कासित किया है, उनमें तीन महिला हैं. कुछ लोगों को पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ने की वजह से पार्टी से निकाला गया है, तो कुछ को अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ प्रचार करने के आरोप में. निष्कासित किए गए सबसे ज्यादा नेता बालोद जिले के हैं. इनमें खेदूराम साहू, भगवती साहू, मिथिलेश साहू और मुरली साहू शामिल हैं. इनके अलावा एक रायपुर शहर की नेता हैं और दूसरी सूरजपुर जिले की. तीन महिलाएं बीजेपी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ने की वजह से पार्टी से निकालीं गईं हैं.

खेदूराम साहू पर पार्टी के खिलाफ प्रचार करने का आरोप

बालोद जिले के सहकारिता प्रकोष्ठ के जिला संयोजक खेदूराम साहू को पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ प्रचार-प्रसार करने के आरोप में निष्कासित किया गया है. कहा गया है कि आप संजारी बालोद क्षेत्र के अधिकृत प्रत्याशी के विरुद्ध प्रचार-प्रसार कर पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त हैं. यह गंभीर अनुशासनहीनता है. इसलिए बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव ने आपको पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से छह वर्षों के लिए निष्कासित कर दिया है.

भगवती साहू बीजेपी के खिलाफ लड़ रहीं हैं चुनाव

बालोद जिले की ही भगवती साहू को भी पार्टी ने निष्कासित कर दिया है. नगर पालिका परिषद बालोद की पूर्व पार्षद प्रत्याशी भगवती साहू संजारी बालोद के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ रहीं हैं. उनको भी पार्टी ने छह साल के लिए निष्कासित कर दिया है. मिथिलेश साहू पर पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ प्रचार-प्रसार करने का आरोप है. गुंडरदेही के मंडल मंत्री मुरली साहू बीजेपी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं. उनको भी पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है.

Also Read: छत्तीसगढ़ चुनाव के लिए बीजेपी ने झारखंड के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को बनाया स्टार प्रचारक

रामबाई देवांगन ने की बगावत

सूरजपुर जिला की महिला मोर्चा की उपाध्यक्ष रामबाई देवांगन बीजेपी के उम्मीदवार के खिलाफ भटगांव विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहीं हैं. इसलिए रामबाई को पार्टी से छह साल के लिए निकाल दिया गया है. रायपुर शहर की पूर्व जिला मंत्री सावित्री जगत ने भी पार्टी से बगावत कर दी है. वह रायपुर नगर उत्तर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहीं हैं. पार्टी ने उनके खिलाफ भी अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उनको बीजेपी से छह साल के लिए तत्काल प्रभाव से निष्कासित कर दिया है.

Also Read: खूबसूरती में बॉलीवुड की हीरोइनों को मात देतीं हैं छत्तीसगढ़ में चुनाव लड़ रही ये महिला बीजेपी नेता

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें