38.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Astrotips: मुझे सरकारी नौकरी मिलेगी या नहीं, कब तक होगी शादी, जन्मकुंडली से जानें ग्रह-नक्षत्रों की स्थिति

Astrotips: ज्योतिष शास्त्र में सभी प्रकार की समस्याओं का जिम्मेदार ग्रह-नक्षत्रों को बताया गया है, इसके साथ ही परेशानियों के निवारण के लिए उपाय भी बताए गए है. जिन्हें करने से जीवन की हर परेशानी दूर की जा सकती है.

Astrotips: ज्योतिष शास्त्र में कई ऐसे उपाय बताए गए हैं, जिन्हें करने से जीवन की हर परेशानी दूर की जा सकती है. ये उपाय करियर, नौकरी, व्यापार, पारिवारिक कलह सहित कई अन्य कार्यों में भी सफलता दिलाते हैं. नीचे दिए गए विभिन्न समस्याओं के निवारण के लिए आप एक बार ज्योतिषीय सलाह जरूर ले सकते है. यदि आपकी कोई ज्योतिषीय, आध्यात्मिक या गूढ़ जिज्ञासा हो, तो अपनी जन्म तिथि, जन्म समय व जन्म स्थान के साथ कम शब्दों में अपना प्रश्न radheshyam.kushwaha@prabhatkhabar.in या WhatsApp No- 8109683217 पर भेजें. सब्जेक्ट लाइन में ‘प्रभात खबर डिजीटल’ जरूर लिखें. चुनिंदा सवालों के जवाब प्रभात खबर डिजीटल के धर्म सेक्शन में प्रकाशित किये जाएंगे.

भविष्य में धन कमाएंगे या नहीं? : प्रशांत त्रिपाठी, प्रयागराज

आपका जन्म मेष लग्न में हुआ है. इस लग्न का अधिपती मंगल है. आपका राशि मिथुन है . आपका पुर्नवसु नक्षत्र के तीसरे चरण में जन्म हुआ है. आपके लग्नाधिपति मंगल छठे भाव में हैं. आपकी सेहत में सुधार हो सकता है, और आप शत्रुओं पर विजय प्राप्त करेंगे. आपके चतुर्थ भाव के स्वामी , चंद्र, तृतीय भाव में हैं. आप साहसी हैं और सेवा भावना भी अधिक होगी. आप अपनी मेहनत से धन कमाएंगे. आप स्वस्थ रहेंगे. वारसात में संपत्ति संबंधी समस्याएं हो सकती हैं या उसे खो सकते हैं. आपके पंचम भाव के स्वामी सूर्य चौथे भाव में हैं. आपको अपने घर और परिवार के प्रति अधिक आसक्ति होगी आप बुद्धिमान होंगे, धनवान होंगे.

उपाय: प्रतिदिन शिवलिंग पर जल, बिलपत्र और अक्षत (चावल) चढ़ाएं. शाम को किसी भी नजदीकी मंदिर में दीपक जलाएं.

धन हानि के कारण मैं दो तीन महीने से परेशान हूं? गौरव थप्पा आगरा

आपका मिथुन लग्न का जन्म है, इस लग्न का अधिपती बुध है. ये आपके कुंडली के तृतीय भाव में स्थित है. आपका राशि कुंभ है. आप धनिष्ठा नक्षत्र, तीसरे चरण मे पैदा हुए है. आपके लग्नाधिपति बुध तीसरे भाव में हैं. आपमें सिंह की तरह की शक्ति होगी , सम्पत्ति मिलेगी, समाज में सम्मान होगा. वैवाहिक जीवन सामान्य होगा. आप बुद्धिमान होंगे, और आनंदित जीवन जियेंगे. आपके सप्तम भाव के स्वामी, गुरु, दूसरे भाव में हैं. वैवाहिक जीवन में कठिनाइयां हो सकती हैं. आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी होगी.

उपाय- एक कटोरी में 5 लौंग, कपूर के कुछ टुकड़े और इलायची को जलाकर पूरे कमरे में घूमा कर रख दें.

मुझे सरकारी नौकरी मिलेगी या नहीं?: मदन नई दिल्ली

आपका राशि सिंह है. आपका जन्म कर्क लग्न में हुआ है. आपकी राशि के अनुसार शुक्र और गुरु शिक्षा का कारक होंगे. शुक्र प्राथमिक शिक्षा तथा गुरु उच्च शिक्षा का कारक है. देव गुरु और राक्षस गुरु शिक्षक हैं इसलिए आपको अच्छी शिक्षा मिलेगी. आप पढ़ाई में अच्छा करेंगे. प्राथमिक शिक्षा में आपकी अच्छी प्रतिष्ठा होगी. आपके लग्न का 10वां भाव मेष राशि में और छठा भाव धनु राशि में पड़ता है. ये दोनों भी अग्नि तत्व रस बन जाते हैं. आपकी जन्म लग्न कर्क है जो जल राशि है. जैसा कि आपके करियर में 10वें और 6वें घर को अग्नि के साथ जोड़ा गया है, आप व्यक्तिगत रूप से जितने शांत हैं, पेशेवर रूप से उतने ही अधिक प्रतिबद्ध हैं. अशांत मन से नहीं बल्कि दृढ़ संकल्प से कोई भी काम करें तो अच्छी सफलता मिलेगी. अच्छी नौकरी का योग है.

उपाय: घर में हनुमान जी की फोटो लगाएं और हर मंगलवार के दिन श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें.

Also Read: Astrotips: कुंडली में कब बनता है सरकारी नौकरी और धन लाभ का योग, ये ग्रह-भाव देता है सफल करियर का संकेत
मेरी शादी कब तक होगी?: कविता कुमारी रोहतास

आपका जन्म कर्क लग्न और मघा नक्षत्र के पहले चरण में हुआ है, इस लग्न का अधिपती चंद्र है. आपका राशि सिंह है. आपके सप्तम भाव के स्वामी, शनि, आठवें भाव में हैं. आपके जन्मपत्री में मंगल बारहवां भाव में हैं, इसलिए आपके जन्मपत्री में मंगल दोष है. वैवाहिक जीवन में परेशानियां हो सकती हैं. आपके स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव रहेगा. आप मानसिक तनाव में है. विवाह के मामले में कर्क, वृष, मीन और वृश्चिक लग्न में जन्म लेने वाले लोगों को सही जोड़ी मिलेगी. कुंभ, मिथुन और धनु लग्न के साथ उचित अनुकूलता नहीं है.

मंगल दोष के उपाय: आप लाल मिर्च, गुड़, लाल रंग के कपड़े, शहद, लाल रंग की मिठाई, मसूर की दाल आदि चीजों का दान करें.

मुझे नौकरी कब तक मिलेगी: मुकेश राजस्थान

आपका जन्म कर्क लग्न और रोहिणी नक्षत्र के चौथे चरण में हुआ है, इस लग्न का अधिपती चंद्र है. ये ग्यारहवां भाव में स्थित है. वहीं द्वितीय भाव सिंह राशि में आती है, इस घर का अधिपती सूर्य है. आपके लग्न का 10वां भाव मेष राशि में और छठा भाव धनु राशि में पड़ता है. आपके करियर में 10वें और 6वें घर को अग्नि के साथ जोड़ा गया है, आप व्यक्ति गत रूप से जितने शांत हैं, पेशेवर रूप से उतने ही अधिक प्रतिबद्ध हैं. करियर जो आपके लिए सबसे उपयुक्त हैं वे हैं रासायनिक क्षेत्र, वित्तीय क्षेत्र, शिक्षा क्षेत्र, कंप्यूटर क्षेत्र, सिंचाई वभाग, शिक्षण और कानूनी करियर जैसी पारंपरिक नौकरियां भी आपके लिए उपयुक्त हैं. अच्छी नौकरी का योग है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें