27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

भाजपा के अंदर विधायकों की भी नहीं सुनी जाती

प्रदेश भाजपा के अंदर विधायकों की भी बातें नहीं सुनी जातीं. किसी पदाधिकारी को कुछ बोलने पर कोई कार्रवाई नहीं होती है. ऐसा ही चलता रहा तो आने वाले दिनों में भाजपा के संगठन पर इसका व्यापक असर पड़ेगा. यह आरोप कार्शियांग के भाजपा विधायक विष्णु प्रसाद शर्मा ने पत्रकारों के समक्ष लगाया. श्री शर्मा पहले ही विद्रोह का बिगुल बजाते हुए लोकसभा चुनाव में पार्टी के उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़े थे. पार्टी के नेताओं के खिलाफ आवाज बुलंद करते हुए उन्होंने साफ कहा कि अगर उनके सच बोलने पर किसी को आपत्ति है, तो उनके खिलाफ कार्रवाई कर सकता है.

कोलकाता.

प्रदेश भाजपा के अंदर विधायकों की भी बातें नहीं सुनी जातीं. किसी पदाधिकारी को कुछ बोलने पर कोई कार्रवाई नहीं होती है. ऐसा ही चलता रहा तो आने वाले दिनों में भाजपा के संगठन पर इसका व्यापक असर पड़ेगा. यह आरोप कार्शियांग के भाजपा विधायक विष्णु प्रसाद शर्मा ने पत्रकारों के समक्ष लगाया. श्री शर्मा पहले ही विद्रोह का बिगुल बजाते हुए लोकसभा चुनाव में पार्टी के उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़े थे. पार्टी के नेताओं के खिलाफ आवाज बुलंद करते हुए उन्होंने साफ कहा कि अगर उनके सच बोलने पर किसी को आपत्ति है, तो उनके खिलाफ कार्रवाई कर सकता है.

विधायक विष्णु प्रासद शर्मा ने कहा कि वह कई बार अपनी समस्या व पार्टी के अंदर संगठन को मजबूत करने या फिर संगठन की कमियों के प्रति दिलीप घोष समेत प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार से बात की है. लेकिन कोई किसी की बात को सुनने के लिए तैयार नहीं है. नतीजतन संगठन दिन पर दिन कमजोर हो रहा है. मोदी लहर में कुछ लोग विधायक व सासंद बनकर खुद को नेता मानने लगे हैं. पार्टी की र्वचुअल बैठकों में भी केवल कुछ लोगों को ही बोलने का मौका दिया जाता है. यही वजह है कि इस बार भाजपा के मतों में तीन से चार फीसदी तक की गिरावट देखी गयी है. अगर यही ट्रेंड बरकरार रहा तो एक भी सीट भाजपा के खाते में नहीं आयेगी.

बगावती विष्णु प्रसाद शर्मा के आरोपों पर प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता शमिक भट्टाचार्य ने कहा कि वह पार्टी के अनुशासन को मानकर नहीं चल रहे हैं. रहा सवाल पार्टी के अंदर अनुशासन का तो अब तक का इतिहास यही रहा है कि जो लोग भाजपा से विद्रोह किये हैं, वे लोग विलुप्त हो गये हैं. यहां विद्रोह नहीं होता है. उनको अगर कुछ कहना है तो वह पार्टी के अंदर कह सकते हैं. इस पूरे प्रकरण पर सिलीगुड़ी से भाजपा के विधायक शंकर घोष ने कहा कि चुनाव के पहले से विष्णु शर्मा नाराज थे. बावजूद इसके पहाड़ के लोगों ने दार्जलिंग से भाजपा उम्मीदवार राजू बिष्ट जीते हैं. पहाड़ व समतल दोनों जगहों के लोगों ने उनको अपना आशीर्वाद दिया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें