1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. fire in plastic warehouse in canning street kolkata a fireman health deteriorates

कोलकाता के कैनिंग स्ट्रीट में प्लास्टिक गोदाम में लगी आग, एक दमकलकर्मी की बिगड़ी तबीयत

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal news : बड़ा बाजार स्थित कैनिंग स्ट्रीट के प्लास्टिक गोदाम में लगी आग को बुझाते दमकलकर्मी.
Bengal news : बड़ा बाजार स्थित कैनिंग स्ट्रीट के प्लास्टिक गोदाम में लगी आग को बुझाते दमकलकर्मी.
फोटो : प्रभात खबर.

Bengal news, Kolkata news : कोलकाता : महानगर के वाणिज्यिक स्थल कहलाने वाले बड़ाबाजार के एक इमारत में मौजूद प्लास्टिक गोदाम में रविवार (5 जुलाई, 2020) सुबह भयावह आग लग गयी. घटना कैनिंग स्ट्रीट स्थित इमारत के पहले तल में लगी. कुछ लोगों ने बताया कि आग ग्राउंड फ्लोर में मीटर बॉक्स में लगी थी, जो फैल कर अन्य फ्लोर में पहुंचते हुए गोदाम को चपेट में ले लिया.

यह आग कितनी भयावह थी, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इसे काबू करने के लिए दमकल की 7 गाड़ियों को करीब 2 घंटे तक मशक्कत करनी पड़ी. घटना में किसी के घायल होने की सूचना नहीं है. आग शुरुआत में कहां लगी, दमकलकर्मी इसका पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं. आग पर काबू पाने के दौरान एक दमकलकर्मी की तबीयत बिगड़ गयी. उन्हें स्थानीय अस्पताल ले जाना पड़ा.

जानकारी के मुताबिक, कैनिंग स्ट्रीट में मौजूद एक इमारत से अचानक काफी तेज धुआं निकलने लगा. जब तक इसकी जानकारी पाकर दमकलकर्मी आग बुझाने के लिए वहां पहुंचते, तब तक अंदर से आग की लपटें बाहर निकलने लगीं.

शुरुआत में खबर पाकर दमकल के 3 गाड़ियों को मौके पर भेजा गया, लेकिन आग इतनी तेजी से बढ़ती जा रही थी कि 4 और गाड़ियों को मौके पर भेजा गया. तब जाकर इमारत में चारों तरफ से पानी डालने के कारण आग पर काबू पाया जा सका. आग लगने के कारणों के बारे में पता नहीं चल सका है. आशंका जतायी जा रही है कि शाॅर्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी.

इस अग्निकांड के पीछे कुछ लोग साजिश का संदेह कर रहे हैं. इलाके के कुछ लोगों का आरोप है कि किसी बड़ी साजिश के तहत आग लगायी गयी है. उनका कहना है कि बड़ाबाजार में आम तौर पर शनिवार या रविवार को ही आग लगती है, क्योंकि इन दो दिन पूरा बाजार बंद रहता है, जिससे किसी को नुकसान ना पहुंचे. इसके कारण दमकल विभाग के साथ पुलिस को भी इस मामले में गहराई तक जाकर जांच करनी चाहिए.

Posted By : Samir ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें