1. home Home
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. mamata banerjee wins bhawanipur bypoll by 58835 votes tmc grabs jungipur and samsergang seat too mtj

भवानीपुर में 58,835 मतों से जीतीं ममता बनर्जी, जंगीपुर और शमशेरगंज भी तृणमूल की झोली में

ममता बनर्जी को 85263 (71.9 फीसदी) वोट मिले, जबकि प्रियंका टिबड़ेवाल को 26428 (22.29 प्रतिशत) वोटों से संतोष करना पड़ा. माकपा के श्रीजीब विश्वास को 4226 (3.56 प्रतिशत) मत मिले.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ममता बनर्जी ने भवानीपुर उपचुनाव बड़े अंतर से जीता
ममता बनर्जी ने भवानीपुर उपचुनाव बड़े अंतर से जीता
Prabhat Khabar

कोलकाता: मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हाइ-प्रोफाइल भवानीपुर सीट के उपचुनाव में शानदार जीत दर्ज की है. रविवार को घोषित नतीजे में उन्होंने अपने निकटत्तम प्रतिद्वंद्वी भाजपा की प्रियंका टिबड़ेवाल को 58,835 वोटों से शिकस्त दी.

ममता बनर्जी को कुल 85263 (71.9 फीसदी) वोट मिले, जबकि प्रियंका टिबड़ेवाल को 26428 (22.29 प्रतिशत) वोटों से संतोष करना पड़ा. माकपा के श्रीजीब विश्वास को उपचुनाव में कुल 4226 (3.56 प्रतिशत) मत मिले हैं. उधर,तृणमूल कांग्रेस ने मुर्शिदाबाद के जंगीपुर और शमशेरगंज सीट में भी जीत हासिल की है.

गौरतलब है कि इस साल मार्च-अप्रैल में राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को नंदीग्राम में भाजपा के शुभेंदु अधिकारी से हार का सामना करना पड़ा था. हालांकि उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस भारी बहुमत के साथ लगातार तीसरी बार सत्ता में वापसी की.

सुश्री बनर्जी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और उनके लिए छह महीने के अंदर विधानसभा का सदस्य होना जरूरी था. तृणमूल के शोभनदेव चट्टोपाध्याय के इस्तीफे से भवानीपुर सीट खाली हुई और उपचुनाव में ममता बनर्जी ने शानदार जीत दर्ज की है.

जंगीपुर से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार जाकिर हुसैन ने 92,480 मतों से जीत हासिल की. यहां जाकिर हुसैन को कुल 1,36,444 वोट मिले हैं. उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा को कुल 43,964 वोट मिले हैं, जबकि आरएसपी को मात्र 9067 वोट मिले हैं. शमशेरगंज से तृणमूल प्रत्याशी अमीरुल इस्लाम ने 26,379 मतों के अंतर से जीत दर्ज की है.

यहां तृणमूल को 96,417 वोट मिले है. उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस को 70,038 वोट मिले. बीजेपी को 10,800 वोट और सीपीआइएम को 6,158 वोट मिले. इस जीत के साथ तृणमूल ने उपचुनाव में तीनों सीटें जीत ली हैं. बता दें कि इन तीनों सीटों पर 30 सितंबर को मतदान हुआ था. इस उपचुनाव में जीत के बाद ममता बनर्जी का सीएम बने रहना तय है.

गौरतलब है कि मुर्शिदाबाद के जंगीपुर और शमशेरगंज में अलग-अलग पार्टियों के उम्मीदवारों का निधन हो गया था. जंगीपुर से तृणमूल कांग्रेस के प्रत्याशी जाकिर हुसैन, बीजेपी के प्रत्याशी सुजीत दास, आरएसपी के प्रत्याशी जेन आलम मियां थे, जबकि शमशेरगंज में तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार अमीरुल इस्लाम, कांग्रेस के प्रत्याशी जैदुर रहमान, माकपा के उम्मीदवार मोदेश्वर हुसैन और बीजेपी के उम्मीदवार मिलन घोष थे. उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने जंगीपुर और भवानीपुर से उम्मीदवार खड़ा नहीं किया था.

विधानसभा में तृणमूल विधायकों की संख्या हुई 215

इस साल हुए विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस ने राज्य की 294 सीटों में 213 सीटों पर जीत हासिल की थी. विधानसभा की तीन सीटों पर उपचुनाव में जीत दर्ज करने के बाद विधानसभा में तृणमूल विधायकों की संख्या बढ़कर 215 हो गयी है.

विधानसभा चुनाव में राज्य में भाजपा को 77 सीटें मिली थीं, लेकिन दिनहाटा और शांतिपुर से भाजपा विधायकों के इस्तीफे के बाद विधायकों की संख्या घटकर 75 रह गयी थी, लेकिन विधानसभा चुनाव के बाद लगातार भाजपा विधायकों पाला बदलने से विधानसभा में भाजपा सदस्यों की संख्या घटकर रह 70 गयी है.

विधानसभा चुनाव में तृणमूल को मिला था 57.71 वोट

इस साल विधानसभा चुनाव में भवानीपुर से तृणमूल कांग्रेस के शोभनदेव चट्टोपाध्याय ने जीत दर्ज की थी. शोभनदेव को कुल 73,505 वोट मिले थे. यह कुल वोट का 57.71 फीसदी था. वहीं बीजेपी की रुद्रानी घोष को 44,786 वोट मिले जो 35.16 फीसदी था. कांग्रेस का परफॉर्मेंस बेहद खराब रहा. उनके प्रत्याशी मो शादाब खान को मात्र 5,211 वोटों से ही संतोष करना पड़ा था. हालांकि, शोभनदेब ने ममता बनर्जी के लिए इस सीट से इस्तीफा दे दिया था और उनके इस्तीफे के कारण ही भवानीपुर में उपचुनाव कराया गया है.

2011 में ममता बनर्जी ने भवानीपुर से जीता था उपचुनाव

साल 2011 के विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी ने लेफ्ट का 34 साल पुराना किला ध्वस्त किया था. कांग्रेस के साथ अलायंस में तृणमूल ने 226 सीटें (तृणमूल 184, कांग्रेस 42) जीतते हुए वाममोर्चा का गढ़ अपने कब्जे में कर लिया था. भवानीपुर सीट से तृणमूल के सुब्रत बख्शी जीते थे. उन्हें 87903 (64.77 फीसदी वोट) और सीपीएम के हारे प्रत्याशी नारायण प्रसाद जैन को 37967 वोट हासिल हुए. सुब्रत बक्शी ने 49,936 वोटों (कुल वैध मतों का 36.79 फीसदी) से चुनाव जीता.

उपचुनाव में ममता बनर्जी को मिली थी बड़ी जीत

वर्ष 2011 के उपचुनाव में ममता बनर्जी ने 77.46 फीसदी वोटों के साथ सीपीएम की नंदिनी मुखर्जी को करीब 95 हजार वोटों से शिकस्त दी. यानी ममता बनर्जी ने 12.69 प्रतिशत ज्यादा मत हासिल की थी, लेकिन इसके 5 साल बाद 2016 के विधानसभा चुनाव पर नजर डालें तो ममता बनर्जी की जीत का अंतर बहुत कम हो गया.

ममता बनर्जी को 65,520 वोट मिले थे. यानी 2011 में जितना उनकी जीत का अंतर था उससे भी 30 हजार कम वोट उन्हें मिले थे. कांग्रेस की दीपा दास मुंशी को 40,219 वोट हासिल हुए. इस बार दीदी ने 25,301 वोटों से जीत दर्ज की लेकिन 2011 के मुकाबले उन्हें 29.79 फीसदी कम (47.67 प्रतिशत) वोट मिले.

बीजेपी के चंद्र कुमार बोस को इस चुनाव में 26,291 वोट मिले थे. इस बार भवानीपुर सीट के उपचुनाव में 1,18,580 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया यानी 57.09 प्रतिशत मतदान हुआ. सुश्री बनर्जी को करीब 71.90 प्रतिशति वोट मिले, जबकि भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबड़ेवाल को 22.29 प्रतिशत वोट मिले.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें